News Nation Logo
Banner

सिकंदराबादः अमित शाह ने ओवैसी और KCR पर बोला हमला, जानें 5 बड़ी बातें

अमित शाह ने सिकंदराबाद के वारसीगुडा में एक रोड शो किया. आपको बता दें कि इस रोड शो के बाद अमित शाह ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की जिसमें उन्होंने असदुद्दीन ओवैसी और मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव पर जमकर हमला बोला. आइए आपको बताते हैं अमित शाह के हमले की पांच

Written By : रवींद्र प्रताप सिंह | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 29 Nov 2020, 06:05:34 PM
Amit Shah

अमित शाह (Photo Credit: एनआई ट्विटर)

नई दिल्ली :

रविवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह रविवार को हैदराबाद में हो रहे निकाय चुनाव में एक जनसभा को संबोधित करने के लिए पहुंचे. गृहमंत्री अमित शाह ने यहां के ओल्ड सिटी में सबसे पहले भाग्यलक्ष्मी मंदिर में पूजा-अर्चना की. इसके बाद अमित शाह ने सिकंदराबाद के वारसीगुडा में एक रोड शो किया. आपको बता दें कि इस रोड शो के बाद अमित शाह ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की जिसमें उन्होंने असदुद्दीन ओवैसी और मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव पर जमकर हमला बोला. आइए आपको बताते हैं अमित शाह के हमले की पांच बड़ी बातें. 

टीआरएस-मजलिस में चलता है इलू-इलू
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने सिकंदराबाद में टीआरएस और मजलिस पर निशाना साधते हुए कहा कि ये जनता को दिखाने के लिए तो एक दूसरे के विरोधी हैं लेकिन इनके बीच गुप्त समझौते चलते है. शाह ने कहा कि मुझे इनके बीच के गुप्त समझौतों से कोई दिक्कत नहीं है. दिक्कत है कि वे यह छिपकर क्यों करते हैं. कमरे में इलू-इलू करते हैं उन्हें ये बात खुले आम स्वीकार करनी चाहिए कि उनके बीच क्या रिश्ता है. शाह ने हमला जारी रखते हुए आगे कहा कि सरदार पटेल के प्रयासों की वजह से हैदराबाद और आसपास के इलाके भारत के साथ जुड़े लेकिन जिन्होंने उस दौरान पाकिस्तान जाने की मुहिम चलाई थी ऐसी निजाम संस्कृति से हम हैदराबाद को निजात दिलाना चाहते हैं.

ओवैसी और केसीआर पर बोला हमला
अमितशाह ने ओवैसी और केसीआर पर हमला बोलते हुए पूछा कि जब हैदराबाद डूब रहा था तब ये लोग कहां थे. जब लोग मुसीबत में फंसे हुए थे तब ओवैसी और राज्य के मुख्यमंत्री केसीआर कहां गायब हो गए थे. हमने अभी तक जनता से जितने भी वादे किए थे वो सभी पूरे किए हैं. उन्होंने टीआरएस को हैदराबाद के विकास में सबसे बड़ा रोड़ा बताते हुए सीएम केसीआर पर हमला बोलते हुए कहा कि अगर बीजेपी सत्ता में आई तो शहर के सारे अवैध निर्माणों पर कार्रवाई करेगी.

यह भी पढ़ेंःअमित शाह ने किसानों से की अपील-सरकार तुरंत बातचीत के लिए तैयार, हर मांग पर करेंगे विचार

हैदराबाद की राजनीति में परिवारवाद पर हमला
शाह ने राजनीतिक पार्टियों में परिवारवाद पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि वह हैदराबाद को नवाब-निजाम कल्चर से मुक्त कराते हुए इसे आधुनिक शहर बनाना चाहते हैं. हैदराबाद को डाइनेस्टी से डेमोक्रेसी की ओर ले जाना चाहते हैं. भ्रष्टाचार से पारदर्शिता की ओर ले जाना चाहते हैं. तुष्टिकरण से विकास की ओर ले जाना चाहते हैं. हैदराबाद का एक बड़ा हिस्सा है, जो खुद को अपमानित महसूस करता है. हम ऐसी व्यवस्था बनाना चाहते हैं कि किसी की भी हिम्मत नहीं होगी, उन्हें दोयम दर्जे का बनाए.

यह भी पढ़ेंःनक्सलवाद खात्मे के लिए भूपेश बघेल ने अमित शाह से की मुलाकात, दिया ये प्रस्ताव

मौजूदा कार्पोरेशन विकास में टीआरएस सबसे बड़ा रोड़ा
शाह ने कहा कि हैदराबाद में आईटी हब बनने की बहुत संभावना है लेकिन यह तब बनता है जब इसके अनुरूप इन्फ्रस्ट्रक्चर हो. यह बनाने का जिम्मा नगर निकाय होता है. केंद्र सरकार और राज्य सरकार से इसके लिए अनुदान मिलता है लेकिन इसका क्रियान्वयन नगर निकाय द्वारा होता है. जिस प्रकार हैदराबाद में म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन चल रहा है वह आईटी हब बनने का रोड़ा है. उन्होंने केसीआर पर हैदराबाद की जनता के साथ किया वादा नहीं निभाने का आरोप लगाया. साथ ही मोदी सरकार की उपलब्धियां गिनाईं.

यह भी पढ़ेंःओवैसी के गढ़ में गरजे अमित शाह, बोले- हैदराबाद में बनेगा BJP का मेयर, निजाम कल्चर से दिलाएंगे मुक्ति

रोहिंग्या मुसलमानों पर बोला हमला
राज्य में रोहिंग्या मुसलमानों और बांग्लादेशियों की मौजूदगी से संबंधित सवाल पर अमित शाह उखड़ गए. उन्होंने कहा, 'मैं जब कार्रवाई करता हूं तो ये लोग (विपक्षी दल) हायतौबा करते हैं. ये लोग एक बार लिखकर दे दें कि बांग्लादेशी और रोहिंग्या को निकाल दें फिर मैं करता हूं.' उन्होंने कहा कि सिर्फ चुनाव में बात करके कुछ नहीं होता. जब पार्लियामेंट में बहस होती है तब ये क्या करते हैं सारे देश ने देखा है.

First Published : 29 Nov 2020, 04:38:16 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.