News Nation Logo

राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर लगाए गंभीर आरोप, कहा-राज्यसभा में सांसदों की पिटाई हुई

राहुल गांधी सरकार को घेरने के लिए विपक्ष को भी एकजुट करने में लगे हुए हैं. पूरे संसद सत्र के दौरान विपक्ष एकजुट नजर आया.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 12 Aug 2021, 12:30:08 PM
rahul gandhi

राहुल गांधी (Photo Credit: ANI)

highlights

  • राहुल गांधी का सरकार पर बड़ा आरोप
  • राज्यसभा में सांसदों के साथ की गई बदसलूकी
  • संसद के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ

नई दिल्ली :  

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) इन दिनों सियासत के फ्रंटफुट पर खेल रहे हैं. वो लगातार मोदी सरकार पर हमलावर हो रहे हैं. इतना ही नहीं राहुल गांधी सरकार को घेरने के लिए विपक्ष को भी एकजुट करने में लगे हुए हैं. पूरे संसद सत्र के दौरान विपक्ष एकजुट नजर आया. संसद सत्र के खत्म होने पर राहुल गांधी समेत 15 दलों ने आज विजय चौक से संसद तक पैदल मार्च किया. पैदल मार्च करने के बाद राहुल गांधी ने मीडिया से बात की और मोदी सरकार पर गंभीर आरोप लगाए. राहुल गांधी ने कहा कि राज्यसभा में पहली बार सांसदों की पिटाई हुई है. कांग्रेस नेता ने कहा कि देश के 60 प्रतिशत लोगों की आवाज दबाई जा रही है.  

राहुल गांधी ने सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि राज्यसभा में सांसदों के साथ बदसलूकी की गई. हमने सरकार से पेगासस मुद्दे पर चर्चा करने की बात कही, हमने किसानों, महंगाई का मुद्दा उठाया. लेकिन हमारे आवाज को दबाया गया. राहुल ने कहा कि ये लोकतंत्र की हत्या है.  

इसे भी पढ़ें:इसलिए असफल रहा ISRO का EOS-03 लांच, जानें तकनीकी पहलू

राहुल गांधी ने कहा कि संसद का सत्र समाप्त हो गया है. जहां तक देश के 60 प्रतिशत हिस्से का सवाल है, संसद का कोई सत्र नहीं हुआ है. 60 प्रतिशत देश की आवाज को कुचला गया, अपमानित किया गया और कल राज्यसभा में पीटा गया.

राहुल गांधी ने आगे कहा कि आज हमें आपसे (मीडिया) बात करने के लिए यहां आना पड़ा क्योंकि हमें (विपक्ष) संसद में बोलने की अनुमति नहीं है. यह लोकतंत्र की हत्या है.

और पढ़ें:Congress का ऑफिशियल Twitter अकाउंट भी Lock, राहुल गांधी से हुई थी शुरुआत

दरअसल, राज्यसभा में बीते दिन महिला सांसदों के साथ बदसलूकी होने का आरोप लगा. विपक्ष ने आरोप लगाया कि सुरक्षाकर्मियों द्वारा बदसलूकी की गई. उन्होंने कहा कि संसद के इतिहास में ऐसा कभी नहीं हुआ था. 

पैदल मार्च में शामिल शिवसेना नेता संजय राउत ने भी कहा कि  विपक्ष को संसद में अपने विचार रखने का मौका नहीं मिला. महिला सांसदों के खिलाफ कल की घटना लोकतंत्र के खिलाफ थी. ऐसा लगा जैसे हम पाकिस्तान सीमा पर खड़े हैं.

शिवसेना सांसद संजय राउत ने आगे कहा कि जब राज्यसभा में बिल पास हो रहा था, तब मार्शल को बुलाया गया. क्या हमें डराना चाहते हैं? विपक्ष पूरी तरह से एकजुट है. 20 अगस्त को सोनिया गांधी कांग्रेस शासित राज्यों से बात करेंगी. सीएम उद्धव ठाकरे भी इस बैठक में शिरकत करेंगे.

First Published : 12 Aug 2021, 12:27:17 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.