News Nation Logo

देशव्यापी टीकाकरण का ड्राई रन आज, 12 से COVID टीका लगेगा !

इसकी खास बात यह है कि पहले की तीन चरणों की तरह यह ड्राई रन कुछ राज्यो के सीमित जिलों के बजाय देशव्यापी होगा.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 08 Jan 2021, 07:13:58 AM
COVID Vaccination Dry Run

आज ड्राई रन में परखी जाएंगी देशव्यापी तैयारियां. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

कोरोना के टीकाकरण को लेकर चौथे स्तर का ड्राई रन आज फिर से होगा. इसकी खास बात यह है कि पहले की तीन चरणों की तरह यह ड्राई रन कुछ राज्यो के सीमित जिलों के बजाय देशव्यापी होगा. यानी कोरोना वैक्सीनेशन शुरू होने से पहले देश के 736 जिलों में टीकाकरण का रिहर्सल किया जाएगा. वहीं डीसीजीआई की औपचारिक मंजूरी के बाद अगर सब कुछ ठीक रहता है, तो 12 जनवरी से कोरोना का टीका चरणबद्ध तरीके से देशवासियों को लगाए जाना शुरू किया जा सकता है. 

33 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में होगी रिहर्सल
गौरतलब है कि कोरोना वैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल को लेकर डीसीजीआई ने 3 जनवरी को अपनी मंजूरी दी थी. इसके तहत भारत में कोरोना की दो वैक्सीन को मंजूरी मिल चुकी है. सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशील्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को आपातकालीन इस्तेमाल की इजाजत मिली है. कोरोना के टीके को मंजूरी मिलने के बाद देश अब टीकाकरण कार्यक्रम का इंतजार कर रहा है. इसके पहले सरकार की ओर से टीकाकरण का ड्राई रन किया जा रहा है. आज से पहले 28 और 29 दिसंबर को 4 राज्यों में दो दिन के लिए ड्राई रन किया गया था. इसके बाद 2 जनवरी को सभी राज्यों में ड्राई रन चलाया गया था और अब 33 राज्यों (हरियाणा, हिमाचल और अरुणाचल को छोड़कर) और केंद्रशासित प्रदेशों में वैक्सीन का फिर से ड्राई रन शुरू हो रहा है.

यह भी पढ़ेंः सिविल सर्विसेज का जम्मू-कश्मीर कैडर खत्म, केंद्र सरकार ने जारी किया आदेश

परखा जाएगा टीकाकरण की तैयारियों को
ड्राई रन से पहले गुरुवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ समीक्षा बैठक की. राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों और प्रमुख अधिकारियों के साथ बैठक में हर्षवर्धन ने वैक्सीन के खिलाफ फैलाए जा रहे दुष्प्रचार पर चिंता जताते हुए कहा कि इससे टीकाकरण की तैयारियों को धक्का लग सकता है. स्वास्थ्य मंत्रालय के निर्देशों के अनुसार ड्राई रन में अस्पताल तक जाने, लोगों को बुलाने, फिर डोज देने की पूरी प्रक्रिया का पालन किया जाता है. मुख्य रूप से इसमें वैक्सीन के स्टोरेज, वितरण और टीकाकरण की तैयारियों को परखा जाता है. जो कि शहर के बड़े सरकारी अस्पतालों या अन्य जगहों पर की जा रही हैं.

यह भी पढ़ेंः Ind Vs Aus 3rd Test, Day 2: लंच तक ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 249/5

12 से शुरू हो सकता है कोविड टीकाकरण
दूसरी तरफ अगर सरकारी सूत्रों की मानें तो देश में कोविड -19 के खिलाफ बहुप्रतीक्षित टीकाकरण कार्यक्रम 12 जनवरी से शुरू होने की उम्मीद है. वैक्सीन वितरण में शामिल एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी के मुताबिक सभी संभावनाओं को देखते हुए, कोविड टीकाकरण अभियान अगले सप्ताह की शुरुआत में शुरू होने की उम्मीद है. तैयारियों को देखते हुए, रोल-आउट 11 जनवरी या 12 जनवरी तक शुरू हो सकता है. सरकार ने देश भर में स्थित विभिन्न हबों तक वैक्सीन की शीशियों को ले जाने की तैयारी शुरू कर दी है. वैक्सीन रोल-आउट कार्यक्रम में शामिल एजेंसियां गुरुवार और उसके बाद से वैक्सीन की शीशियों को भेजना शुरू कर देंगी.

यह भी पढ़ेंः  अमेरिका हिंसा: ट्रंप के फेसबुक और इंस्टाग्राम अकाउंट पर अनिश्चितकाल के लिए बैन

पुणे के केंद्रीय हब से होगा वितरण
प्राप्त जानकारी के अनुसार विनिर्माण इकाइयों से आने वाले टीकों को पुणे में केंद्रीय हब में ले जाया जाएगा. वहां से उन्हें देश भर के विभिन्न स्थानों पर स्थित क्षेत्रीय केंद्रों में ले जाया जाएगा. हरियाणा में करनाल और दिल्ली, देश के उत्तरी भाग में टीकों के भंडारण और रोल-आउट के लिए क्षेत्रीय हब के रूप में काम करेगा. चेन्नई और हैदराबाद दक्षिण भारत में टीकों के वितरण के लिए क्षेत्रीय केंद्र के रूप में काम करेंगे. पूर्वी भाग के लिए कोलकाता को वितरण बिंदु के रूप में नामित किया गया है, जबकि देश के पश्चिमी क्षेत्र में वितरण केवल सेंट्रल हब द्वारा कवर किया जाएगा. हालांकि सरकार की ओर से अभी तक कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है, सिवाय इसके कि टीकाकरण की मंजूरी की तारीख से 10 दिनों के भीतर टीकाकरण अभियान शुरू हो जाएगा.

First Published : 08 Jan 2021, 07:13:58 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.