News Nation Logo
Banner

जानिए स्पेसएक्स के बारे में जो अब नासा को दे रहा है सेवाएं, एलन मस्क ने कैसे रखी इसकी नीव, पढ़ें यहां

एजेंसी अब अपने द्वारा उपयोग किए जाने वाले वाहनों की मालिक नहीं होगी, बल्कि अब केवल स्पेसएक्स द्वारा दी जाने वाली 'टैक्सी' सेवाएं ही खरीदेगी.

News Nation Bureau | Edited By : Yogesh Bhadauriya | Updated on: 23 Jun 2020, 08:49:23 AM
pjimage  43

Elon musk (Photo Credit: News Nation)

नई दिल्ली:

हाल ही में नासा ने पहली बार प्राइवेट कंपनी SpaceX के अंतरिक्षयान से दो लोगों को इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन भेजकर इतिहास रच दिया. नौ सालों बाद पहली बार अमेरिकी धरती से कोई मानव मिशन अंतरिक्ष में भेजा गया. एजेंसी अब अपने द्वारा उपयोग किए जाने वाले वाहनों की मालिक नहीं होगी, बल्कि अब केवल स्पेसएक्स द्वारा दी जाने वाली 'टैक्सी' सेवाएं ही खरीदेगी. दो अंतरिक्ष यात्री डग हर्ली और बॉब बेन्कन को क्रू ड्रैगन कैप्सूल में बिठाकर स्पेसएक्स के रॉकेट फाल्कन 9 के साथ स्थानीय समयानुसार शाम चार बजकर 22 मिनट पर भेजा गया है. नासा के साथ मिशन में जुड़नेवाली SpaceX के मालिक का नाम एलन मस्क है. आज हम बता रहे हैं एलन मस्क के बारे में जिनसे युवा पीढ़ी को बहुत कुछ सीखने का मौका मिल सकता है.

एलन मस्क का जन्म 28 जून 1971 में हुआ. उनके पिता इंजीनियर और पायलट थे जबकि मां मॉडल के तौर पर काम करती थीं. एलन को छोटी उम्र से ही किताबें पढ़ने का शौक था. कहा जाता है कि इसके लिए 10 घंटे समय खर्च करते. 8 साल की उम्र को पहुंचते-पहुंचते उन्होंने स्कूल की लाइब्रेरी की किताबें पढ़ डालीं. यहां तक कि इन्साइक्लोपीडिया भी उनके अध्ययन में शामिल रहा.

यह भी पढ़ें- भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) बच्चों के लिए लिया खास मौका, पढ़ें पूरी खबर

एलन मस्क को 9 साल की उम्र में मिला झटका

उनकी जिंदगी में दर्दनाक पहलू उस वक्त जुड़ा जब उनके माता-पिता में अलगाव हो गया. उस वक्त उनकी उम्र 9 साल की थी. दोनों में अलगाव के बाद एलन ने अपने पिता के साथ रहने का फैसला किया. अपने विचारों में मगन रहनेवाले एलन का स्कूल के बच्चे मजाक उड़ाते. एक बार तो उन्हें सीढ़ियों से धक्के देकर नीचे गिरा दिया गया.

छोटी उम्र में वीडियो गेम बनाकर 500 डॉलर में बेचा

एलन जब छोटे थे तभी से उन्हें कुछ अलग करने का धुन सवार हो गया. उन्होंने छह महीने का कंप्यूटर कोर्स किया. 9 साल की उम्र हुई तो Blaster नाम से वीडियो गेम बनाया. बाद में उन्होंने वीडियो गेम को 500 डॉलर में बेचकर कामयाबी की पहली मिसाल गढ़ी. हिचकॉक की Guide to the Galaxy किताब का उनके मन मस्तिष्क पर गहरा असर पड़ा. एलन किताब को पढ़कर अपने ही सवालों के जवाब ढूंढते.

यह भी पढ़ें- आम नहीं बहुत खास होते हैं अंतरिक्ष में जाने वाले लोग, जानें क्या आप में भी है वो बात

पिता से सीखने का मिला मौका

उनका धुन देखकर उनके पिता अपने साथ उन्हें काम पर ले जाते. इस दौरान उन्हेें अपने पिता के साथ काफी कुछ सीखने का मौका मिला. 17 साल की उम्र हुई तो एलन पढ़ाई के लिए कनाडा आ गए. मां के कनाडा निवासी होने की वजह से उनको कनाडा की नागरिकता मिलने में दुश्वारी नहीं हुई. उच्च शिक्षा के लिए उन्होंने यूनिवर्सिटी में दाखिला ले लिया. एलन जेब खर्च निकालने के लिए पढ़ाई के साथ काम भी करते. फिर उनका दाखिला स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में हो गया.

