News Nation Logo
Banner

10 अरब वर्षों में 10 गुना से अधिक बढ़ा ब्रह्मांड में गैसों का तापमान

ब्रह्मांड के तापमान में वृद्धि कैसे हुई, यह देखने के लिए प्लैंक और स्लोअन डिजिटल स्काई सर्वे के डेटा का उपयोग किया गया था. अध्ययन के प्रमुख लेखक ने कहा कि आकाशगंगा और संरचना के गठन की प्राकृतिक प्रक्रिया के कारण ब्रह्मांड गर्म हो रहा है. 

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 15 Nov 2020, 12:36:34 PM
galaxy

ब्रह्मांड (Photo Credit: न्यूज नेशन )

ओहायो:

ओहायो स्टेट यूनिवर्सिटी सेंटर फॉर कॉस्मोलॉजी और एस्ट्रोपार्टिकल फिजिक्स द्वारा किए गए एक अध्ययन के अनुसार, ब्रह्मांड का तापमान गतिशील रूप से बढ़ता ही जा रहा है. पिछले 10 अरब वर्षों में ब्रह्मांड के थर्मल इतिहास  की जांच करने के बाद यह निष्कर्ष निकाला गया है. अध्ययन के अनुसार, ब्रह्मांड में गैसों का औसत तापमान पिछले 10 अरब वर्षों में 10 गुना से अधिक बढ़ गया है. वैज्ञानिकों ने शोध में पाया है कि तापमान आज लगभग 20 लाख डिग्री केल्विन तक पहुंच गया है जो लगभग 4 मिलियन डिग्री फ़ारेन हाइट है. 

यह भी पढ़ें : अगला साल और भी खराब होगा, दिवाली पर WFP की बुरी खबर

शोधकर्ता फेलो यी कुआन चियांग के मुताबिक, तापमान का नया मापन 2019 में भौतिकी में नोबेल प्राइज प्राप्त वैज्ञानिक जिम पीबल्स द्वारा प्रभावशाली कार्य को सही साबित करता है. वैज्ञानिकों ने कहा कि ब्रह्मांडीय संरचना के गुरुत्वाकर्षण बल के कारण ब्रह्मांड समय के साथ अधिक गर्म हो रहा है और इसके भविष्य में और बढ़ने की संभावना नजर आ रही है. ब्रह्मांड के तापमान में वृद्धि कैसे हुई, यह देखने के लिए प्लैंक और स्लोअन डिजिटल स्काई सर्वे के डेटा का उपयोग किया गया था. अध्ययन के प्रमुख लेखक ने कहा कि आकाशगंगा और संरचना के गठन की प्राकृतिक प्रक्रिया के कारण ब्रह्मांड गर्म हो रहा है. 

यह भी पढ़ें : अमेरिकी चुनाव में हार के बाद डोनाल्‍ड ट्रंप समर्थकों-विरोधियों में झड़प

अध्ययन में बताया गया है कि ब्रह्मांड के विकास के साथ गुरुत्वाकर्षण बल अंतरिक्ष में काले पदार्थ और गैस को एक साथ आकाशगंगाओं और आकाशगंगाओं के समूहों में खींचता है. इस प्रक्रिया से निकलने वाली ऊर्जा से भीषण गर्मी उत्पन्न हो रही है. इस शोध का संचालन करने के लिए वैज्ञानिकों ने पृथ्वी से दूर गैस के तापमान को मापने के लिए एक नई विधि का इस्तेमाल किया. फिर वैज्ञानिकों ने उन मापों की तुलना पृथ्वी के करीब और वर्तमान समय में मौजूद गैसों से की.

First Published : 15 Nov 2020, 12:36:34 PM

For all the Latest Science & Tech News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो