News Nation Logo

बिहारः चौसा के गंगा घाट पर तैरते मिले 40-45 शव, प्रशासन बोला- ये यूपी की लाशें हैं

बिहार के बक्सर के चौसा में महादेव घाट पर पानी में तैरती लाशों को देखकर प्रशासन में हड़कंप मच गया. अब जब बक्सर के चौसा में महादेव घाट पर नदी किनारे बहकर लाशें आ रही हैं तो बेशर्म सरकारें इस पर भी राजनीति कर रही हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 10 May 2021, 10:54:43 PM
40 45 dead bodies at buxar

40 45 dead bodies at buxar (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • प्रशासन ने यूपी की लाशें बताकर पल्ला छाड़ा
  • सभी शवों को नदी किनारे दफनाया गया

नई दिल्ली:

कोरोना (Coronavirus) की दूसरी लहर में देश में हाहाकार मचा हुआ है. हर रोज हजारो कोरोना (COVID-19) संक्रमित मरीजों की मौत होने से श्मशान घाट और कब्रिस्तान में जगह कम पड़ने लगी है. बिहार में भी कोरोना से हालात काफी खराब हो चुके हैं. बक्सर (Baxur) जिले के चौसा के महदेवा घाट (Mahadev Ganga Ghat Chausa) पर लाशों का अम्बार लग गया है. चौसा में महादेव घाट पर पानी में तैरती लाशों को देखकर प्रशासन में हड़कंप मच गया. अब जब बक्सर के चौसा में महादेव घाट पर नदी किनारे बहकर लाशें आ रही हैं तो बेशर्म सरकारें इस पर भी राजनीति कर रही हैं.

ये भी पढ़ें- लालू के निर्देश के बाद एक्शन में तेजप्रताप यादव, किया ये काम

प्रशासन बोला- यह लाशें यूपी की हैं

लाशों के अंबार पर गोलमोल जवाब देने का सिलसिला शुरू हो गया है. बक्सर के जिला प्रशासन ने इस मामले से पल्ला झाड़ते हुए कह दिया कि ये बिहार या बक्सर नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश की लाशें हैं जो यहां बह कर आ गई हैं. महादेव घाट में किनारे में लाशों के अंबार की ये तस्वीरें किसी को भी विचलित भी कर सकती है. ऐसा लगता है कि शवों ने महादेव घाट को पूरी तरह ढक लिया है. चौसा के बीडीओ अशोक कुमार ने बताया कि करीब 40 से 45 लाशें होंगी जो अलग-अलग जगहों से बह कर महादेव घाट पर आ गई हैं.

यूपी से बहकर आ रहे हैं शव

चौसा के बीडीओ अशोक कुमार ने बताया कि ये करीब 40 से 45 लाशें होंगी, जो अलग अलग जगहों से बहकर महदेवा घाट पर आ कर लग गई हैं. उन्होंने बताया कि ये लाशें हमारी नहीं हैं. हम लोगों ने एक चौकीदार लगा रखा है, जिसकी निगरानी में लोग शव जला रहे हैं. ऐसे में ये शव उत्तर प्रदेश से बहकर आ रहे हैं और यहां पर लग जा रहे हैं. अधिकारी ने कहा कि यूपी से आ रही लाशों को रोकने का कोई उपाय नहीं है. ऐसे में हम इन लाशों के निष्पादन की तैयारी में है. 

ये भी पढ़ें- UP Panchayat Elections 2021: ब्लॉक प्रमुख और जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव टले

शवों को दफनाने दफनाया गया

प्रशासन द्वारा घाट पर ही जेसीबी मशीन से गड्ढा खुदवाकर सारी लाशों को दफना दिया गया है. प्रशासन भले ही इन लाशों को यूपी की बता रहा हो, लेकिन स्थानीय लोगों के मुताबिक यहां रोज 100 से 200 लोग आते हैं और लकड़ी की व्यवस्था नहीं होने की वजह से लाशों को गंगा में ही फेंक देते हैं. इतनी ज्यादा संख्या में तैरती लाशों को देखकर स्थानीय लोगों में काफी खौफ का माहौल है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 10 May 2021, 07:50:06 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.