News Nation Logo
Banner

मुख्तार अंसारी को बचाने के लिए पंजाब सरकार ने झोंकी ताकत, क्या ला पाएगी UP पुलिस?

पंजाब सरकार लगातार माफिया मुख़्तार अंसारी को बचाने में लगी है, जहां एक ओर यूपी पुलिस टीम मुख़्तार को रोपण जेल से यूपी लाने के लिए लगातार सक्रिय है. वहीं एक माफिया को शरण और राजनीतिक संरक्षण देने में पंजाब सरकार लगातार जुटी हुई है.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 11 Jan 2021, 11:45:07 AM
mukhtar ansari

मुख्तार अंसारी को बचाने के लिए पंजाब सरकार ने झोंकी ताकत (Photo Credit: न्यूज नेशन )

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश पुलिस माफिया मुख़्तार अंसारी को हरहाल में प्रदेश वापस लाना चाहती है, लेकिन उसके लिए अंसारी को पंजाब से यूपी लाना टेढ़ी खीर साबित हो रहा है. दरअसल, सुप्रीम कोर्ट की नोटिस पर पंजाब सरकार के द्वारा की गई अवहेलना अब पंजाब सरकार को कठघरे में खड़ा कर चुकी है. पंजाब सरकार लगातार माफिया मुख़्तार अंसारी को बचाने में लगी है, जहां एक ओर यूपी पुलिस टीम मुख़्तार को रोपण जेल से यूपी लाने के लिए लगातार सक्रिय है, वहीं एक माफिया को शरण और राजनीतिक संरक्षण देने में पंजाब सरकार लगातार जुटी हुई है.

यह भी पढ़ें : कोरोना का एक और स्ट्रेन आया सामने, जापान को वायरस में मिले 12 म्यूटेशन

सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में मुख़्तार मामले को लेकर सुनवाई होनी है. उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार की माफिया विधायक मुख्तार अंसारी को कोर्ट में विचाराधीन मामले में पेश कराने की योजना पर पंजाब के रोपड़ जिले की पुलिस और रोपड़ जेल के अधीक्षक ने नोटिस लेने के बाद जवाब दाखिल करने की योजना बताकर गाजीपुर पुलिस को खाली हाथ भेज दिया.

यह भी पढ़ें : कोरोना वैक्सीन के लिए लोगों के मोबाइल से जोड़े जाएंगे आधार कार्ड

बता दें कि मुख्तार अंसारी को 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले बांदा से पंजाब की रोपड़ जेल में शिफ्ट किया गया था. उसे पंजाब में दर्ज रंगदारी के एक मामूली मामले में रोपड़ जेल लाया गया था.

First Published : 11 Jan 2021, 11:29:45 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.