News Nation Logo

ENGvPAK : शर्मनाक हार के बाद भी कप्‍तानी नहीं छोड़ेंगे अजहर अली

इंग्‍लैंड और पाकिस्‍तान के बीच तीन टेस्‍ट मैचों की सीरीज खत्‍म हो गई है. पाकिस्‍तान इस सीरीज में खाली हाथ रहा. तीन में से एक भी मैच वह नहीं जीत पाया. पहला मैच पाकिस्‍तान हार गया था.

Sports Desk | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 26 Aug 2020, 01:30:39 PM
azhar ali

azhar ali (Photo Credit: फाइल फोटो )

New Delhi:

England vs Pakistan : इंग्‍लैंड और पाकिस्‍तान के बीच तीन टेस्‍ट मैचों की सीरीज खत्‍म हो गई है. पाकिस्‍तान इस सीरीज में खाली हाथ रहा. तीन में से एक भी मैच वह नहीं जीत पाया. पहला मैच पाकिस्‍तान हार गया था, लेकिन इसके बाद दूसरे और तीसरे टेस्‍ट में बारिश ने बाधा डाली, इसलिए मैच ड्रॉ पर समाप्‍त हो गए. हालांकि मैच के दौरान जो स्‍थितियां थी, उससे साफ था कि अगर बारिश खलल न डालती तो पाकिस्‍तान को कम से एक मैच में और हार का सामना करना पड़ता. खास बात यह भी है कि साल 2010 के बाद यही पहली बार है, जब पाकिस्‍तान इंग्‍लैंड से सीरीज हारा है. इस सीरीज में खराब प्रदर्शन के चलते पाकिस्‍तानी टीम की हर ओर आलोचना हो रही है, लेकिन पाकिस्‍तान के कप्‍तान अजहर अली (Azhar Ali) को इससे कोई खास फर्क नहीं पड़ता, उन्‍होंने कप्‍तानी छोड़ने की बात से साफ तौर पर इन्‍कार कर दिया है. अब पाकिस्‍तान को इंग्‍लैंड से ही तीन टी20 मैचों की सीरीज भी खेलनी है. 

यह भी पढ़ें ः IPL 2020 Schedule : अबु धाबी में कोरोना, इसलिए नहीं आ रहा आईपीएल का पूरा शेड्यूल

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान अजहर अली ने कहा कि इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के दौरान जब वह रन बनाने के लिए जूझ रहे थे तो उन्हें दबाव महसूस हो रहा था, लेकिन कप्तानी छोड़ने का विचार कभी उनके दिमाग में नहीं आया. पाकिस्तान ने तीन मैचों की सीरीज 0-1 से गंवाई है. इंग्लैंड ने पहला टेस्ट जीता लेकिन दूसरा और तीसरा मैच बारिश से प्रभावित रहे और ड्रा समाप्त हुए. पाकिस्‍तानी कप्‍तान अजहर अली को पहले दो मैचों में रन नहीं बनाने के कारण आलोचना झेलनी पड़ी थी लेकिन तीसरे टैस्ट मैच की पहली पारी में उन्होंने शतक लगाया. अजहर अली ने जब पूछा गया कि क्या सीरीज के दौरान वह कप्तानी छोड़ना चाहते थे, उन्होंने कहा, नहीं, मेरा पूरा ध्यान सीरीज पर था. मेरे दिमाग में कभी यह बात नहीं आई. हां दबाव था लेकिन मैंने अपने प्रदर्शन पर ध्यान केंद्रित किया. उन्होंने कहा कि पहला टेस्ट गंवाने के बाद कप्तान होने के कारण दबाव और आलोचना मुझे ही झेलनी थी लेकिन मैंने अपने प्रदर्शन से इसे प्रशंसा में बदलने की कसम खाई. इसके अलावा हमारे टीम प्रबंधन में अनुभवी लोगों के होने से भी हमें उस हार से उबरने में मदद मिली.
इंग्लैंड ने 2010 के बाद पाकिस्तान के खिलाफ अपनी पहली टेस्ट सीरीज जीती है. अजहर अली ने कहा कि हम निराश हैं कि सीरीज नहीं जीत पाए. हम यहां सीरीज जीतने के लिए आए थे. हमें मौके मिले लेकिन हम उनका फायदा नहीं उठा पाए. इंग्लैंड को श्रेय जाता है. उसने अवसरों का फायदा उठाया. इंग्लैंड ने पहले टेस्ट मैच में 277 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए पांच विकेट 117 रन पर गंवा दिए थे लेकिन इसके बाद जोस बटलर और क्रिस वोक्स ने टीम को अप्रत्याशित जीत दिलाई थी.

यह भी पढ़ें ः IPL 2020 : आईपीएल की विजेता टीम को मिलते हैं इतने करोड़, इस बार होगा नुकसान!

आपको बता दें कि पिछले एक महीने से अजहर अली की अगुवाई वाली पाकिस्तान को उन्हीं के देश के पूर्व खिलाड़ियों से खरीखोटी सुनने को मिल रही है. पूर्व पाकिस्तान के तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने पहले पाकिस्तान की रणनीतियों पर सवाल उठाए थे वहीं अब पूर्व बल्लेबाज आमिर सोहेल ने पूरी टीम और कोट पर सवाल कर दिया है. पाकिस्तान के पूर्व खिलाड़ी आमिर सोहेल ने पाकिस्तान के कोच मिस्बाह उल हक, बल्लेबाजी कोच यूनिस खान और गेंदबाजी कोच वकार यूनुस पर तीखे सवाल किए हैं. आमिर का मानना है कि पाकिस्तान के दिग्गज ये कोच इंग्लैंड में जीतने नहीं बल्कि छुट्टियां मनाने गए हैं. आमिर सोहेल ने कहा कि पाकिस्तान की बल्लेबाजों और गेंदबाजों का प्रदर्शन बेहद खराब रहा. खिलाड़ियों ने कई गलतियां की है लेकिन गलतियों को सुधाने का काम किसका है. अगर उनके साथ कोच गए हैं तो अभी तक उनकी गलतियां क्यों नहीं सही हुई. आमिर ने कहा कि ऐसा लग रहा है कि पाकिस्तान के कोच सिर्फ छुट्टियां मनाने के लिए गए हैं. अगर ऐसा है तो उन्हें दुनिया की सैर पर भैजा जाना चाहिए और टीम को ऐसे ही छोड़ देना चाहिए.

(इनपुट भाषा)

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 26 Aug 2020, 01:28:35 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.