News Nation Logo

'' एम एस धोनी भाग्यशाली...तो सौरव गांगुली बेस्ट कप्तान''

टीम इंडिया को वर्ल्ड कप सिर्फ दो कप्तान जीता पाए है एक महान कपिल देव और दूसरे महेंद्र सिंह धोनी. हालांकि भारत के पूर्व स्पिनर मनिंदर सिंह ने सौरव गांगुली को सर्वश्रेठ बताया है.O

By : Ankit Pramod | Updated on: 08 Aug 2020, 01:36:31 PM
Ms Dhoni

सौरव गांगुली और एम एस धोनी (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

टीम इंडिया (Team India) को वर्ल्ड कप सिर्फ दो कप्तान जीता पाए है एक महान कपिल देव (Kapil Dev) और दूसरे महेंद्र सिंह धोनी (Ms Dhoni). हालांकि भारत के पूर्व स्पिनर मनिंदर सिंह ने सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) को सर्वश्रेठ बताया है. मनिंदर सिंह का कहना है कि सौरव गांगुली ने यंग टीम इंडिया को बनाया और कई सारे खिलाड़ियों का समर्थन किया था.

यह भी पढ़ें ः ICC के फैसले से क्रिकेट आस्‍ट्रेलिया को भारी नुकसान, लौटाने होंगे टिकट के पूरे पैसे, जानिए डिटेल

एक इंटरव्यू में पूर्व स्पिनर मनिंदर सिंह ने कहा कि महेंद्र सिंह धोनी काफी भाग्यशाली थे कि साल 1983 में कपिल देव ने विश्व कप जीता. जिसके कुछ सालों बाद सौरव गांगुली ने सभी को भरोसा दिलाया कि हमारी टीम किसी भी हालत में किसी भी टीन को हरा सकती है.जिसके कराण धोनी को सबकुछ मिला.

यह भी पढ़ें ः IPL 2020 : एमएस धोनी, विराट कोहली और रोहित का परिवार जाएगा UAE !

मनिदंर ने महेंद्र सिंह धोनी और महान पूर्व कप्तान कपिल देव की कप्तानी को एक जैसा बताया. उन्होंने का कि धोनी और कपिल देव दोनों ही शांत थे और चतुर कप्तानी करते थे. मनिंदर सिंह ने आगे कहा कि जब कपिल देव कप्तानी करते थे तब विश्वास की बिल्कुल कमी नहीं होती थी. ठीक वैसे ही धोनी की कप्तानी में झलकता था. इसके अलावा मनिंदर सिंह ने कहा कि उनके लिए धोनी और कपिल देव एक जैसे हैं.

कपिल देव और धोनी की कप्तानी के बाद उन्होंने पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली की तारीफ करते हुए कहा कि उन्हें गांगुली की कप्तानी काफी पसंद थी. गांगुली के लिए मनिंदर सिंह ने कहा कि उन्होंने अच्छे टैलेंट को तलाश किया और टीम में मौका दिया. इस लिस्ट सिक्सर किंग युवराज और हरभजन शामिल है. हालांकि जब इन खिलाड़ियों पर संकट आया तब गांगुली ने अपने खिलाड़ियों का पूरा साथ दिया था.

यह भी पढ़ें ः IPL 2020 : DLF, Pepsi और vivo के बाद अब कौन होगा आईपीएल 13 का स्‍पॉसर, 200 करोड़ से 2190 करोड़ का सफर

सौरव गांगुली ने 146 वनडे और 49 टेस्ट में कप्तानी करते हुए वीरेंद्र सहवाग, हरभजन सिंह, जहीर खान और युवराज सिंह जैसे खिलाड़ियों को बनाया है जिन्होंने टीम इंडिया के लिए शानदार प्रदर्शन किया है. मनिदंर सिंह ने कहा कि सौरव गांगुली ही थे जिन्होंने राहुल द्रविड़ जैसे खिलाड़ी को विकेटकीपर बनाया. साथ ही वीरेंद्र सहवाग को मिडल ऑर्डर से ओपनिंग बल्लेबाज बनाने में उन्होंने अहम योगदान दिया.

यह भी पढ़ें ः सुरेश रैना ने की एमएस धोनी और रोहित शर्मा की तुलना तो हिटमैन ने दिया शानदार जवाब

ये पहला मौका नहीं है जब कोई सौरव गांगुली की तारीफ कर रहा हो. इससे पहले 2007 और 2011 के विश्व कप विजेता की हीरो युवराज सिंह भी दादा की तारीफ कर चुके हैं. सौरव गांगुली ने टीम इंडिया के लिए कई सीरीज जीती है जबकि साल 2002 की नेटवेस्ट सीरीज को कौन भूल सकता है जिसमें दादा ने जीत का जश्न मनाते हुए शर्ट घुमाई थी.

सौरव गांगुली ने साल 2000-01 से टीम इंडिया कमांड संभाली थी साल 2005-06 के जिम्बाव्वे दौरे के बाद उन्हें कप्तानी से हटा दिया गया था. बता दें कि ग्रेग चैपल और गांगुली के अनबन के कारण बोर्ड को ये फैसाल लेना पड़ा था. सौरव गांगुली ने टीम इंडिया के लिए 113 टेस्ट और 331 वनडे खेले हैं और इस वक्त गांगुली बीसीसीआई के प्रेसिडेंट हैं.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 08 Aug 2020, 01:34:33 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.