News Nation Logo
Banner

INDvsENG : इंग्लैंड सीरीज के आयोजन स्थलों के चयन पर खड़े हुए सवाल 

बीसीसीआई ने इंग्लैंड के साथ होने वाली टेस्ट, वनडे और टी20 सीरीज के लिए आयोजन स्थलों का जो चयन किया है, उससे उसके सभी राज्य संघ खुश नहीं हैं. बीसीसीआई के प्रमुख सौरव गांगुली के घरेलू राज्य के संघ ने आयोजन स्थलों के चयन पर आपत्ति जताई है.

IANS | Updated on: 13 Dec 2020, 10:20:09 AM
sourav ganguly

sourav ganguly (Photo Credit: ians)

नई दिल्ली :

बीसीसीआई ने इंग्लैंड के साथ होने वाली टेस्ट, वनडे और टी20 सीरीज के लिए आयोजन स्थलों का जो चयन किया है, उससे उसके सभी राज्य संघ खुश नहीं हैं. कई राज्य संघों ने आयोजन स्थलों के इस चयन को इस महीने होने वाले बीसीसीआई चुनावों से जोड़कर देखना शुरू कर दिया है. यहां तक कि बीसीसीआई के प्रमुख सौरव गांगुली के घरेलू राज्य के संघ ने आयोजन स्थलों के चयन पर आपत्ति जताई है और कहा है कि सीरीज के 12 मैचों में से एक भी मैच उसे एलॉट नहीं किया गया.
मुम्बई क्रिकेट संघ ने तो इस फैसले पर हैरानी जाहिर की है. उसे एक भी मैच की मेजबानी नहीं मिली है जबकि गुजरात क्रिकेट संघ को 12 में से सात मैचों की मेजबानी मिली है. पुणे और चेन्नई को मेजबानी मिली है. चेन्नई में दो टेस्ट मैच खेले जाएंगे जबकि पुणे को तीन मैचों की वनडे सीरीज की मेजबानी करनी है.

यह भी पढ़ें : INDvAUS Day Night Test : किस टीम ने खेले हैं कितने टेस्ट, किसका पलड़ा भारी 

मुम्बई क्रिकेट संघ का कहना है कि उसे चार साल में एक भी टेस्ट की मेजबानी नहीं मिली है और यह काफी हैरान करने वाला फैसला है. मजेदार बात यह है कि सौरव गांगुली ने सितम्बर में कहा था कि मुम्बई और कोलकाता को इंग्लैंड के साथ होने वाली सीरीज के मैचों की मेजबानी मिलेगी. इसे लेकर बंगाल क्रिकेट संघ और मुम्बई क्रिकेट संघ के अधिकारियों ने सीधे बीसीसीआई से सवाल किए हैं. सीएबी के अध्यक्ष अभिषेक डालमिया ने कहा है कि उन्हें यह बताया जाए कि आखिरकार उनके संघों को इस सीरीज के मैचों की मेजबानी क्यों नहीं मिली.

यह भी पढ़ें : रोहित शर्मा को करनी होगी एक और बाधा पार, तब जा पाएंगे ऑस्ट्रेलिया 

इसी तरह एमसीए की कार्यकारी समिति के सदस्य नदीम मेनन ने पैनल के सदस्यों की ओर से बोलते हुए एमसीए अध्यक्ष विजय पाटिल से सीधा सवाल किया है कि वह पैनल को बताएं कि आखिरकार एमसीए को बीते चार साल से टेस्ट की मेजबानी क्यों नहीं मिली है. सीएबी और एमसीए के अलावा कई अन्य संघों ने महाराष्ट्र क्रिकेट संघ के मुख्यालय पुणे को मेजबानी दिए जाने को लेकर सवाल खड़े किए हैं और कहा है कि क्या इसे 24 दिसम्बर को होने वाले बीसीसीआई चुनावों से जोड़कर देखा जाए. संघों की चिंता यह भी है कि अगर उन्हें लम्बे समय तक मैचों की मेजबानी नहीं मिलेगी तो उनकी वित्तीय स्थिति खराब हो जाएगी क्योंकि बोर्ड एक टेस्ट के लिए संघों को 2.5 करोड़ रुपये, एक वनडे के लिए 1.5 करोड़ रुपये और एक टी20 के लिए भी इतने ही रुपये देता है.

यह भी पढ़ें : केन विलियमसन और ट्रेंट बोल्ट की टीम में वापसी, रॉस टेलर बाहर

इंग्लैंड का भारत दौरे का कार्यक्रम इस प्रकार है

चार टेस्ट मैचों की सीरीज 
पहला टेस्ट : 5-9 फरवरी, चेन्नई
दूसरा टेस्ट : 13-17 फरवरी, चेन्नई
तीसरा टेस्ट : 24-28 फरवरी, अहमदाबाद (दिन-रात का टेस्ट)
चौथा टेस्ट : 4-8 मार्च, अहमदाबाद

पांच टी-20 मैचों की सीरीज 
पहला टी-20 : 12 मार्च को अहमदाबाद में
दूसरा टी-20 : 14 मार्च को अहमदाबाद में
तीसरा टी-20 : 16 मार्च को अहमदाबाद में
चौथा टी-20 : 18 मार्च को अहमदाबाद में
पांचवां टी-20 : 20 मार्च को अहमदाबाद में

तीन वनडे मैचों की सीरीज 
पहला वनडे : 23 मार्च को पुणे में
दूसरा वनडे : 26 मार्च को पुणे में
तीसरा वनडे : 28 मार्च को पुणे में

First Published : 13 Dec 2020, 10:20:09 AM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.