News Nation Logo
Banner

कोरोना की रफ्तार पर स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने जताई चिंता, बोले- तेजी से खत्म हो रहे अस्पतालों में बेड

बेलगाम होती कोरोना लहर को देखते हुए केंद्र सरकार भी एक्शन मोड़ में आ गई है. शुक्रवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने दिल्ली एम्स का दौरा किया और स्थिति का जायजा लिया.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 16 Apr 2021, 11:30:00 AM
Dr Harsh Vardhan

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन (Photo Credit: ANI)

highlights

  • कोरोना पर केंद्र सरकार एक्शन में
  • डॉ. हर्षवर्धन पहुंचे दिल्ली AIIMS
  • एम्स में स्थिति का लिया जायजा

नई दिल्ली:

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस की दूसरी लहर अब और ज्यादा बेकाबू हो गई है. हर रोज कोरोना मरीजों की संख्या लगातार नए रिकॉर्ड बना रही है. जैसे-जैसे कोरोना मरीजों की संख्या बढ रही है, वैसे-वैसे सरकार द्वारा की जा रही व्यवस्थाएं भी कम पड़ती जा रही है. बेलगाम होती कोरोना लहर को देखते हुए केंद्र सरकार भी एक्शन मोड़ में आ गई है. शुक्रवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने दिल्ली एम्स का दौरा किया और स्थिति का जायजा लिया. हालांकि इस दौरान बहुत तेज गति से बढ़ते कोरोना आंकड़ों पर चिंता जताई है.

यह भी पढ़ें: अब RT-PCR टेस्ट को भी धोखा दे रहा कोरोना, हर 5 में से 1 रिपोर्ट हो रही गलत

देश में कोरोना की स्थिति पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि कोरोना की रफ्तार पहले से ज्यादा बढ़ी है. यही कारण है कि अस्पतालों में बेड्स तेजी से खत्म हो रहे हैं. हालांकि उन्होंने बताया कि देश में अभी 20 लाख कोविड बेड्स उपलब्ध हैं. डॉ. हर्षवर्धन ने यह भी कहा कि केंद्र सरकार के पास वेंटिलेटर हैं, लेकिन अभी कोई राज्य सरकार हमसे वेंटिलेटर नहीं मांग रही है. बहुत सारी राज्य सरकारों को हमने जो वेंटिलेटर दिए हैं वो अभी उन सबका भी इस्तेमाल नहीं कर पाई हैं, उनके पास वेंटिलेटर लगाने का स्थान नहीं है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि इस समय हालात कठिन हैं, लेकिन अपना धैर्य न खोएं. किसी भी हालात में धैर्य खोने की जरूरत नहीं है. उन्होंने कहा कि कोरोना से लड़ाई के लिए बेहतर तैयारी है. सिस्टम में और सुधार कर रहे हैं. डॉ. हर्षवर्धन ने कहा, '2021 में 2020 के मुकाबले भले ही मामलों की संख्या बढ़ रही है, उसकी गति तेज है. लेकिन 2021 में आपके (डॉक्टरों) पास कई सौ गुना ज्यादा अनुभव है और हम बीमारी की गंभीरता को अच्छी तरह समझ चुके हैं. हमारे पास आज पहले के मुकाबले ज्यादा आत्मविश्वास है.'

यह भी पढ़ें: LIVE: कोरोना का कहर तेज: अब कर्नाटक के 7 जिलों में नाइट कर्फ्यू 

उन्होंने कहा कि किसी चीज की कोई कमी नहीं है, अनुभव भी पर्याप्त हो गया है, सामान भी पर्याप्त है और टेस्टिंग की सुविधा भी पर्याप्त है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि समाज में कोरोना वायरस को लेकर लापरवाही बढ़ी है, हर चैलेंज को स्वीकार करके आगे बढ़ते जाना है. इससे पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने एम्स के ट्रामा सेंटर का दौरा कर वहां स्वास्थ्य सुविधाओं का जायजा लिया. इस दौरान उनके साथ एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया भी मौजूद रहे.

First Published : 16 Apr 2021, 11:29:48 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.