News Nation Logo
Banner
Banner

मिताली राज आज रचेंगी नया इतिहास, सचिन तेंदुलकर के बाद ऐसी पहली क्रिकेटर 

भारतीय महिला टीम की कप्तान मिताली राज आज जब मैदान पर उतरेंगी तो वह सचिन तेंदुलकर के बाद 22 साल तक एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने वाली दूसरी क्रिकेटर बन जाएंगी.

IANS/News Nation Bureau | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 27 Jun 2021, 08:49:39 AM
Mithali Raj

Mithali Raj (Photo Credit: IANS)

नई दिल्‍ली :

भारतीय महिला टीम की कप्तान मिताली राज आज जब मैदान पर उतरेंगी तो वह सचिन तेंदुलकर के बाद 22 साल तक एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने वाली दूसरी क्रिकेटर बन जाएंगी. सचिन तेंदुलकर 22 साल और 91 दिनों तक वन डे खेलते रहे, वहीं मिताली राज ने 22 साल में सिर्फ एक दिन बिताया होगा जब वह रविवार को इंग्लैंड के कप्तान हीथर नाइट के खिलाफ टॉस के लिए मैदान पर जाएंगी. करीब 38 साल की मिताली राज ने 26 जून, 1999 को आयरलैंड के खिलाफ मिल्टन कीन्स में डेब्‍यू किया था. वह तब केवल 16 वर्ष की थी.

यह भी पढ़ें : साजन प्रकाश ओलंपिक में सीधे प्रवेश पाने वाले पहले भारतीय तैराक बने 

पिछले करीब 22 साल के दौरान उन्होंने 214 महिला एकदिवसीय मैचों में सात शतकों और 55 अर्धशतकों के साथ 7,098 रन बनाए हैं. जोधपुर में जन्मी यह महिला क्रिकेट में 6,000 से अधिक एकदिवसीय रन बनाने वाली एकमात्र खिलाड़ी हैं. उन्होंने 2364 टी20 अंतरराष्ट्रीय रन भी बनाए हैं. इंग्लैंड के खिलाफ पहले वनडे की पूर्व संध्या पर एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान मिताली ने कहा कि मुझे मेरे करियर पर बधाई संदेश प्राप्त करना अच्छा लगता है. अगर मुझे एक 16 साल के बच्चे को संदेश देना है, तो मैं कहूंगी. भारत और इंग्लैंड की महिला क्रिकेट टीमें आज तीन मैचों की वनडे सीरीज के पहले मुकाबले में भिड़ेंगी. इंग्लैंड के साथ एकमात्र टेस्ट मैच ड्रॉ कराने वाली भारतीय महिलाएं इस सीरीज में जीत के साथ शुरुआत करना चाहेंगी. भारतीय महिला टीम ने हाल के दिनों में इंग्लैंड की महिला टीम को वनडे में कड़ी चुनौती दी है. 2010 और 2019 के बीच, दोनों पक्षों के बीच खेले गए 22 मैचों में से भारत ने 10 जीते और 12 हारे हैं. इंग्लैंड के खिलाफ भारत का समग्र रिकॉर्ड भी 37 हार के मुकाबले 30 जीत के साथ अच्छा है.

यह भी पढ़ें : डेविड वार्नर, मार्कस स्टोयनिस, ग्लेन मैक्सवेल, कगिसो रबाडा इस टूर्नामेंट से हटे

हालांकि, इंग्लैंड में उसे इसका खामियाजा भुगतना पड़ा है. 29 मैचों में से, भारतीय महिलाओं ने 22 में हार का सामना किया है और केवल पांच में जीत हासिल की है, जिसमें 0.227 जीत-हार का अनुपात कम है. भारत को बड़ा स्कोर बनाने या लक्ष्य का पीछा करने के लिए मजबूत शुरुआत की जरूरत होगी. इसके लिए उन्हें ऑल आउट होने के लिए शैफाली की जरूरत होगी. कप्तान मिताली राज ने कहा कि टीम प्रबंधन शैफाली वर्मा को अपना स्वाभाविक खेल खेलने देगा और अगर वह गिरती है तो अनुभवी मध्यक्रम मरम्मत का काम संभालेगा. मिताली राज ने मैच की पूर्व संध्या पर मीडिया से कहा, चूंकि वह (शैफाली) पहली बार एक दिवसीय प्रारूप में खेल रही है, मैं एक कप्तान के रूप में उसे हमेशा उसी तरह खेलने के लिए प्रोत्साहित करती हूं जिस तरह से उसे खेलने में मजा आता है, वह खेलने में सहज है. भारत ने फरवरी 2019 में पिछली द्विपक्षीय सीरीज 2-1 से जीती थी। हालांकि, वह मुंबई में खेली गई थी.

First Published : 27 Jun 2021, 08:49:39 AM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.