News Nation Logo
Banner

प्रधानमंत्री मोदी आज 1.5 किमी लंबी मालगाड़ी को दिखाएंगे हरी झंडी, जानिए इसकी खासियत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रंट कॉरिडोर (डब्ल्यूडीएफसी) के रेवाड़ी-मदार खंड का उद्घाटन करने जा रहे हैं. पीएम मोदी सुबह 11 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इसका उद्घाटन करेंगे.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 07 Jan 2021, 08:19:47 AM
PM Narendra Modi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रंट कॉरिडोर (डब्ल्यूडीएफसी) के रेवाड़ी-मदार खंड का उद्घाटन करने जा रहे हैं. पीएम मोदी सुबह 11 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इसका उद्घाटन करेंगे. इसके साथ ही प्रधानमंत्री मोदी इलेक्ट्रिक ट्रैक्शन से चलने वाली दुनिया की पहली डबल स्टैक लॉन्ग हॉल कंटेनर ट्रेन को भी हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे. यह ट्रेन 1.5 किलोमीटर लंबी है. इस कार्यक्रम में केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल के साथ साथ राजस्थान और हरियाणा के मुख्यमंत्री मौजूद रहेंगे.

यह भी पढ़ें: बर्ड फ्लू से निपटने केंद्र सरकार ने दी ये सलाह, जानें किस राज्य में क्‍या है तैयारी

प्रधानमंत्री मोदी ने कार्यक्रम के बारे ट्विटर पर जानकारी दी है. उन्होंने ट्वीट किया, 'इलेक्ट्रिक ट्रैक्शन से चलने वाली 1.5 किमी लंबी दुनिया की पहली डबल स्टैक लॉन्ग हॉल कंटेनर ट्रेन को गुरुवार (आज) को झंडी दिखाई जाएगी. यह फिर से आर्थिक गतिविधियों को लाभान्वित करेगा और कई नागरिकों के लिए समृद्धि सुनिश्चित करेगा.' मोदी ने अगले ट्वीट में लिखा, 'भारत के विकास के लिए अगली पीढ़ी के इन्फ्रा पर निरंतर ध्यान केंद्रित करना है. 7 जनवरी को सुबह 11 बजे वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर (डब्ल्यूडीएफसी) का रेवाड़ी-मदार खंड राष्ट्र को समर्पित किया जाएगा. इससे स्थानीय उद्योग और कनेक्टिविटी को फायदा होगा.'

यह भी पढ़ें: LIVE: कृषि कानूनों के विरोध में आज किसान करेंगे ट्रैक्टर मार्च 

डब्ल्यूडीएफसी का न्यू रेवाड़ी-न्यू मदार खंड

पश्चिमी समर्पित मालवहन गलियारे (वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर) का न्यू रेवाड़ी-न्यू मदार खंड हरियाणा (महेंद्रगढ़ और रेवाड़ी जिलों में लगभग 79 किलोमीटर) और राजस्थान (जयपुर, अजमेर, सीकर, नागौर और अलवर जिलों मेंलगभग 227 किलोमीटर) में स्थित है. इसमें नौ नवनिर्मित डीएफसी स्टेशन शामिल हैं, जिनमें से छह- न्यू डबला, न्यू भगेगा, न्यू श्री माधोपुर, न्यू पचार मलिकपुर, न्यू सकून और न्यू किशनगढ़-क्रॉसिंग स्टेशन हैं, जबकि अन्य तीन- रेवाड़ी, न्यू अटेली और न्यू फुलेरा- जंक्शन स्टेशन हैं.

25 टन का बढ़ा हुआ एक्सल होगा लोड

डबल स्टैक लॉन्ग हॉल कंटेनर ट्रेन के परिचालन में 25 टन का बढ़ा हुआ एक्सल लोड होगा. इसे डीएफसीसीआईएल के लिए आरडीएसओ के वैगन विभाग द्वारा डिज़ाइन किया गया है. बीएलसीएस–ए और बीएलसीएस–बीवैगनों की प्रतिकृति के परिचालन के परीक्षण पूरे हो चुके हैं. यह डिजाइन क्षमता उपयोग और एक समान वितरित एवंस्थलवारलदान (पॉइंट लोडिंग) को अधिकतम स्तर पर ले जाएगा. कंटेनर इकाइयों के लिहाज सेडब्ल्यूडीएफसी पर एक लॉन्ग हॉल डबल स्टैक कंटेनर ट्रेन में जुड़े ये वैगनभारतीय रेलवे की वर्तमान क्षमता की तुलना में चार गुना अधिक कंटेनर इकाइयों को ढो सकते हैं.

यह भी पढ़ें: 8 फरवरी तक स्वीकार नहीं किए बदलाव तो बंद हो जाएगा Whatsapp अकाउंट

डीएफसीसीआईएल भारतीय रेलवे की पटरियों पर 75 किलोमीटर प्रति घंटे की मौजूदा अधिकतम गति के मुकाबले 100 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम गति से मालगाड़ियां चलाएगा. वहीं भारतीय रेलवे की लाइनों पर मालगाड़ियों की 26 किलोमीटर प्रति घंटे की मौजूदा औसत गति को बढ़ाकर डीएफसी पर 70 किलोमीटर प्रति घंटा भी किया जाएगा.

First Published : 07 Jan 2021, 08:16:45 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.