News Nation Logo
Banner

वैक्सीनेशन पर दिल्ली सरकार का बड़ा फैसला, अब 24 घंटे लगातार लगेगी वैक्सीन

देश में बढ़ रहे कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए दिल्ली सरकार ने इसे रोकने के लिए अब बड़ा फैसला ले लिया है. दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार अब दिल्ली में कोरोना वैक्सीनेशन को लगातार 24 घंटे तक जारी कर दिया है.

Written By : मोहित बख्शी | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 05 Apr 2021, 06:22:59 PM
Arvind Kejriwal

अरविंद केजरीवाल (Photo Credit: फाइल)

नई दिल्ली:

देश में बढ़ रहे कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए दिल्ली सरकार ने इसे रोकने के लिए अब बड़ा फैसला ले लिया है. दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार अब दिल्ली में कोरोना वैक्सीनेशन को लगातार 24 घंटे तक जारी कर दिया है. दिल्ली सरकार के इस फैसले के मुताबिक दिल्ली में अब 24 घंटे लागातार लगेगी कोरोना वैक्सीन. दिल्ली सरकार ने दिल्ली में कोरोना वैक्सीनेशन की गति बढ़ाने के लिए ये बड़ा फैसला लिया है. आपको बता दें कि मंगलवार 6 अप्रैल से दिल्ली सरकार के टीकाकरण केंद्रों में से रोजाना एक तिहाई केंद्र रात के 9:00 बजे से लेकर सुबह 9 बजे तक भी खुले रहेंगे.

आपको बता दें कि दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार दिल्ली वासियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाने के लिए पूरी तरह से कमर कस चुकी है. इसके पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी को दिल्ली वासियों के टीकाकरण को लेकर एक पत्र भी लिखा है.  इस पत्र में उन्होंने पीएम मोदी से वैक्सीनेशन के लिए उम्र का दायरा खत्म करने की मांग की है सीएम केजरीवाल ने कहा कि अगर केंद्र सरकार ये छूट दे दे तो वो दिल्ली की पूरी आबादी को महज 3 महीने में ही कोरोना वैक्सीन लगवा देंगे. 

यह भी पढ़ेंःअरविंद केजरीवाल ने कहा, 3 महीने में पूरी दिल्ली का करवा देंगे टीकाकरण लेकिन...

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर नया टीकाकरण केंद्र खोलने के लिए शर्तों में ढील देने का अनुरोध किया और साथ ही टीकाकरण के लिए आयु सीमा में छूट और इसे सभी के लिए उपलब्ध कराया. अपने पत्र में, सीएम केजरीवाल यह भी लिखते हैं कि यदि नए टीकाकरण केंद्र खोलने की शर्तों में ढील दी जाने की मांग की है और कहा है कि अगर केंद्र सरकार छूट दे तो दिल्ली सरकार 3 महीने के भीतर दिल्ली के सभी नागरिकों का टीकाकरण कर सकेगी.

यह भी पढ़ेंःपीएम मोदी कोरोना को लेकर राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ करेंगे बैठक

गौरतलब है कि भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 1,03,558 नए मामले सामने आए, जो पिछले साल महामारी की शुरुआत के बाद से एक दिन के भीतर अब तक का सबसे बड़ा मामला है. इन आंकड़ों के साथ कोरोना के मामले बढ़कर 1,25,89,067 हो गए हैं. भारत में इससे पहले सबसे अधिक दैनिक मामले 16 सितंबर, 2020 को 97,894 पाए गए थे.

यह भी पढ़ेंःरविशंकर प्रसाद का राहुल पर हमला,कहा- देश ने गंभीरता से लेना बंद कर दिया

पिछले साल जनवरी में देश में पहला मामला सामने आया था. महाराष्ट्र, पंजाब, कर्नाटक, केरल, छत्तीसगढ़, चंडीगढ़, गुजरात, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, दिल्ली और हरियाणा को 'गंभीर चिंता' वाला राज्य माना जा रहा है. वर्तमान में सक्रिय मामले बढ़कर 7,41,830 हो गए हैं, जो कुल मामलों का 5.89 प्रतिशत है, जबकि रिकवरी दर घटकर 92.80 प्रतिशत हो गई है. इस महामारी से बीते 24 घंटे में 478 लोगों की मौत हो गई. जिससे इस वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 1,65,101 हो गई. आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, इस महामारी से उबरने वालों की संख्या बढ़कर 1,16,82,136 हो गई है.

HIGHLIGHTS

  • दिल्ली में अब 24 घंटे लगातार लगेगा टीका
  • कोरोना के खिलाफ जंग पर 'आप' का नया वार
  • दिल्ली में लगातार बढ़ रहे हैं कोरोना वायरस के मामले

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 05 Apr 2021, 06:11:52 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

LiveScore Live Scores & Results

वीडियो

×