News Nation Logo
Banner

पंजाब: नवजोत सिंह सिद्धू के एडवाइजर ने फिर कराई फजीहत, किया यह काम

पंजाब कांग्रेस के मुखिया और पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के सलाहकार मलविंदर सिंह माली (Malvinder Singh Mali) ने एक बार फिर बड़ा विवाद खड़ा कर दिया है

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 22 Aug 2021, 08:41:46 PM
Navjot Singh Sidhu

Navjot Singh Sidhu (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली:

पंजाब कांग्रेस के मुखिया और पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के सलाहकार मलविंदर सिंह माली (Malvinder Singh Mali) ने एक बार फिर बड़ा विवाद खड़ा कर दिया है. माली ने सोशल मीडिया पर देश की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) को लेकर एक पोस्ट शेयर किया है, जो विवादित है. दरअसल, फेसबुक पोस्ट में शेयर इंदिरा गांधी का स्केच बनाया गया है. इंदिरा गांधी इस स्केच में मानव खोपड़ी के ढेर के पास खड़ी हैं. यही नहीं उन्होंने एक हाथ में बंदूक भी पकड़ी हुई है. बंदूक की नली पर भी मानव खोपड़ी टंगी हुई है.

यह भी पढ़ें : अफगानिस्तान से दिल्ली लौटे भारतीयों ने बयां किया वहां का हाल, जानें कैसा है मंजर?

इससे पहले पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कश्मीर और पाकिस्तान जैसे मुद्दों पर नवजोत सिद्धू के दो सलाहकारों के हालिया बयानों पर रविवार को कड़ी आपत्ति जताते हुए इस तरह की नृशंस और गलत सोच वाली टिप्पणियों के खिलाफ चेतावनी दी, जो 'राज्य और देश की स्थिरता व शांति' के लिए संभावित रूप से खतरनाक हैं. उन्होंने सिद्धू से अपने सलाहकारों पर लगाम लगाने का आग्रह किया, इससे पहले कि वे भारत के हितों को और अधिक नुकसान पहुंचाएं और सलाहकारों से कहा, "उन मामलों पर न बोलें जिनके बारे में उन्हें स्पष्ट रूप से कम या कोई जानकारी नहीं है और उनकी टिप्पणियों के निहितार्थ की समझ नहीं है."

यह भी पढ़ें : कल्याण सिंह के नाम PM मोदी का अंतिम संदेश, Twitter पर लिखी यह बात

सिद्धू के सलाहकार प्यारे लाल गर्ग ने पाकिस्तान की अमरिंदर सिंह द्वारा की गई आलोचना पर सवाल उठाया था. साथ ही, कश्मीर पर मलविंदर सिंह माली के पहले के विवादास्पद बयान पर सवाल उठाने वाली कथित टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए, उन्होंने उनके 'असाधारण बयानों' पर आश्चर्य व्यक्त किया. मुख्यमंत्री ने जोर देकर कहा, "कश्मीर भारत का एक अविभाज्य हिस्सा था और है." इसके विपरीत, माली ने प्रभावी ढंग से और बेवजह इस्लामाबाद की लाइन का पालन किया. उन्होंने न केवल अन्य दलों से, बल्कि कांग्रेस के भीतर से भी व्यापक निंदा के बावजूद अपना बयान वापस लेने में विफल रहने के लिए माली की आलोचना की.

 

First Published : 22 Aug 2021, 08:38:46 PM

For all the Latest States News, Punjab News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.