News Nation Logo

मोतिहारी चिमनी ब्लास्ट मामला: 2 घायलों की पटना एम्स में इलाज के दौरान मौत

News State Bihar Jharkhand | Edited By : Shailendra Shukla | Updated on: 26 Dec 2022, 07:21:31 PM
Chimni Blast

2 घायलों की पटना एम्स में इलाज के दौरान मौत (Photo Credit: न्यूज स्टेट बिहार झारखंड)

highlights

  • मोतिहारी चिमनी ब्लास्ट मामला
  • 2 और मजदूरों की हुई मौत
  • पटना एम्स में दोनों को कराया गया था भर्ती
  • अबतक आधिकारिक तौर पर 9 मजदूरों की मौत

Motihari:  

मोतिहारी चिमनी ब्लास्ट में घायल हुए 2 और मजदूरों की पटना एम्स में इलाज के दौरान मौत होने की सूचना है. दोनों को गंभीर हालत में  पटना के एम्स में भर्ती कराया गया था. इसी के साथ मौतों आंकड़ा बढ़कर आधिकारिक तौर पर 9 हो गया है. वहीं, पटना एम्स में एक अन्य गंभीर रूप से घायल मजदूर का इलाज जारी है. बता दें कि मोतिहारी के रामगढ़वा थाना इलाके के नरिरगिरी में एक ईंट भट्ठे का संचालन बीते कई वर्षों से हो रहा है. मजदूर इट-भट्ठे में आग लगाने के लिए गए थे लेकिन जैसे ही मजदूरों ने ईंट-भट्टा चिमनी में आग लगाई वैसे ही चिमना के ऊपरी हिस्से में तेज अवाज के साथ विस्फोट हुआ. चिमनी के टुकड़े की चपेट में मजदूर समेत कई लोग आ गए. 5 मजदूरों की मौके पर पर ही मौत हो गई थी और लगभग 20 लोग घायल हुए थे.

ये भी पढ़ें-IRCTC Scam: CBI ने खोली लालू की फाइल, जगदानंद ने बीजेपी पर बोला हमला, कही ये बड़ी बात

 

मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख मुआवजा देगी नीतीश सरकार

बिहार के मोतिहारी जिले में शुक्रवार शाम एक ईंट भट्टे के चिमनी ब्लास्ट होने से मरे सभी मजूदरों के परिजनों के लिए सीएम नीतीश कुमार ने मुआवजा देने का इलान किया है. सीएम ने शनिवार को हादसे पर दुख जताते हुए मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये का मुआवजे की घोषणा की है. सीएम ने घायलों के खर्च राज्य सरकार द्वारा उठाए जाने का भी एलान किया. सीएम ने ट्वीट किया, 'पूर्वी चम्पारण जिले के रामगढ़वा थाना क्षेत्र में ईंट-भट्ठे की चिमनी फटने की घटना दुःखद. मृतकों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना है. घायलों का समुचित इलाज कराने का निर्देश दिया है. उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना है.'

ये भी पढ़ें-सम्राट चौधरी का बड़ा बयान-'CM नीतीश के साथ मैं भी करूंगा यात्रा, खोलूंगा पोल'

4-4 लाख के मुआवजे का एलान

सीएम नीतीश कुमार ने ट्वीट किया, 'मोतिहारी में ईंट-भट्ठे की चिमनी फटने की दुर्घटना में मृतकों के परिजनों को मुख्यमंत्री राहत कोष से 4-4 लाख रू० दिए जाएंगे. घायलों के इलाज का खर्च राज्य सरकार वहन करेगी, उनके समुचित इलाज के लिए स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया गया है. घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना है.'
केंद्र सरकार ने भी मुआवजे का किया एलान

ये भी पढ़ें-IRCTC Scam: लालू यादव की फिर बढ़ी मुश्किलें, CBI ने खोल दी पुरानी केस

इतना ही नहीं केंद्र सरकार ने भी मृतकों के परिजनों के लिए 2-2 लाख का मुआवजा देने का एलान पीएम फंड से किया है और घायलों के इलाज के लिए 50-50 हजार रुपए की राशि देने की बात कही है.

ये भी पढ़ें-आखिर क्यों अभिनेत्री अक्षरा सिंह को नंगे पैर भागना पड़ा?

23 दिसंबर 2022 को हुआ था हादसा

बता दें कि शुक्रवार को रामगढ़वा थाना इलाके के नरिरगिरी में एक ईंट भट्ठे की चिमनी में विस्फोट होने से कई मजदूरों की मौत हो गई थी.  मजदूर इट-भट्ठे में आग लगाने के लिए गए थे. जैसे ही मजदूरों ने ईंट-भट्टा चिमनी में आग लगाई वैसे ही चिमना के ऊपरी हिस्से में तेज अवाज के साथ विस्फोट हुआ. चिमनी के टुकड़े की चपेट में मजदूर समेत कई लोग आ गए.

First Published : 26 Dec 2022, 07:20:11 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.