News Nation Logo

Sawan Pradosh Vrat 2022 What To Eat Or Not: सावन के पहले प्रदोष व्रत का होगा ग्रहों पर गहरा प्रभाव, व्रत के नियमों का पालन ही दिलाएगा शुभ फल की प्राप्ति

News Nation Bureau | Edited By : Gaveshna Sharma | Updated on: 23 Jul 2022, 03:17:54 PM
Sawan Pradosh Vrat 2022 What To Eat Or Not

सावन के पहले प्रदोष व्रत का होगा ग्रहों पर गहरा प्रभाव (Photo Credit: News Nation)

नई दिल्ली :  

Sawan Pradosh Vrat 2022 What To Eat Or Not: सावन का दूसरा सोमवार 25 जुलाई 2022 को है. इस दिन सावन का पहला प्रदोष व्रत भी है. दोनों ही तिथि शिव पूजा के लिए बहुत शुभ मानी जाती है. इस दिन सर्वार्थ सिद्धि योग और अमृत सिद्धि योग बनेगा, ज्योतिष के अनुसार जो लोग प्रदोष व्रत की शुरुआत करना चाहते हैं वो इस संयोग में शुरू कर सकते है. मान्यता है कि इस व्रत में शिव जी और मां पार्वती की आराधना करने से सारे दुख दूर हो जाते हैं. प्रदोष व्रत के नियमों का पालन करना बहुत जरूरी है. आइए जानते हैं इस दिन व्रत में क्या खाएं और क्या न खाएं.

 यह भी पढ़ें: Parrot Remedy On Saturday For Happiness: अब तोता खोलेगा आपकी किस्मत, शनि साढ़े साती में भी दिखाएगा अपना गहरा प्रभाव

सोम प्रदोष व्रत में क्या न खाएं
- सोम प्रदोष व्रत के दिन व्रतधारी को पूजा का फल तभी मिलता है जब वो नियमों का पालन करे. 

- ऐसे में इस दिन अन्न, चावल, लाल मिर्च और सादा नमक खाने से बचना चाहिए.  

सोम प्रदोष व्रत में क्या खाएं
- प्रदोष व्रत में शिव जी की पूजा सायं काल में की जाती है ऐसे में स्नान के बाद पूजा कर व्रत का संकल्प लें और फिर दूध ग्रहण कर सकते हैं.

- जो जातक शारीरिक तौर पर कमजोर हैं वो खुद को हाइड्रेट रखें साथ ही फलों का सेवन करें. दिन में एक समय ही फलाहार करें.

- प्रदोष काल में भगवान भोलेनाथ और माता पार्वती की पूजा करने के बाद भोजन ग्रहण कर सकते हैं. मान्यता है कि प्रदोष काल में उपवास में सिर्फ हरे मूंग का ही सेवन करें, क्योंकि हरा मूंग पृथ्‍वी तत्व है और मंदाग्नि को शांत रखता है.

यह भी पढ़ें: Sawan Pradosh Vrat 2022 Tithi, Shubh Muhurt and Pradosh Kaal: सावन के दूसरे सोमवार पर प्रदोष व्रत का दुर्लभ शुभ संयोग, जानें पुजा मुहूर्त और प्रदोष काल

सावन सोम प्रदोष व्रत 2022 शुभ मुहूर्त
सावन त्रयोदशी तिथि का प्रारंभ- 25 जुलाई को शाम 04 बजकर 15 मिनट से
सावन त्रयोदशी तिथि का समापन- 26 जुलाई को शाम 06 बजकर 46 मिनट पर

सावन सोम प्रदोष व्रत 2022 पूजा मुहूर्त- प्रदोष व्रत के दिन पूजा शाम के समय प्रदोष काल में की जाती है, इसलिए सावन का पहला प्रदोष व्रत 25 जुलाई, सोमवार को रखा जाएगा. इस दिन का पूजा मुहूर्त शाम 07 बजकर 17 से रात 09 बजकर 21 तक रहेगा.

First Published : 23 Jul 2022, 03:17:54 PM

For all the Latest Religion News, Dharm News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.