News Nation Logo
Banner

Coronavirus (Covid-19): कोरोना वायरस से बचाने के लिए आ गया बैटरी से चलने वाला मास्क

Coronavirus (Covid-19): मुंबई में एनएमआईएमएस के सुनंदन दिवातिया स्कूल ऑफ साइंस के डीन नीतिन देसाई ने बताया, हमने लिथियम बटन वाली बैटरी का इस्तेमाल किया है, जिसे इस्तेमाल कर फेंका जा सकता है। यह छह से आठ महीने तक चल सकती है.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 03 Jul 2021, 08:31:28 AM
Battery Operated Reusable Mask

Battery Operated Reusable Mask (Photo Credit: IANS )

highlights

  • NMIMS विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने बैटरी से चलने वाला और दोबारा उपयोग के लायक मास्क बनाया
  • मास्क बैक्टीरिया, फंगस के विकास को 99.9% तक रोकता है, इसकी कीमत 800 रुपये से 1,000 रुपये के बीच होगी

मुंबई :

Coronavirus (Covid-19): मुंबई के एनएमआईएमएस विश्वविद्यालय (NMIMS University) के वैज्ञानिकों ने बैटरी से चलने वाला और दोबारा उपयोग के लायक मास्क (Battery Operated Reusable Mask) बनाया है, जो हवा में फैलने वाले मानव रोगजनकों से सुरक्षा देता है. साधारण मास्क एयरजेल और बड़े धूल कणों से बचाते हैं, वे अधिकांश मानव रोगजनकों से रक्षा नहीं करते. इसके विपरीत, नए तरह के मास्क में धातु की जाली के साथ चार-परत कपास है, जो एक विद्युत फिल्टर के रूप में कार्य करता है. सांस लेने और छोड़ने के दौरान, मास्क के संपर्क में आने वाले रोगजनक जीवाणु तुरंत निष्प्रभावी हो जाते हैं, जिससे उपयोगकर्ता को पूर्ण सुरक्षा मिलती है. यह मास्क दोबारा उपयोग किए जाने लायक और पर्यावरण के अनुकूल है। यदि उचित देखभाल के साथ उपयोग किया जाता है और इसे बदला जा सकता है, तो बैटरी छह महीने से अधिक समय तक चलती है. 

यह भी पढ़ें: गगनयान के पहले मानवरहित मिशन को लेकर आई बड़ी खबर, जानिए क्या है मामला

लिथियम बटन वाली बैटरी का हुआ है इस्तेमाल 
यह मास्क पर्यावरण के बोझ को कम करने वाले 240 से अधिक नियमित मास्क की जगह लेता है, और इस प्रकार पर्यावरण के अनुकूल है. मुंबई में एनएमआईएमएस के सुनंदन दिवातिया स्कूल ऑफ साइंस के डीन नीतिन देसाई ने बताया, हमने लिथियम बटन वाली बैटरी का इस्तेमाल किया है, जिसे इस्तेमाल कर फेंका जा सकता है. यह छह से आठ महीने तक चल सकती है. 

यह भी पढ़ें: Elon Musk के SpaceX ने 88 सैटेलाइट को अंतरिक्ष में प्रक्षेपित किया

देसाई ने कहा, प्रयोगशाला की स्थितियों में इसे लगातार 72 घंटे तक इस्तेमाल किया जा सकता है. यह मास्क बैक्टीरिया और फंगस के विकास को 99.9 प्रतिशत तक रोक देता है. उन्होंने कहा कि अगले सप्ताह से फार्मा कंपनी मिल्टन ग्रुप द्वारा इस मास्क को व्यावसायिक रूप से बेचा जाएगा. इसकी कीमत 800 रुपये से 1,000 रुपये के बीच होगी.  -इनपुट आईएएनएस

यह भी पढ़ें: ब्लैक होल-न्यूट्रॉन सितारे की टक्कर, पृथ्वी तक आईं गुरुत्वाकर्षण तरंगें

First Published : 03 Jul 2021, 08:31:28 AM

For all the Latest Science & Tech News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.