News Nation Logo
Banner

PDP नेता का दावा: महबूबा मुफ्ती घर में नजरबंद, पुलिस ने दरवाजे पर लगाया ताला

पीडीपी (PDP) नेता ने दावा किया कि पार्टी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) को सोमवार को हाउस अरेस्ट कर लिया गया. उसने आगे दावा किया कि पुलिस ने दरवाजे पर ताला लगाया है.

News Nation Bureau | Edited By : Satyam Dubey | Updated on: 01 Nov 2021, 05:57:36 PM
Mehbooba Mufti

Mehbooba Mufti (Photo Credit: NewsNation)

नई दिल्ली:  

महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) की पार्टी PDP के एक नेता ने दावा किया है कि पार्टी की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती को सोमवार एक अक्टूबर को नजरबंद  (House Arrest) कर दिया गया है. पीडीपी नेता ने आगे दावा किया कि पार्टी की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती को इसलिए नजरबंद किया गया है कि वह पिछले हफ्ते सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच गोलीबारी में मारे गए एक युवक के परिवार से मिलने के लिए अनंतनाग (Anantnag) न जा पायें. PDP नेता ने दावा किया कि पुलिस ने महबूबा के घर के मुख्य द्वार पर ताला लगा दिया है.

यह भी पढ़ें: Advocate General एपीएस देओल ने दिया इस्तीफा, सिद्धू ने उठाए थे सवाल

आपको बता दें कि एक पुलिस अधिकारी ने जानकारी देते हुए कहा कि सुरक्षा कारणों से पीडीपी प्रमुख को अनंतनाग जाने की अनुमति नहीं दी गई. पुलिस ने आगे बताया कि 24 अक्टूबर को शोपियां जिले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के जवानों और आतंकवादियों के बीच गोलीबारी में शाहिद अहमद की मौत हो गई थी. पीडीपी नेता ने दावा किया कि महबूबा को यहां शहर के गुपकार इलाके में उनके फेयरव्यू आवास में नजरबंद कर दिया गया और उन्हें बाहर नहीं जाने दिया गया.

आपको बता दें कि महबूबा मुफ्ती दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले में मारे गए युवक शाहिद अहमद के परिवार से मिलने जाने वाली थी. पीडीपी नेता ने कहा कि महबूबा शोक संतप्त परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करना चाहती थीं, लेकिन उन्हें अपने आवास से बाहर नहीं निकलने दिया गया.

यह भी पढ़ें: नीतीश कुमार ने बताया कोरोना केसों में उछाल का असल कारण, आप भी जानिए

पीडीपी नेता ने बताया कि पुलिस ने महबूबा के घर के मुख्य द्वार पर ताला लगा दिया है. किसी भी तरह की आवाजाही पर रोक लगा दी गई है. उनके घर के बाहर एक पुलिस वाहन तैनात किया गया है. आपको बता दें कि अहमद की मौत पर घाटी में मुख्यधारा के राजनीतिक दलों ने कड़ी प्रतिक्रिया दी थी और मामले की जांच की मांग की थी.

 

First Published : 01 Nov 2021, 05:57:36 PM

For all the Latest States News, Jammu & Kashmir News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.