News Nation Logo
Banner

सीरम इंस्टीट्यूट ने Covishield के इमरजेंसी उपयोग की मांगी इजाजत

फाइजर के बाद सीरम इंस्टिट्यूट ने कोरोना वैक्सीन के इमरजेंसी ऑथोराइजेशन के लिए डीसीजीआई से अनुमति मांगी है. ऑक्सफ़ोर्ड और AstraZeneca की कोरोना वैक्सीन भारत में ट्रायल सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया कर रही है.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 07 Dec 2020, 09:30:41 AM
covishield

सीरम इंस्टीट्यूट ने कोविशील्ड के इमरजेंसी उपयोग की मांगी इजाजत (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

फाइजर के बाद सीरम इंस्टिट्यूट ने कोरोना वैक्सीन के इमरजेंसी ऑथोराइजेशन के लिए डीसीजीआई से अनुमति मांगी है. ऑक्सफ़ोर्ड और AstraZeneca की कोरोना वैक्सीन भारत में ट्रायल सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया कर रही है. सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया कोरोना वैक्सीन के लिए डीसीजीआई से अनुमति मांगने वाली वाली पहली स्वदेशी कंपनी बन गई है.

यह भी पढ़ेंः कांग्रेस नेता ने लांघी सीमा, पीएम नरेंद्र मोदी को बताया 'तानाशाह'

'कोविशील्ड' के तीसरे चरण का हुआ क्लीनिकल परीक्षण
शनिवार को अमेरिकी दवा निर्माता कंपनी फाइजर की भारतीय इकाई ने उसके द्वारा विकसित कोविड-19 टीके के आपातकालीन इस्तेमाल की औपचारिक मंजूरी के लिए भारतीय दवा नियामक के समक्ष आवेदन किया था. फाइजर ने उसके कोविड-19 टीके को ब्रिटेन और बहरीन में ऐसी ही मंजूरी मिलने के बाद यह अनुरोध किया था. वहीं, एसआईआई ने भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के साथ मिलकर रविवार को देश के विभिन्न हिस्सों में ऑक्सफ़ोर्ड के कोविड-19 टीके 'कोविशील्ड' के तीसरे चरण का क्लीनिकल परीक्षण भी किया.

यह भी पढ़ेंः प्रधानमंत्री मोदी आज आगरा मेट्रो के निर्माण कार्य का करेंगे शुभारंभ

कोरोना के गंभीर मरीजों के लिए प्रभावकारी
एसआईआई के आवेदन का हवाला देते हुए कहा कि कंपनी ने बताया है कि क्लीनिकल परीक्षण के चार डाटा में यह सामने आया है कि कोविशील्ड लक्षण वाले मरीजों और खासकर कोविड-19 के गंभीर मरीजों के मामले में खासी प्रभावकारी है. चार में से दो परीक्षण डाटा ब्रिटेन जबकि एक-एक भारत और ब्राजील से संबंधित है.

First Published : 07 Dec 2020, 09:12:26 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

LiveScore Live IPL 2021 Scores & Results

वीडियो

×