News Nation Logo
Banner

अब मनसे प्रमुख को अयोध्या में पीएम मोदी के राम मंदिर भूमि-पूजन कार्यक्रम पर हुई आपत्ति, जानें क्यों

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के प्रमुख राज ठाकरे ने शुक्रवार को कहा कि वैश्विक महामारी कोविड-19 संकट के मद्देनजर अयोध्या में राम मंदिर के लिए अभी ‘भूमि पूजन’ कार्यक्रम आयोजित करने की आवश्यकता नहीं थी.

By : Yogendra Mishra | Updated on: 01 Aug 2020, 12:50:54 AM
Raj Thackeray

राज ठाकरे। (Photo Credit: फाइल फोटो)

मुम्बई:

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के प्रमुख राज ठाकरे ने शुक्रवार को कहा कि वैश्विक महामारी कोविड-19 संकट के मद्देनजर अयोध्या में राम मंदिर के लिए अभी ‘भूमि पूजन’ कार्यक्रम आयोजित करने की आवश्यकता नहीं थी और इसे स्थिति सामान्य होने के बाद आयोजित किया जा सकता था. राम मंदिर के लिए भूमि पूजन का कार्यक्रम पांच अगस्त को आयोजित किया जा रहा है.

यह भी पढ़ें- सुशांत मामले की हो सकती है सीबीआई जांच, बिहार सरकार कर रही विचार

ठाकरे ने ‘ई- भूमि पूजन’ के महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के सुझाव को भी खारिज कर दिया और कहा कि भूमि पूजन का कार्यक्रम बड़े उत्साह के साथ आयोजित किया जाना चाहिए. मनसे प्रमुख ने मराठी समाचार चैनल से कहा, ‘‘ इस समय भूमि-पूजन की आवश्यकता नहीं थी क्योंकि अभी लोगों की मानसिक स्थिति बिल्कुल अलग है.

यह भी पढ़ें- रेल यात्री कृपया ध्यान दें, भारतीय रेलवे (Indian Railway) दे सकता है और बुलेट ट्रेन का तोहफा

स्थिति सामान्य होने पर इसे दो महीने बाद भी किया जा सकता था. तब लोग इस कार्यक्रम का आनंद भी उठा पाते.’’ श्री राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र न्यास ने अयोध्या में भूमि पूजन के लिए प्रधानमंत्री को आमंत्रित किया है. न्यास के सदस्यों के अनुसार, राम मंदिर का निर्माण शुरू करने के वास्ते भूमि पूजन के लिए प्रधानमंत्री के पांच अगस्त को अयोध्या का दौरा करने की उम्मीद है.

First Published : 31 Jul 2020, 03:38:09 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो