News Nation Logo

कोरोना से दिल्ली में हाहाकार, CM केजरीवाल के चेहरे पर साफ दिखी टेंशन

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने अपनी प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि दिल्ली के अंदर पिछले 24 घंटों में पॉजिटिविटी रेट में जबरदस्त बढ़ोत्तरी हुई है. उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटे में पॉजिटिविटी रेट 24% से बढ़कर 30% हो गई.

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 18 Apr 2021, 12:57:38 PM
Arvind Kejriwal

Arvind Kejriwal (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • दिल्ली में तेजी से बढ़ रही है कोरोना की लहर
  • 24 घंटे में पॉजिटिविटी दर 24% से बढ़कर 30% हुई
  • केजरीवाल ने केंद्र सरकार से मांगी मदद

नई दिल्ली:  

देश में कोरोना से हालात काफी बिगड़ते जा रहे हैं. हर रोज लाखों की संख्या में नए मरीज सामने आ रहे हैं. देश की राजधानी में भी इस महामारी के कारण हाहाकार मचा हुआ है. पिछले 24 घंटे के अंदर दिल्ली में करीब 24 हजार नए केस सामने आए हैं जो पिछले साल के पीक का करीब-करीब तीन गुना है. दिल्ली की ऐसी स्थिति ऐसी हो चुकी है कि अस्पतालों में बेड्स की कमी सामने आ रही है. राष्ट्रीय राजधानी में हालात कितने नाजुक हो चुके हैं, ये खुद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के चेहरे से भी बयां हो रहा था. जब वे शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए आए तो चेहरे पर चिंता के भाव आसानी से पढ़े जा सकते थे.

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने अपनी प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि दिल्ली के अंदर पिछले 24 घंटों में पॉजिटिविटी रेट में जबरदस्त बढ़ोत्तरी हुई है. उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटे में पॉजिटिविटी रेट 24% से बढ़कर 30% हो गई. केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली में ऑक्सीजन और रेमडेसिविर की कमी हो गई है, आईसीयू और ऑक्सीजन बेड्स की संख्या भी तेजी से घट रही है. चौथी लहर का पीक कब आएगा, कोई नहीं जानता. उन्होंने केंद्र से अस्पतालों के आधे बेड कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व रखने की गुजारिश की है.

ये भी पढ़ें- Live: कोरोना के चलते राहुल गांधी ने बंगाल में सभी रैलियां स्थगित कीं

उन्होंने कहा कि अब दिल्ली के अंदर 100 से कम ICU बेड बचे हैं और ऑक्सीजन की कमी है. ऐसी स्थिति में उन्होंने केंद्र सरकार से मदद करने की अपील की है. उन्होंने बताया कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन से कल और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह जी से आज सुबह बिस्‍तर की कमी के बारे में बात की है, और उन्‍हें बताया कि हमें इसकी सख्‍त जरूरत है.

सीएम केजरीवाल ने कहा कि सामाजिक संस्थाओं के माध्यम से 3600 बेड का इंतजाम किया जा रहा है. चार दिन के अंदर 6 हजार बेड जुटाए जाएंगे. केंद्र सरकार के दिल्ली में 10 हजार बेड हैं. उनसे बेड मांगे हैं. आज अफसरों की बैठक में सख्त निर्देश दिए गए हैं कि कोई भी दवाईयों की कालाबाजारी करता है तो उस पर कड़ी कार्रवाई की जाए.

केजरीवाल ने कहा कि 'दिल्ली में पिछले 24 घंटे में करीब 2400 कोरोना केस सामने आए हैं, कुछ देर में डेटा जारी हो जाएगा.' संक्रमण दर 24 प्रतिशत से ज्यादा पहुंच चुका है. उन्होंने कहा कि दिल्ली में ऑक्सीजन और रेमडेसिविर इंजेक्शन की कमी होने लगी है. उन्होंने कहा कि अस्पातों में बेड तेजी से घट रहे हैं लेकिन उसकी कमी न हो, इसके लिए हर कोशिश की जा रही है. उन्होंने उम्मीद जताई कि 2-3 दिनों में 6 हजार और बेड उपलब्ध हो जाएंगे.

ये भी पढ़ें- कोरोना से बिगड़ी स्वास्थ्य सेवाएं, मध्य प्रदेश के शहडोल में ऑक्सीजन की कमी से करीब 16 मरीजों की मौत

CAIT की संपूर्ण लॉकडाउन लगाने की मांग

दिल्ली में कोरोना संक्रमण की रफ्तार को बढ़ते देख कारोबारियों के लिए काम करने वाली संस्था कॉन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने 15 दिन का लॉकडाउन लगाने की मांग की है. कैट ने दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को चिट्ठी लिखकर मांग की है कि दिल्ली में कम से कम 15 दिन का लॉकडाउन लगा जाए और दिल्ली की सभी सीमाओं पर कोरोना टेस्ट के इंतजाम किए जाएं, ताकि संक्रमण पर अंकुश लगाया जा सके.

First Published : 18 Apr 2021, 12:41:43 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.