News Nation Logo

सिविल सर्विसेज का जम्मू-कश्मीर कैडर खत्म, केंद्र सरकार ने जारी किया आदेश

जम्मू- कश्मीर कैडर के आईएएस, आईपीएस और भारतीय वन सेवा के अधिकारी अब ‘एजीएमयूटी’ कैडर का हिस्सा होंगे. अब पूर्ववर्ती जम्मू-कश्मीर कैडर के अधिकारियों को अरूणाचल प्रदेश, गोवा, मिजोरम तथा केंद्र शासित प्रदेश में नियुक्त किया जा सके.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 08 Jan 2021, 12:00:03 AM
Jammu and Kashmir cadre of civil services is over

केंद्र सरकार ने खत्म किया सिविल सर्विसेज का जम्मू-कश्मीर कैडर (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

केंद्र सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है. सिविल सर्विसेज के जम्मू-कश्मीर कैडर को खत्म कर दिया है. सरकार ने जम्मू-कश्मीर रिऑर्गेनाइजेशन एक्ट 2019 में संशोधन के लिए अधिसूचना जारी कर दी है. आदेश के मुताबिक, जम्मू- कश्मीर के आईएएस, आईपीएस और आईएफस अधिकारी अब एजीएमयूटी कैडर (अरुणाचल प्रदेश, गोवा, मिजोरम और यूनियन टेरेटरीज कैडर) का हिस्सा होंगे. 

यह भी पढ़ें : इस बार का बजट जनता और विशेषज्ञों के सुझाव से बनेगा : शिवराज

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा हस्ताक्षरित और कानून एवं न्याय मंत्रालय जारी एक अधिसूचना के अनुसार जम्मू-कश्मीर कैडर के आईएएस, आईपीएस और भारतीय वन सेवा के अधिकारी अब ‘एजीएमयूटी’ कैडर का हिस्सा होंगे. अब पूर्ववर्ती जम्मू-कश्मीर कैडर के अधिकारियों को अरूणाचल प्रदेश, गोवा, मिजोरम तथा केंद्र शासित प्रदेश में नियुक्त किया जा सके.

यह भी पढ़ें : DTC कर्मचारियों की ग्रेच्युटी राशि की सीमा बढ़ाई गई, जानें कितनी बढ़ी

दरअसल, इससे पहले जम्मू-कश्मीर कैडर के अधिकारियों की नियुक्ति दूसरे राज्यों में नहीं होती थी. सरकार के नए आदेश के बाद अब जम्मू-कश्मीर के अधिकारियों को दूसरे राज्य में भी नियुक्त किया जा सकेगा. बता दें कि मोदी सरकार ने साल 2019 में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने का फैसला लिया था. साथ ही जम्मू-कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों (जम्मू-कश्मीर और लद्दाख) में बांट दिया था. 

First Published : 07 Jan 2021, 10:55:33 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.