News Nation Logo
Banner

Covid-19: उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू की कोरोना रिपोर्ट आई पॉजिटिव

देश में कोरोना वायरस (Corona virus) के हालात अभी भी गंभीर हैं. गृह मंत्री अमित शाह और अन्‍य कई बड़े नेताओं के बाद अब उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू (Venkaiah Naidu) की भी कोरोना वायरस रिपोर्ट पॉजिटिव आई है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 29 Sep 2020, 10:38:07 PM
venkaiah naidu

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू (Venkaiah Naidu) (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:

देश में कोरोना वायरस (Corona virus) के हालात अभी भी गंभीर हैं. गृह मंत्री अमित शाह और अन्‍य कई बड़े नेताओं के बाद अब उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू (Venkaiah Naidu) की भी कोरोना वायरस रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. उपराष्ट्रपति सचिवालय ने मंगलवार को ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है.

यह भी पढे़ंः Bihar Election: मायावती का ऐलान- RLSP के साथ गठबंधन में लड़ेंगे चुनाव

सचिवालय ने कहा कि नायडू (71) में संक्रमण के लक्षण नहीं हैं और उनकी तबीयत ठीक है. सचिवालय ने ट्वीट किया कि भारत के उपराष्ट्रपति ने आज सुबह कोविड-19 का नियमित परीक्षण कराया, जिसमें उनके संक्रमित होने की पुष्टि हुई. नायडू को घर में पृथक-वास में रहने की सलाह दी गई है. ट्वीट में कहा गया है कि उनकी पत्नी उषा नायडू की जांच रिपेार्ट नकारात्मक रही है.

नायडू ने निजी क्षेत्र से ग्रामीण इलाकों में आधुनिक स्वास्थ्य सेवाएं विकसित करने का आह्वान किया

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने मंगलवार को सभी के लिए बेहतर गुणवत्ता वाली स्वास्थ्य सेवाएं सुलभ और सस्ती बनाने का आह्वान किया. साथ ही निजी क्षेत्र से देश के ग्रामीण इलाकों में आधुनिक सुविधाओं को विकसित करने को बढ़ावा देने का आग्रह किया. फिक्की द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने यह बातें कहीं.

उपराष्ट्रपति ने कहा कि निजी क्षेत्र आगे आ सकते हैं और सार्वजनिक-निजी साझोदारी (पीपीपी) के जरिए इन क्षेत्रों में अपना विस्तार कर सकते हैं. देश में प्रत्येक हितधारक की क्षमता का उपयोग किए जाने की आवश्यकता पर जोर देते हुए उन्होंने स्वास्थ्य सेवा वितरण प्रणाली को मजबूत करने का आह्वान किया.

यह भी पढे़ंः भारत का चीन को जवाब- एकतरफा तरीके से परिभाषित LAC स्वीकार नहीं

नायडू ने निजी क्षेत्र से अनुरोध किया कि वे अत्याधुनिक एवं उन्नत उपकरणों समेत अन्य स्वास्थ्य उपकरणों के उत्पादन में वृद्धि के लिए ''आत्मनिर्भर'' अभियान का अधिक से अधिक लाभ उठाएं. उन्होंने इस ओर भी ध्यान दिलाया कि कोविड-19 महामारी ने लोगों को स्वास्थ्य के प्रति अधिक सतर्क रहने की भी सीख दी है.

भारतीय वाणिज्य एवं उद्योग महासंघ (फिक्की) द्वारा 'कोविड काल के बाद का वैश्विक स्वास्थ्य' पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए नायडू ने कहा कि पुरानी आदतों की ओर लौटना भी एक नयी शुरुआत जैसा होना चाहिए. उन्होंने कहा कि हमारे पूवर्जों ने हमें पौष्टिक भोजन का सेवन करना सिखाया है। हमें फास्ट फूड और बेतरतीब खाने की आदतों से बचना चाहिए.

First Published : 29 Sep 2020, 10:31:36 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो