News Nation Logo
Banner

अलवर में नाबालिग लड़की को मारी गोली, प्रियंका-राहुल अब भी चुप?

राजस्थान में हो रहे अपराध पर कांग्रेस चुप है. प्रियंका गांधी वाड्रा और राहुल गांधी चुप हैं. यहीं कांग्रेस नेता जब उत्तर प्रदेश में कोई अपराध होता है तो योगी सरकार पर हमला बोल देते हैं. पीड़ित परिवार से मिलने के लिए कूच कर देते हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 11 Oct 2020, 10:00:33 AM
minor girl murder in alwar rahul gandhi priyanka silent

अलवर में लड़की की हत्या पर कांग्रेस अब भी चुप (Photo Credit: न्यूज नेशन )

अलवर:

राजस्थान में महिलाओं पर अत्याचार सबसे ज्यादा होता है. महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामले में राजस्थान देश का पहला राज्य है. ताजा मामला अलवर के मालाखेड़ा थाना क्षेत्र के खारेड़ा गांव का है. यहां एक नाबालिक लड़की की गोली मारकर हत्या कर दी गई. बालिका दुकान पर घर का सामान खरीदने गई थी. सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर उसका पोस्टमार्टम करवाकर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. वहीं, हत्यारे अभी भी फरार है. 

यह भी पढ़ें : चंद्रबाबू संग आंध्र प्रदेश में सरकार गिराने में लगे SC के जज, CM जगनमोहन रेड्डी के गंभीर आरोप

वहीं, राजस्थान में हो रहे अपराध पर कांग्रेस चुप है. प्रियंका गांधी वाड्रा और राहुल गांधी चुप हैं. यहीं कांग्रेस नेता जब उत्तर प्रदेश में कोई अपराध होता है तो योगी सरकार पर हमला बोल देते हैं. पीड़ित परिवार से मिलने के लिए कूच कर देते हैं, लेकिन जब बात अपने पार्टी की सरकार वाले राज्य में अपराध की आती है. तो मौन साध लेते हैं. एक शब्द नहीं निकलता. वहीं, राजस्थान से सीएम अशोक गहलोत यूपी में अपराध पर योगी सरकार पर निशाना साधते हैं, लेकिन अब खुद के प्रदेश में आए दिन हत्याएं, बलात्कार, महिलाओं के खिलाफ अत्याचार हो रहा है. वह चुप हैं. 

यह भी पढ़ें : जन्मदिन पर अमिताभ बच्चन ने शेयर की पोस्ट, सोशल मीडिया में मची सनसनी

कांग्रेस को केवल उत्तर प्रदेश में हो रहे अपराध जंगल राज दिखाई देता है. राजस्थान की बात आती है तो यहां हो रहे अपराध पर मौन क्यों हो जाते हैं. क्या राजस्थान में उनकी पार्टी सरकार है. इसलिए यहां उनको सियासत करने का मौका नहीं मिलेगा. कांग्रेस के नेताओं को राजस्थान के अलवर के मालाखेड़ा थाना क्षेत्र की इस वारदात को संज्ञान में लेना चाहिए. यहां भी कांग्रेस नेताओं को पीड़ित परिवार से संवेदना जतानी चाहिए.

यह भी पढ़ें : कांग्रेस ने लालू और राबड़ी के राज की पालकी ढोई है : सुशील मोदी

दरअसल, खारेडा के रहने वाले रज्जू उर्फ रूजदार ने पुलिस में केस दर्ज कराया है कि उसकी बेटी खुशी उम्र करीब 13 साल दुकान पर सामान लेने गई थी, जहां पर कमरू की दुकान पर उसके दो लड़के महबूब और अंसार बैठे हुए थे मेरी लड़की ने घरेलू सामान मांगा इस पर कमरू के पुत्र अंसार ने गोली चला दी. कट्टे से गोली चलाने पर लड़की के बाएं आंख में गोली अंदर फिर से पार होती हुई बाहर निकल गई. जहां मौके पर ही खुशी की मौत हो गई. पुलिस ने मामला दर्ज कर शव का पोस्टमार्टम किया है और शव परिजनों को सौंप दिया. 

 

First Published : 11 Oct 2020, 09:06:55 AM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो