News Nation Logo
Banner

चिराग के हर फैसले के साथ मजबूती से खड़ा हूं: राम विलास पासवान

अस्पताल में भर्ती राम विलास पासवान ने ट्वीट किया और लिखा- मुझे विश्वास है कि अपनी युवा सोच से चिराग पार्टी (लोजपा) और बिहार को नई ऊंचाइयों तक ले जाएगा. चिराग के हर फैसले के साथ मैं मजबूती से खड़ा हूं.

By : Shailendra Kumar | Updated on: 11 Sep 2020, 12:24:16 PM
Ram Vilas Paswan

राम विलास पासवान (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

बिहार में विधानसभा चुनाव से पहले बिछ रही सियासती बिसात के बीच केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान ने एक बार फिर साफ कर दिया है कि उनको अपने पुत्र और लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान का हर फैसला मंजूर है. अस्पताल में भर्ती राम विलास पासवान ने ट्वीट किया और लिखा- मुझे विश्वास है कि अपनी युवा सोच से चिराग पार्टी (लोजपा) और बिहार को नई ऊंचाइयों तक ले जाएगा. चिराग के हर फैसले के साथ मैं मजबूती से खड़ा हूं. मुझे आशा है कि मैं पूर्ण स्वस्थ होकर जल्द ही अपनों के बीच आऊंगा.

यह भी पढ़ें : Bihar Election 2020 : JDU का सियासी गढ़ है सोनबरसा विधानसभा क्षेत्र !

राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) का घटक लोजपा का अन्य घटक दल जनता दल यूनाइटेड से मतभेद को लेकर बिहार में विधानसभा चुनाव से पहले सियासी अटकलें तेज हो गई हैं. राजग कुनबे में कलह से लोजपा के अलग राह चलने के कयास लगाए जा रहे हैं. बिहार में राजग को राष्ट्रीय जनता दल (राजद) की अगुवाई में महागठबंधन से मुख्य चुनौती है. कांग्रेस महागठबंधन का हिस्सा है. ऐसे में लोजपा संस्थापक और पार्टी के संरक्षक राम विलास पासवान का यह बयान काफी अहमियत रखता है. हाल ही में मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और बिहार के प्रभारी रह चुके कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने राम विलास पासवान और लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान को पुराने घर में वापस आने का न्योता दिया है.

यह भी पढ़ें : Bihar Election 2020 : मधेपुरा सीट पर लालू यादव की पार्टी RJD का वर्स्चव

राम विलास पासवान ने एक अन्य ट्वीट में कहा, कोरोना संकट के समय खाद्य मंत्री के रूप में निरंतर अपनी सेवा देश को दी और हर संभव प्रयास किया कि सभी जगह खाद्य सामग्री समय पर पहुंच सके. इसी दौरान तबीयत खराब होने लगी, लेकिन काम में कोई ढिलाई ना हो इस वजह से अस्पताल नहीं गया. मेरी खराब तबीयत का एहसास जब चिराग को हुआ तो उसके कहने पर मैं अस्पताल गया और अपना इलाज करवाने लगा.

 कोरोना संकट के समय खाद्य मंत्री के रूप में निरंतर अपनी सेवा देश को दी और हर सम्भव प्रयास किया कि सभी जगह खाद्य सामग्री समय पर पहुंच सके। इसी दौरान तबियत ख़राब होने लगी लेकिन काम में कोई ढिलाई ना हो इस वजह से अस्पताल नहीं गया। 1/3

— Ram Vilas Paswan (@irvpaswan) September 11, 2020

यह भी पढ़ें : Bihar Election 2020 : सिंघेश्वर विधानसभा क्षेत्र का जानिए क्या है धार्मिक महत्व ? 

उन्होंने आगे कहा, मुझे खुशी है कि इस समय मेरा बेटा चिराग मेरे साथ है और मेरी हर संभव सेवा कर रहा है. मेरा खयाल रखने के साथ साथ पार्टी के प्रति भी अपनी जिम्मेदारियों को बखूबी निभा रहा है. मुझे आशा है कि मैं पूर्ण स्वस्थ होकर जल्द ही अपनों के बीच आऊंगा. बिहार की मौजूदा विधानसभा का कार्यकाल नवंबर में समाप्त हो रहा है जिससे पहले विधानसभा चुनाव होने की संभावना है.

 मेरी ख़राब तबियत का एहसास जब चिराग को हुआ तो उसके कहने पर मैं अस्पताल गया और अपना इलाज करवाने लगा। मुझे ख़ुशी है कि इस समय मेरा बेटा चिराग मेरे साथ है और मेरी हर सम्भव सेवा कर रहा है। मेरा ख़याल रखने के साथ साथ पार्टी के प्रति भी अपनी ज़िम्मेदारियों को बखूबी निभा रहा है 2/3

— Ram Vilas Paswan (@irvpaswan) September 11, 2020

First Published : 11 Sep 2020, 12:24:16 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो