News Nation Logo

SSR Case: कुमार विश्वास का उद्धव सरकार पर निशाना, बोले- राजमहल की दीवारों से रिश्ता है हत्यारों का...

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत की गुत्थी सुलझने के बजाय उलझती जा रही है. डेढ़ महीने से ज्यादा वक्त हो गया, लेकिन अभी तक पुलिस इस केस को सुलझा नहीं पाई है. मुंबई पुलिस डेढ़ महीने से केस की जांच कर रही है.

News Nation Bureau | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 03 Aug 2020, 02:09:17 PM
kumar

कुमार विश्वास (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

नई दिल्ली:

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत की गुत्थी सुलझने के बजाय उलझती जा रही है. डेढ़ महीने से ज्यादा वक्त हो गया, लेकिन अभी तक पुलिस इस केस को सुलझा नहीं पाई है. मुंबई पुलिस डेढ़ महीने से केस की जांच कर रही है. पुलिस के हाथ अभी भी अपराधी के गिरेबां तक ना पहुंची है. सुशांत के परिवार द्वारा पटना में केस दर्ज किए जाने के बाद बिहार पुलिस अपने एंगल से जांच कर रही है. मामले की जांच के लिए पटना से पुलिस की एक टीम मुंबई आई है और कुछ दिनों में कई बड़े खुलासे कर दिए हैं. इस बीच पटना पुलिस की टीम को लीड करने के लिए आए एसपी विनय तिवारी को बीएमसी ने 'जबरन' क्वारंटाइन कर दिया.

कुमार विश्वास के इस ट्वीट पर लोग खूब प्रतिक्रिया दे रहे हैं

यह भी पढ़ें- Live: सुशांत केस पर संजय राउत बोले- जो सरकार से बाहर, वो न करें जांच पर टिप्पणी

इसके बाद कुमार विश्वास काफी नाराज हो गए. उन्होंने ट्वीट कर आपत्ति जताई है. उन्होंने कहा कि मौन यही बतलाता है इन निर्वाचित सरकारों का, राजमहल की दीवारों से रिश्ता है हत्यारों का!' कुमार विश्वास के इस ट्वीट पर लोग खूब प्रतिक्रिया दे रहे हैं.वहीं दूसरी तरफ मुंबई पुलिस की जांच कई सवालों के घेरे में आ गए हैं और उसपर आरोप लग रहे हैं कि वह बिहार से आई पुलिस टीम का जांच में सहयोग नहीं कर रही है. इसके बावजूद एसपी विनय तिवारी को क्वारंटाइन किए जाने के बाद पुलिस पर फिर सवाल खड़े हो रहे हैं.

बिहार और महाराष्ट्र सरकार आमने सामने आ गई

यह भी पढ़ें- बिहार विधानसभा के विशेष सत्र में सुशांत सिंह सुसाइड केस पर चर्चा, सरकार से CBI जांच कराने की मांग

वहीं दूसरी तरफ आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी को क्वारंटीन किए जाने के बाद बिहार और महाराष्ट्र सरकार आमने सामने आ गई है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने कहा कि जांच के लिए गए आईपीएस अधिकारी को क्वारंटीन करना सही नहीं है. इस मामले में जो हुआ है वह सही नहीं हुआ. इस मामले में डीजीपी को जल्द से जल्द महाराष्ट्र के डीजीपी से बात करने को कहा गया है. दरअसल सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच के लिए बिहार सरकार ने पटना के एसपी सिटी आईपीएस विनय तिवारी को रविवार को मुंबई भेजा था. विनय तिवारी के मुंबई पहुंचते ही बीएमसी ने उन्हें 14 दिन के लिए क्वारंटीन कर दिया. इसके बाद से ही इस मामले में बवाल शुरू हो गया है. इस मामले में मुंबई पुलिस और महाराष्ट्र सरकार पर सवाल उठ रहे हैं.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 03 Aug 2020, 01:59:54 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.