News Nation Logo
Banner

केजरीवाल सरकार तैयार कर रही भविष्य के उद्यमी, छात्रों की सोच में ऐसे ला रही बदलाव

दिल्ली की केजरीवाल सरकार भविष्य के उद्यमी तैयार कर रही है. दिल्ली सरकार छात्रों की सोच में बदलाव लाकर उन्हें खुद के उद्योग व्यापार खोलने के लिए प्रेरित कर रही है.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Chaurasia | Updated on: 23 Feb 2021, 03:02:36 PM
दिल्ली सरकार तैयार कर रही उद्यमी, छात्रों की सोच में ऐसे ला रही बदलाव

दिल्ली सरकार तैयार कर रही उद्यमी, छात्रों की सोच में ऐसे ला रही बदलाव (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली सरकार ने स्थापिक किया कौशल विश्वविद्यालय
  • विश्वविद्यालय में कम से कम 1.25 लाख छात्रों के नामांकन की क्षमता

 

नई दिल्ली:

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली सरकार ने कौशल विश्वविद्यालय की स्थापना की है. इसके अलावा छात्रों को उद्योगपतियों से रूबरू कराया जा रहा है. इसके जरिए दिल्ली की केजरीवाल सरकार भविष्य के उद्यमी तैयार कर रही है. दिल्ली सरकार छात्रों की सोच में बदलाव लाकर उन्हें खुद के उद्योग व्यापार खोलने के लिए प्रेरित कर रही है. केजरीवाल सरकार ने पिछले साल दिल्ली कौशल और उद्यमिता विश्वविद्यालय की स्थापना की थी. विश्वविद्यालय में कम से कम 1.25 लाख छात्रों के नामांकन की क्षमता है. इसका उद्देश्य विद्यार्थियों को विश्वस्तरीय कौशल शिक्षा देना है ताकि देश के कार्यबल को सशक्त बनाया जा सके.

ये भी पढ़ें- भारतीय रेलवे ने 22 नई स्पेशल ट्रेनों को चलाने का किया ऐलान, देखें पूरी लिस्ट

दिल्ली के 6 विश्वस्तरीय कौशल केंद्र जो विवेक विहार, झंडेवालान, द्वारका, पूसा रोड व राजोकरी में है. अब दिल्ली कौशल एवं उधमिता विश्वविद्यालय के अंतर्गत कार्य करेंगे. इसके साथ ही बाकी के 16 विश्वस्तरीय कौशल केंद्र, दिल्ली कौशल एवं उधमिता विश्वविद्यालय के विस्तारित कैंपस के रूप में कार्य करेंगे. दिल्ली कौशल और उद्यमिता विश्वविद्यालय का उद्देश्य है कि नए स्नातक छात्र जैसे ही पास हों आसानी से नौकरी प्राप्त कर सकें और व्यवसाय शुरू कर सकें.

ये भी पढ़ें- गुजरात निकाय चुनाव में आम आदमी पार्टी ने 8 सीटों पर दर्ज की जीत, सोमनाथ भारती ने कही ये बात

छात्रों से संवाद करेंगे 17 हजार उद्यमी
केजरीवाल सरकार ने स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों को कारोबार करने की क्षमता और सोच को बढ़ावा देने के लिए 17 हजार उद्यमियों से जोड़ने की योजना बनायी है. ये उद्यमी वॉलंटियर्स के रूप में दिल्ली के सरकारी स्कूलों में जाकर छात्रों से बातचीत करेंगे और उन्हें उद्यमिता के गुर सिखाने में उनकी मदद करेंगे.

विशेष पाठ्यक्रम किया जा रहा है तैयार
स्कूलों में शिक्षा के साथ-साथ छात्रों के बीच 'उद्यमशीलता की मानसिकता' को बढ़ावा देने के लिए विशेष कैरिकुलम भी तैयार किया जा रहा है. इसके लिए ईएमसी फील्ड प्रोजेक्ट तैयार किया गया है. इस दिशा में अशोका यूनिवर्सिटी में 'गवर्नेंस एंटरप्रेन्योरशिप मास्टर क्लास' में छात्रों से संवाद भी किया गया है.

First Published : 23 Feb 2021, 03:02:36 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.