News Nation Logo

किसानों की मौत पर BJP के मंत्री का विवादित बयान, फजीहत होने पर मांगी माफी

हरियाणा के कृषि मंत्री जेपी दलाल ने आंदोलन के दौरान जिन किसानों की मौत हुई उनको लेकर कहा कि अगर ये किसान घर पर भी रहे होते तो भी मर जाते. इनमें से कुछ किसानों की मौत स्वेच्छा से हुई है.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 14 Feb 2021, 01:09:05 PM
jp dalal

जेपी दलाल (Photo Credit: एनआई ट्विटर)

highlights

  • हरियाणा कृषिमंत्री का विवादित बयान
  • आंदोलनकारी किसानों को लेकर दिया बयान
  • फजीहत होने पर बयान से पलटे, मांगी माफी

नई दिल्ली:

लगभग तीन महीनों से जारी किसान आंदोलन में कई किसानों की मौत की हो चुकी है. दिल्ली सीमा रेखाओं पर किसान लगातार कृषि बिलों के विरोध में डेरा डाले बैठे हुए हैं. टिकरी बॉर्डर से सिंघू बॉर्डर तक जारी किसान आंदोलन में कई किसान अपनी जान गंवा चुके हैं. इस बीच हरियाणा सरकार के कृषि मंत्री ने इन किसानों की मौत पर एक विवादित बयान दे डाला. हरियाणा के कृषि मंत्री जेपी दलाल ने आंदोलन के दौरान जिन किसानों की मौत हुई उनको लेकर कहा कि अगर ये किसान घर पर भी रहे होते तो भी मर जाते. इनमें से कुछ किसानों की मौत स्वेच्छा से हुई है यहां सबसे ज्यादा हैरानी की बात ये रही कि इस बयान को देते समय वो खुद ठहाके लगा रहे थे. 

हरियाणा के भिवाणी में एक पत्रकार के सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि भिवाणी में छपी खबर कथित तौर पर दो सौ किसानों की मौत के बारे में जवाब दे रहे थे. इस दौरान उन्होंने कहा कि अगर वो किसान अपने घरों में रहते तो भी मर जाते ऐसा इसलिए कि जब एक से दो लाख लोगों के बारे में देखा जाए तो 5-6 महीनों में दो सौ लोग नहीं मरते हैं क्या? कोई बीमार है तो किसी को दिल का दौरा पड़ जाता है.

सोशल मीडिया पर बयान हुआ वायरल
इसी दौरान पत्रकारों के एक और सवाल के जवाब में हरियाणा के कृषि मंत्री ने कहा, इन किसानों में से कुछ लोग तो स्वेच्छा से मरे' यहां सबसे ज्यादा गौर करने वाली बात ये रही कि इस बयानबाजी के दौरान कृषिमंत्री खुद भी ठहाके लगा रहे थे और उनके आस-पास से भी लोगों की जोर-जोर से हंसी सुनाई दे रही थी. उनका ये बयान देखते ही देखते सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा. थोड़ी ही देर में इस बयान का घमासान गूंजने लगा और मंत्री को अपने इस वीडियो पर सफाई देनी पड़ी.

यह भी पढ़ेंःराम मंदिर निर्माण के लिए मुस्लिम भी आए आगे, 80 शिया अनाथों ने दिया दान

कृषिमंत्री ने मामला बढ़ता देख बयान से पलटी मारी, मांगी माफी
मामला बिगड़ते देख कृषि मंत्री जे. पी. दलाल ने अपने बयान को मीडिया द्वारा गलत ढंग से पेश करने की बात कही और उस पर माफी भी मांगी. कृषिमंत्री ने अपने बयान पर माफी मांगते हुए कहा, 'मेरे बयान का गलत अर्थ निकाला जा रहा है. अगर इस बयान से कोई आहत हुआ है तो मैं इसके लिए माफी मांगता हूं. मैं किसान कल्याण के लिए लगातार काम करता रहूंंगा.' 

यह भी पढ़ेंःराम मंदिर निर्माण के लिए कांग्रेस की बागी MLA अदिति सिंह ने दान दिया 51 लाख रुपये 

कांग्रेस ने की कृषिमंत्री के बयान की निंदा
वहीं कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने हरियाणा कृषिमंत्री के इस बयान आलोचना की और कहा कि ऐसा बयान कोई असंवेदनशील व्यक्ति ही दे सकता है. हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी शैलजा ने भी दलाल के बयान की आलोचना की है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 14 Feb 2021, 12:27:34 PM

For all the Latest States News, Haryana News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.