News Nation Logo
Banner

World Test Championship : विश्व टेस्ट चैंपियनशिप प्‍वाइंट्स टेबल पर विराट कोहली ने उठाए सवाल 

भारतीय टीम ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ वन डे मैच के लिए मैदान में उतरने वाली है, लेकिन इससे पहले टीम इंडिया के लिए चिंता का विषय है विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप की प्‍वाइंट्स टेबल, इसमें टीम इंडिया टॉप पर थी.

By : Pankaj Mishra | Updated on: 26 Nov 2020, 08:32:10 PM
Team India with ICC Trophy

Team India with ICC Trophy (Photo Credit: IANS)

नई दिल्‍ली :

ICC World Test Championship Points Table : भारतीय टीम ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ वन डे मैच के लिए मैदान में उतरने वाली है, लेकिन इससे पहले टीम इंडिया के लिए चिंता का विषय है विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप की प्‍वाइंट्स टेबल, इसमें टीम इंडिया टॉप पर थी, लेकिन इसी बीच आईसीसी ने नियमों में बदलाव कर दिया है, इसलिए टीम इंडिया नंबर दो पर पहुंच गई है, वहीं ऑस्‍ट्रेलियाई टीम प्‍वाइंट्स टेबल में टॉप पर पहुंच गई है. इस पर अब भारतीय कप्‍तान विराट कोहली ने भी सवाल खड़े कर दिए हैं. भारतीय कप्तान विराट कोहली ने पहली विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) की अंक प्रणाली में संशोधन के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के फैसले पर सवाल उठा दिए. टीम इंडिया के कप्‍तान विराट कोहली ने कहा कि यह बदलाव भ्रमित करने वाला है और संचालन संस्था को काफी कुछ समझाना होगा. आईसीसी ने पिछले हफ्ते खेले गए मैचों में अंकों के प्रतिशत के आधार पर टीमों की रैंकिंग तैयार करने का फैसला किया था, जिससे भारतीय टीम डब्ल्यूटीसी अंक तालिका में दूसरे स्थान पर खिसक गया है. ऑस्ट्रेलियाई टीम के तीन सीरीज में 296 अंक हैं और संशोधन के बाद भारतीय टीम के चार सीरीज में 360 अंक है, लेकिन ऑस्‍ट्रेलिया भारत को पछाड़कर टॉप पर पहुंच गया है. 

यह भी पढ़ें : IND VS AUS : रोहित शर्मा पर पहली बार बोले कप्‍तान विराट कोहली, मिला था ई-मेल 

ऑस्ट्रेलिया के 82.22 प्रतिशत, जबकि भारत के 75 प्रतिशत अंक हैं. विराट कोहली ने कहा कि यह फैसला हैरानी भरा है और इसे समझना मुश्किल है. विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच से पहले वीडियो कांफ्रेंस में कहा कि निश्चित तौर यह हैरानी भरा है, क्योंकि हमें बताया गया था कि विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में टॉप दो टीमें अंकों के आधार पर क्वालीफाई करेंगी और अब अचानक से यह प्रतिशत के आधार पर हो गया है, यह भ्रमित करने वाला है और यह समझना मुश्किल है कि ऐसा क्यों है. 
टीम इंडिया के कप्‍तान विराट कोहली ने कहा कि अगर पहले दिन से ही हमें इन चीजों के बारे में बताया जाता तो फिर इसका कारण समझना आसान हो जाता कि ऐसा बदलाव क्यों हुआ. विराट कोहली ने कहा कि किन अचानक से ही ऐसा कर दिया गया और मुझे लगता है कि इसे समझने के लिए आईसीसी से सवाल पूछे जाने की जरूरत है कि ऐसा क्यों किया गया और इसके पीछे क्या कारण है. 

यह भी पढ़ें : IND vs AUS ODI : वनडे में भारत के पास आलराउंडर विकल्प कम, कैसे निपटेगी टीम इंडिया

आपको बता दें कि आईसीसी ने महामारी कोरोना वायरस विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने वाली टीमों का फैसला अंकों के प्रतिशत के आधार पर निर्णय लिया जाएगा, जिसके बाद अब भारत विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप की अंकतालिका में दूसरे स्थान पर खिसक गई है, जबकि आस्ट्रेलिया नंबर-1 पायदान पर पहुंच गई है. भारत के अभी 360 पॉइंट्स हैं और उसके आस्ट्रेलिया (296) से 64 प्वाइंट ज्यादा है. इस बदले नियम से पहले भारतीय टीम पॉइंट्स टेबल में टॉप पर थी. आईसीसी की ओर से जारी नई रैंकिंग में भारतीय टीम दूसरे नंबर पर है, क्योंकि आस्ट्रेलिया का अंक प्रतिशत 0.822 है जोकि भारत के 0.75 से अधिक है.
अनिल कुंबले की अध्यक्षता वाली आईसीसी क्रिकेट समिति ने यह बदलाव किया है. इंग्लैंड फिलहाल 0.608 प्रतिशत के साथ तीसरे, न्यूजीलैंड 0.500 प्रतिशत के साथ चौथे और पाकिस्तान पांचवें नंबर पर है. भारतीय क्रिकेट टीम को 27 नवंबर से आस्ट्रेलिया में तीन वनडे, तीन टी-20 और चार मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है. टेस्ट सीरीज में भारत विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप की अंकतालिका में बदलाव कर सकता है.

यह भी पढ़ें : IND vs AUS : आठ महीने बाद स्टेडियम में लौटेंगे दर्शक, जानिए कितने दर्शक देखेंगे मैच 

इसके साथ ही भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि रोहित शर्मा और ईशांत की चोट को लेकर स्थिति अभी साफ नहीं है. चोट से उबर रहे रोहित शर्मा बेंगलुरू में राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) में रिहैबिलिटेशन कर रहे हैं. विराट कोहली ने कहा कि इससे निश्‍चित रूप से यहां उनके खेलने की संभावना बढ़ेगी. रिद्धिमान साहा यहां रिहैब कर रहे हैं और हम उनके चोट से उबरने की स्थिति से अवगत हैं. हम इस बात से अवगत हैं कि वह फिट होने की राह पर है और इससे सीरीज खेलने के लिए उनके पास समय होगा. उन्होंने कहा, यही बात ईशांत और रोहित के साथ होती तथा उन्हें फिट होने का मौका मिलता. इससे वे टेस्ट सीरीज के लिए उपलब्ध रहते. लेकिन फिलहाल इस चीज को लेकर कुछ ज्यादा ही अनिश्चितता है कि वे इसमें खेलने जा रहे हैं कि नहीं. इससे निश्वित रूप से उन्हें फिटनेस हासिल करने में मदद मिलती. साथ ही वे साहा की तरह ही टीम के साथ रहते और फिटनेस हासिल करते.

(इनपुट एजेंसी)

First Published : 26 Nov 2020, 08:29:16 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.