स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी दाखिले के दो दिन बाद छोड़ी


दाखिले के दो दिन बाद ही उन्होंने यूनिवर्सिटी छोड़ दी. उसके बाद अपने भाई के साथ मिलकर सॉफ्टवेयर हाउस बनाने का फैसला किया. उन्होंने कंपनी का नाम Zip2 रखा. तीन साल बाद उन्होंने कंपनी को बेच दिया. नए सपने को साकार करने के लिए एलन 1999 में X.Com के नाम से ऑनलाइन बैंक की शुरुआत की. 2000 में उन्होंने अपने बैंक को एक और कंपनी Confinity में शामिल कर लिया. दोनों कंपनियों के एक साथ हो जाने के बाद उन्होंने कंपनी का नया नाम PayPal रखा. उसके बाद उनका सफर आसान नहीं रहा.

हनीमून पर गए एलन को कंपनी से हटाया गया

हनीमून मनाने गए एलन को पता चला कि उन्हें कंपनी से हटा दिया गया है. ये उनके लिए बड़ा धक्का था मगर इसके बावजूद उन्होंने हिम्मत नहीं हारी. उन्हें बचपन में पढ़ी किताब Guide to the Galxay की याद आई. अंतरिक्ष की दुनिया उन्हें अपनी तरफ खींच रही थी. उन्होंने सोचा कि क्यों नहीं अंतरिक्ष में जाने के लिए रॉकेट बनाया जाए. अंतरिक्ष में शोध के लिए उन्होंने लॉस एंजिल्स शिफ्ट होने का फैसला किया. रॉकेट बनाने की तरकीब जानने के लिए उन्होंने किताबों को पढ़ना शुरू किया. अपने सपने को पंख देने के लिए उन्होंने रूस का सफर भी किया. रूस में उन्हें रॉकेट की बहुत ज्यादा कीमत मालूम होने पर उन्होंने खुद से रॉकेट बनाने का फैसला किया. इस काम को अंजाम देने के लिए एलन ने खुद की कंपनी SpaceX बनाई. इस दौरान उन्होंने PayPal कंपनी को बेचकर इलेक्ट्रिक गाड़ियों की कंपनी Telsa में निवेश कर दिया.

SPACE X की स्थापना के चार साल बाद उन्हें पहली बड़ी कामयाबी 2006 में मिली. नासा की तरफ से अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन तक कार्गो पहुंचाने का ठेका मिला. कुछ अलग करने की चाहत का सिलसिला उनका थमा नहीं. 2012 में इलेक्ट्रिक गाड़ियों के लिए उन्होंने SuperCharger का नेटवर्क तैयार किया. सुपर फास्ट Hyperloop Train के साथ उन्होंने जमीन के नीचे तेज रफ्तार ट्रेन का खाका पेश किया. अपने काम को अंजाम देने के लिए Boring Company बनाई. लगातार कई कामयाबियों के बाद एलन की अगली योजना अंतरिक्ष में कॉलोनी बनाने की है. उन्हें उम्मीद है कि 2025 तक अंतरिक्ष में आवाजही के लिए SpaceX की भूमिका अहम साबित होगी.

नासा ने इसलिए स्पेसएक्स को चुना

नासा 2000 के दशक की शुरुआत से ही आईएसएस मिशन पर काम कर रहा है. हालांकि, 2011 में उसने अपने रॉकेट से यह लॉन्चिंग करना बंद कर दी थी. इसके बाद अमेरिकी स्पेसक्राफ्ट रूस के रॉकेटों से भेजे जाने लगे. रूसी रॉकेट से लॉन्चिंग का खर्च लगातार बढ़ रहा था, ऐसे में अमेरिका ने स्पेसएक्स को बड़ी आर्थिक मदद देकर अंतरिक्ष मिशन के लिए मंजूरी दी. इस कंपनी ने 2012 में पहली बार अंतरिक्ष में अपना कैप्सूल भेजा. स्पेसएक्स कंपनी की स्थापना अमेरिकी अरबपति उद्यमी एलन मस्क द्वारा 2002 में की गई थी.

First Published : 23 Jun 2020, 08:49:23 AM

For all the Latest Science & Tech News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Nasa SpaceX Elon Musk
×