News Nation Logo
Banner

सुप्रीम कोर्ट आज राजस्थान में बसपा विधायकों के कांग्रेस में विलय पर करेगा सुनवाई

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के 6 विधायकों के कांग्रेस में विलय के मामले में बसपा और बीजेपी विधायक मदन दिलावर की राजस्थान हाईकोर्ट के आदेश के खिलाफ अपीलों पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 07 Jan 2021, 09:00:23 AM
Supreme Court

SC में आज राजस्थान में बसपा विधायकों के कांग्रेस में विलय पर सुनवाई (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली/जयपुर:

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के 6 विधायकों के कांग्रेस में विलय के मामले में बसपा और बीजेपी विधायक मदन दिलावर की राजस्थान हाईकोर्ट के आदेश के खिलाफ अपीलों पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी. राजस्थान हाईकोर्ट ने विधानसभा अध्यक्ष से कांग्रेस में बसपा विधायकों के विलय के खिलाफ दायर अयोग्यता याचिका पर 3 महीने में निर्णय लेने को कहा था. इस आदेश को बीजेपी विधायक दिलावर और बसपा ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है.

यह भी पढ़ें: थरूर ने की रिपब्लिक डे परेड रद्द करने की मांग, पात्रा बोले- राहुल ने अपना 'जश्न' क्यों कैंसिल नहीं किया 

इससे पहले 24 अगस्त 2020 को बहुजन संमाज पार्टी (बसपा) के छह विधायकों के कांग्रेस के साथ विलय की याचिका पर सुनवाई करते हुए, राजस्थान हाईकोर्ट ने विधानसभा स्पीकर सी.पी. जोशी को मामले पर तीन महीने में निर्णय लेने के लिए कहा था. अदालत ने जोशी से बसपा विधायकों के विलय के विरुद्ध बीजेपी विधायक मदन दिलावर की रिट याचिका पर निर्णय लेने के लिए कहा था. न्यायमूर्ति महेंद्र कुमार गोयल की एकल पीठ ने दिलावर की ओर से दाखिल रिट याचिका का निपटारा करते हुए उन्हें भी विधानसभा स्पीकर से संपर्क करने के लिए कहा था.

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री मोदी आज 1.5 किमी लंबी मालगाड़ी को दिखाएंगे हरी झंडी, जानिए इसकी खासियत 

दिलावर ने राजस्थान हाईकोर्ट में रिट याचिका दाखिल करके छह बसपा विधायकों- जोगेंद्र अवाना, संदीप यादव, वाजिब अली, दीपचंद खेरिया, लखन मीना और राजेंद्र गुढ़ा के कांग्रेस में विलय को चुनौती दी थी और स्पीकर की ओर से पारित आदेश पर अमल करने पर रोक लगाने की मांग की थी. इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने भी विधानसभा अध्यक्ष के आदेश पर रोक लगाने के लिए बीजेपी विधायक दिलावर की याचिका को निरर्थक बताते हुए उसका निस्तारण किया था, क्योंकि हाईकोर्ट ने इसी मुद्दे पर अपना आदेश पारित कर दिया था.

First Published : 07 Jan 2021, 09:00:23 AM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.