News Nation Logo
Banner

नवजोत सिद्धू कांग्रेस आलाकमान के दरबार में, इधर कैप्टन अमरिंदर ने चल दी अपनी ये चाल

पंजाब कांग्रेस के अंदर मची कलह को कई दिन बीत चुके हैं, हर नए दिन सियासी अटकलें बल खा रही हैं. पंजाब कांग्रेस में खिलाड़ी बनाम कैप्टन की लड़ाई है, जो पार्टी आलाकमान के लिए गले की फांस बन गई है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 01 Jul 2021, 07:53:09 AM
Navjot Sidhu and Amarinder Singh

सिद्धू कांग्रेस आलाकमान के दरबार में, इधर कैप्टन ने खेल दिया अपना ये द (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • पंजाब कांग्रेस के अंदर घमासान जारी
  • कैप्टन और सिद्धू में वर्चस्व की लड़ाई
  • विवाद निपटाने में लगा पार्टी हाईकमान

नई दिल्ली/चंडीगढ़:  

पंजाब कांग्रेस के अंदर मची कलह को कई दिन बीत चुके हैं, हर नए दिन सियासी अटकलें बल खा रही हैं. पंजाब कांग्रेस में खिलाड़ी बनाम कैप्टन की लड़ाई है, जो पार्टी आलाकमान के लिए गले की फांस बन गई है. बीते एक पखवाड़े से ज्यादा वक्त से पंजाब से लेकर दिल्ली तक बैठकों का दौर जारी है, मगर विवाद सुलझना रहा है या यह और उलझ रहा है, इस बारे में स्पष्ट रूप से कहा कुछ नहीं जा सकता है, क्योंकि दिल्ली में नवजोत सिंह सिद्धू पार्टी आलाकमान के दरबार में हैं तो दूसरी ओर चंडीगढ़ में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी बैठकों का दौर शुरू कर दिया है. ऐसे में यही कहा जा रहा है कि पंजाब कांग्रेस के अंदर विवाद सुलझने की ओर है. मगर अमरिंदर की बैठक के बाद इसका दूसरा पहलू कुछ और संकेत दे रहा है.

यह भी पढ़ें : मोदी कैबिनेट से खराब प्रदर्शन वाले कई मंत्रियों की होगी छु्ट्टी! इन नए चेहरों को मिलेगी जगह 

दिल्ली के दरबार में नवजोत सिद्धू की मौजूदगी के बाद कैप्टन ने अब अपना दांव खेल दिया है. मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने आज अपने समर्थक नेताओं और विधायकों को चंडीगढ़ में फॉर्म हाउस पर लंच के लिए बुलाया है. जिसके राजनीतिक मायने यह निकाले जा रहे हैं कि लंच डिप्लोमेसी के तहत कैप्टन अमरिंदर सिंह ये आकलन करने की कोशिश कर रहे हैं कि अगर सिद्धू को कोई बड़ी जिम्मेदारी पार्टी आलाकमान देता है तो ऐसे में उनके साथ कौन-कौन नेता खड़े हो सकते हैं. सूत्र कहते हैं कि कैप्टन अमरिंदर सिंह पंजाब सरकार में सिद्धू को कोई बड़ी जिम्मेदारी देने के पक्ष में नहीं और अब पार्टी के अंदर कांग्रेस आलाकमान द्वारा सिद्धू को कोई अहम पद मिले, ये भी कैप्टन नहीं चाहते हैं.

मगर बुधवार की मुलाकात के बाद यह सामने आया है कि कांग्रेस आलाकमान जल्द ही सिद्धू को पार्टी में कोई बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है. बुधवार को जिस तरह उन्होंने प्रियंका गांधी और राहुल गांधी से मुलाकात की, उससे लग रहा है कि कांग्रेस आलाकमान ने सिद्धू को मना लिया है. साथ में सिद्धू और अमरिंदर के बीच विवाद को खत्म करने के लिए कोई फॉर्मूला तैयार करने में कामयाब रहे हैं. सूत्र कहते हैं कि प्रियंका से मुलाकात के बाद सिद्धू उनके बताए फॉर्मूले पर राजी हो गए हैं.  कांग्रेस सिद्धू को दी जाने वाली अहम जिम्मेदारी को लेकर अगले 48 घंटे के अंदर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सकती है.

यह भी पढ़ें : सरकार की EU को दो टूक, वैक्सीन पर नहीं मानें तो नागरिक होंगे क्वारंटीन

गौरतलब है कि खिलाड़ी नवजोत सिंह सिद्धू ने कुछ नेताओं के साथ मिलकर कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है. महीनेभर से ज्यादा वक्त से दोनों के बीच रस्साकसी जारी है. इस बीच नवजोत सिद्धू ने बुधवार को दिल्ली में प्रियंका गांधी से मुलाकात की. मीटिंग की जानकारी तो सामने नहीं आई, मगर इस दौरान सामने आई सिद्धू और प्रियंका की तस्वीर ने बहुत कुछ साफ कर दिया, जो सिद्धू की मुस्कान से छलक भी रहा था. बाद में प्रियंका गांधी शाम ढलने पर सिद्धू को राहुल गांधी के आवास भी ले आई. सिद्धू करीब 1 घंटे राहुल गांधी के आवास पर रुके. जिसके बाद ऐसा माना जा रहा है कि सिद्धू को प्रियंका गांधी ने मना लिया है.

माना जा रहा है कि कांग्रेस प्रमुख सिद्धू को संतुष्ट करने की कोशिश में हैं, वह अमरिंदर के खिलाफ आवाज उठाने की वजह से पंजाब कांग्रेस में तनाव की वजह जरूर बन चुके हैं, लेकिन पार्टी उन्हें दरकिनार नहीं करना चाहती. इसलिए बुधवार को दिन भर सिद्धू को लेकर कांग्रेस आलाकमान के साथ दिनभर बैठकों का दौर चला. उम्मीद है कि जिस तरह लंबी बैठकें हुई हैं अमरिंदर और सिद्धू विवाद में कोई हल निकले, क्योंकि अगले साल राज्य में चुनाव है, जैसे पहले कांग्रेस आलाकमान कोई विवाद बाकी नहीं रखना चाहता.

First Published : 01 Jul 2021, 07:53:09 AM

For all the Latest States News, Punjab News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.