News Nation Logo
Banner

IPL 2020: बायो बबल को लेकर सख्त हुआ BCCI, खिलाड़ी ही नहीं टीम को भी मिलेगी 'भयानक' सजा

यदि कोई फ्रेंचाइजी किसी व्यक्ति को बबल में खिलाड़ी या सहयोगी स्टाफ से बातचीत करने की अनुमति देती है तो उसे पहले उल्लंघन पर एक करोड़ रूपये का जुर्माना भरना होगा

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Chaurasia | Updated on: 02 Oct 2020, 01:47:03 PM
dwayne bravo

सांकेतिक तस्वीर (Photo Credit: सोशल मीडिया)

नई दिल्ली:

भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामलों में लगातार तेजी से बढ़ोतरी हो रही है. गुरुवार को भी देशभर में कोरोना के कुल 81,484 नए केस सामने आए. इसी के साथ पूरे देश में कोरोना वायरस के कुल मामलों की संख्या 63,94,068 हो गई, जबकि मरने वालों का आंकड़ा भी 1 लाख के करीब पहुंच चुका है. देश में कोरोना के हालातों को देखते हुए ही आईपीएल (IPL) का 13वां सीजन भारत के बजाए यूएई में खेला जा रहा है. हालांकि, यूएई (UAE) में भी कोरोना वायरस संक्रमण फैलने का कम खतरा नहीं है. आईपीएल 2020 के लिए बीसीसीआई (BCCI) ने काफी कठोर नियम और कानून बनाए गए हैं. जैसा कि आप सभी जानते हैं कि आईपीएल सीजन 13 बायो बबल (Bio Bubble) में खेला जा रहा है. बायो बबल तोड़ने वाले खिलाड़ी के लिए कड़ी सजा का भी प्रावधान है.

ये भी पढ़ें- ओस और उमस बड़ी मुसीबत, IPL में लेग स्पिनरों की भूमिका अहम: युजवेंद्र चहल

इंडियन प्रीमियर लीग 2020 के दौरान बायो-बबल के नियमों का उल्लंघन करने वाले खिलाड़ी को टूर्नामेंट से बाहर किया जा सकता है. इतना ही नहीं, नियमों को तोड़ने वाले खिलाड़ी की टीम पर एक करोड़ रूपये का भारी जुर्माना भी लगाया जा सकता है. इसके साथ ही आईपीएल के Points Table में भी टीम के अंक काटे जा सकते हैं. BCCI ने आईपीएल सीजन 13 में हिस्सा लेने वाली सभी आठ फ्रेंचाइजी टीमों को अधिसूचना दी है कि बायो-बबल से अनधिकृत रूप से बाहर जाने पर खिलाड़ी को छह दिन के आइसोलेशन में जाना होगा. अगर ऐसा दूसरी बार होता है तो खिलाड़ी पर एक मैच का निलंबन भी लगाया जाएगा और तीसरी बार नियम तोड़ने पर उसे टूर्नामेंट से बाहर कर दिया जाएगा. यहां सबसे बड़ी मुसीबत ये है कि नियम तोड़ने पर टूर्नामेंट से बाहर होने वाले खिलाड़ी की जगह किसी दूसरे खिलाड़ी को टीम में शामिल नहीं किया जा सकेगा.

ये भी पढ़ें- IPL में रोहित शर्मा ने पूरे किए 5000 रन, विराट और रैना के साथ इस खास क्लब में हुए शामिल

खिलाड़ियों को दैनिक स्वास्थ्य पासपोर्ट पूरा नहीं करने, जीपीएस ट्रैकर नहीं पहनने और निर्धारित कोविड-19 जांच समय पर नहीं करवाने के लिए करीब 60,000 रूपये का जुर्माना देना पड़ सकता है. यही नियम परिवार के सदस्यों और टीम अधिकारियों के लिए भी है. बता दें कि संयुक्त अरब अमीरात में चल रहे टूर्नामेंट के हर पांचवें दिन सभी खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ की कोविड-19 जांच की जा रही है. टीम अधिकारियों को भी यह सुनिश्चित करने में काफी सतर्क होने की जरूरत है कि सख्त ‘बायो-बबल’ का उल्लघंन नहीं हो. अगर कोई फ्रेंचाइजी किसी व्यक्ति को बबल में खिलाड़ी या सहयोगी स्टाफ से बातचीत करने की अनुमति देती है तो उसे पहले उल्लंघन पर एक करोड़ रूपये का जुर्माना भरना होगा, दूसरी बार ऐसा करने पर एक अंक काट लिया जाएगा और तीसरे उल्लंघन के लिये दो अंक काट लिए जायेंगे.

First Published : 02 Oct 2020, 12:57:43 PM

For all the Latest Sports News, Indian Premier League News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो