News Nation Logo
Banner

क्या अमित शाह सो रहे थे जो 30 हजार रोहिंग्या रजिस्टर्ड हो गए- असदुद्दीन ओवैसी

एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने भारतीय जनता पार्टी पर नफरत फैलाने का आरोप लगाया है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 24 Nov 2020, 07:33:11 AM
Asaduddin Owaisi

क्या अमित शाह सो रहे थे जो 30 हजार रोहिंग्या रजिस्टर्ड हो गए- ओवैसी (Photo Credit: ANI)

हैदराबाद:

एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने भारतीय जनता पार्टी पर नफरत फैलाने का आरोप लगाया है. रोहिंग्याओं को लेकर बीजेपी सांसद तेजस्वी सूर्या के बयान पर पलटवार करते हुए ओवैसी ने कहा कि अगर चुनावी सूची में 30,000 रोहिंग्या हैं, तो गृह मंत्री अमित शाह क्या कर रहे हैं, क्या वह सो रहे हैं. साथ ही एआईएमआईएम प्रमुख ने बीजेपी को 1000 रोहिंग्याओं के नाम बताने करने की चुनौती दी है.

यह भी पढ़ें: उद्धव सरकार का आदेश, बिना कोरोना निगेटिव टेस्ट के कोई भी यात्री महाराष्ट्र में नहीं कर सकता एंट्री 

हैदराबाद से सांसद और एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, 'अगर चुनावी सूची में 30,000 रोहिंग्या हैं, तो गृह मंत्री अमित शाह क्या कर रहे हैं? वह सो रहे हैं? क्या यह देखना उनका काम नहीं है कि 30-40 हजार रोहिंग्या कैसे सूचीबद्ध हैं? अगर बीजेपी ईमानदार है, तो उसे कल (मंगलवार) शाम तक 1000 ऐसे नाम बताने चाहिए.'

हैदराबाद में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए ओवैसी ने कहा, 'उनका (बीजेपी) इरादा नफरत पैदा करना है. यह लड़ाई हैदराबाद और भाग्यनगर के बीच है. अब यह तय करना आपकी जिम्मेदारी है कि कौन जीतेगा.'

यह भी पढ़ें: लव जिहाद: SIT ने सौंपी जांच रिपोर्ट, 14 में से 11 मामलों में हिंदू लड़कियों से धोखा 

दरअसल, सोमवार को हैदराबाद में चुनावी सभा के दौरान बीजेपी सांसद तेजस्वी सूर्या ने कहा था, 'इनको (ओवैसी) दिया गया हर वोट भारत के खिलाफ है. इनके पुराने हैदराबाद के इलाके में अभी तक विकास हो नहीं हुआ. ये लोग विकास की बात करते हैं, लेकिन इनके मुंह से विकास की बात सुन हंसी आ जाती है. इन लोगों को विकास की जगह रोहिंग्या पसंद है.'

बता दें कि ग्रेटर हैदराबाद में नगर निगम के चुनाव होने वाले हैं, जिसको लेकर राजनीतिक माहौल गरमाया हुआ है. 150 सदस्यीय जीएचएमसी के लिए चुनाव 1 दिसंबर को होने हैं. यहां बीजेपी अपना जनाधार बढ़ाना चाहती है. जबकि TRS के सामने अपना वर्चस्व बचाने की चुनौती है. ओवैसी की पार्टी AIMIM ने विधानसभा चुनाव में TRS के साथ चुनाव लड़ा था, मगर नगर निगन चुनाव में यह दोनों पार्टियां अलग-अलग चुनाव लड़ रही हैं.

First Published : 24 Nov 2020, 07:33:11 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.