News Nation Logo
Banner

कोरोना से जंग: पीएम मोदी का मुख्यमंत्रियों को मंत्र, वैक्सीन की पूरी तैयारी, लेकिन बचाव रखें जारी

पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) मंगलवार को आठ राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की. कोरोना वायरस को लेकर सबसे प्रभावित राज्यों के सीएम के साथ पीएम मोदी ने वर्चुअल बैठक की.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 24 Nov 2020, 03:52:49 PM
PM Narendra modi CMs

पीएम मोदी का मुख्यमंत्रियों को मंत्र, वैक्सीन की पूरी तैयारी (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली :

पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) मंगलवार को आठ राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की. कोरोना वायरस को लेकर सबसे प्रभावित राज्यों के सीएम के साथ पीएम मोदी ने वर्चुअल बैठक की. पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया की हर वैक्सीन पर सरकार की नजर है. लेकिन अभी हमें सतर्कता बरतनी होगी. इसके साथ ही पीएम मोदी ने मुख्यमंत्रियों से वैक्सीन वितरण को लेकर प्लान भी मांगा है.

पीएम मोदी ने कहा कि भारत सरकार वैक्सीन के प्रत्येक चरण पर नजर रख रही है. हम भारतीय वैक्सीन डेवलपर्स और निर्माताओं के संपर्क में हैं. हम वैश्विक नियामकों, अन्य देशों की सरकारों, बहुराष्ट्रीय संगठनों और अंतरराष्ट्रीय कंपनियों के साथ भी संपर्क में हैं.

वैक्सीन की कीमत कितनी होगी और डोज क्या होगा इसके बारे में अभी कुछ पता नहीं

उन्होंने आगे बताया कि यह निश्चित नहीं है कि टीके की एक, दो या तीन खुराकें होंगी या नहीं. यह भी तय नहीं किया गया है कि वैक्सीन की कीमत क्या होगी. हमारे पास अभी भी इन सवालों के जवाब नहीं हैं.

पीएम मोदी ने आगे राज्यों को कहा कि कोविड 19 वैक्सीन के लिए राज्यों को कोल्ड स्टोरेज सुविधाएं स्थापित करने की जरूरत है. 

इसे भी पढ़ें:लव जिहाद के खिलाफ कानून के प्रस्ताव पर आज मुहर लगा सकती है UP कैबिनेट

राज्यों को बरतनी होगी सतर्कता

इसके साथ ही उन्होंने राज्यों को सतर्कता बरतने की भी सलाह दी. उन्होंने कहा कि हम सभी को पहले से भी अधिक जागरूक रहने की जरुरत है. हमें ट्रांसमिशन को कम करने के लिए आने प्रयासों को और गति देने की जरूरत है.

राज्य जल्द से जल्द विस्तृत योजनाएं वैक्सीन को लेकर भेजे

पीएम मोदी ने आगे कहा कि मैं राज्यों से आग्रह करता हूं कि वे जल्द से जल्द विस्तृत योजनाएं भेजें कि कैसे वे अंतिम छोर तक वैक्सीन ले जाने की योजना बनाते हैं. यह निर्णय लेने में हमारी मदद करेगा क्योंकि आपके अनुभव मूल्यवान हैं. मुझे आपकी समर्थक सक्रिय भागीदारी की आशा है. टीका का काम चल रहा है लेकिन मेरा आपसे अनुरोध है कि इसमें कोई लापरवाही नहीं होनी चाहिए.

पीएम ने आगे कहा कि वैक्सीन को लेकर भारत के पास जैसा अनुभव है, वो दुनिया के बड़े बड़े देशों के पास भी नहीं है. हमारे लिए जितनी जरूरी speed है, उतनी ही safety भी है.

एक-एक देशवासी का जीवन बचाने को प्राथमिकता दी है

कोरोना की लड़ाई की शुरुआत से ही हमने एक-एक देशवासी का जीवन बचाने को प्राथमिकता दी है.अब वैक्सीन आने के बाद भी हमारी प्राथमिकता होगी कि सभी तक वैक्सीन पहुंचे.

और पढ़ें :दीदी के बंगाल में BJP त्रिमूर्ती की मांग, मोदी, शाह और योगी की ढेरों सभाएं हों

पीएम मोदी ने आगे बताया कि भारत जो भी वैक्सीन अपने नागरिकों को देगा, वो हर वैज्ञानिक कसौटी पर खरी होगी. जहां तक वैक्सीन के वितरण की बात है, तो उसकी तैयारी भी आप सभी राज्यों के साथ मिलकर की जा रही है.

वैक्सीन की प्राथमिकता क्या होगी वो राज्यों के साथ मिलकर तय किया जाएगा

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि वैक्सीन प्राथमिकता के आधार पर किसे लगाई जाएगी, ये भी राज्यों के साथ मिलकर तय किया जाएगा. हर राज्य के सुझाव का इसमें बहुत महत्व होगा. क्योंकि आखिरकार उनको अंदाजा है कि उनके राज्यों में ये कैसे होगा.

उन्होंने आगे कहा कि कोरोना वैक्सीन से जुड़ा भारत का अभियान अपने हर देशवासी के लिए एक तरह से नेशनल कमिटमेंट की तरह है. देश में इतना बड़ा टीकाकरण अभियान स्मूद हो, सिस्टमैटिक और सही प्रकार से चलने वाला हो, ये केंद्र और राज्य सरकार सभी की जिम्मेदारी है.

First Published : 24 Nov 2020, 03:34:42 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.