News Nation Logo

Coronavirus: चिंता बढ़ा रही लोगों की लापरवाही, अब लोनावाला में दिखी पर्यटकों की भीड़

पुणे के लोनावाला का एक ऐसा वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें सैलानियों को कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ाते हए देखा जा सकता है.

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 10 Jul 2021, 08:18:34 PM
Tourist visit Lonavala

Tourist visit Lonavala (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली:

कोरोना महामारी की वजह से जहां लोखों घरों के चिराग बुझ गए और न जानें कितने लोगों ने अपने निकटजनों को खो दिया. बावजूद इसके लोगों में कोरोना संक्रमण को लेकर जरा भी गंभीरता दिखाई नहीं दे रही है. ऐसा तो तब है जब सरकार और विश्व स्वास्थ्य संगठन ( WHO ) ने यह साफ कर दिया है कि कोरोना वायरस की दूसरी लहर ( Second wave of coronavirus) अभी खत्म नहीं हुई है, बस इसकी रफ्तार धीमी पड़ी है. इसके साथ ही देश में कोरोना वायरस की तीसरी लहर (Third wave of coronavirus)  का खतरा भी मंडरा रहा है, बावजूद इसके लोग बेहद लापरवाही का परिचय दे रहे हैं. एक ऐसा ही मामला महाराष्ट्र (Maharashtra) के पुणे से सामना आया है. यहां लोनावाला का एक ऐसा वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें सैलानियों को कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ाते हए देखा जा सकता है.

यह भी पढ़ें : 'सामाजिक मूल्यों पर आघात हो रहा है, संस्कृति को चोट पहुंचाई जा रही, यह सरकार को समझना होगा'

लिस की तैनाती की गई

आलम यह है कि यहां सैलानियों को नियंत्रित करने के लिए पुलिस की तैनाती की गई है. बावजूद ऐसे लोग पुलिस-प्रशासन के लिए चिंता का विषय बने हुए हैं. यहां भारी संख्या में पहुंचे अपने परिवार के साथ पहुंचे लोगों के चेहरे पर न तो मास्क देखने को मिल रहा है और न ही वो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं. कोरोना केसों में आई कमी के चलते प्रतिबंधों में दी गई छूट का ही नतीजा है कि लोग कोरोना संक्र मण को लेकर बिल्कुल लापरवाह हो गए हैं. यही वजह है कि लोगों की यह लापरवाही कोरोना की तीसरी लहर को जन्म दे सकती है.  वैज्ञानिकों की मानें तो कोरोना की तीसरी लहर अक्टूबर-नवंबर में पीक पर हो सकती है.

यह भी पढ़ें : जॉर्जिया पहुंचे जयशंकर का भव्य स्वागत, इन अहम मुद्दों पर हुई चर्चा

WHO ने कोरोना संक्रमण को लेकर एक बार फिर चेतावनी दी

गौरतलब है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने ने कोरोना संक्रमण को लेकर एक बार फिर चेतावनी दी है. डब्ल्यूएचओ की मुख्य वैज्ञानिक  सौम्या स्वामीनाथन उन्होंने कहा कि दुनिया के ज्यादातर देशों में एक बार फिर कोरोना संकट बढ़ रहा है. जिससे पता चलता है कि कोरोना महामारी अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुई है. ब् लूमबर्ग टीवी के साथ एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के लगभग 50 हजार नए केस मिले हैं. इसके साथ ही करीब 9300 से लोगों की जान भी गई हैं. इससे पता चलता है कि कोरोना महामारी की स्पीड अभी कम नहीं हुई है. इसके साथ ही स्वास्थ्य ढंाचा भी अभी दुरुस्त नहीं हो सका है. ऑक्सीजन की कमी अभी भी बरकरार है. हॉस्पिटलों में बेड्स की उपलब्धता जरूरत से बहुत कम है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 10 Jul 2021, 08:08:02 PM

For all the Latest States News, Maharashtra News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.