News Nation Logo
Banner

कंगना रनौत के ऑफिस पर बीएमसी की कार्रवाई मामले में हाईकोर्ट में आज सुनवाई

मुंबई में बीएमसी (BMC) द्वारा बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (kangana ranaut) का ऑफिस तोड़ने के मामले में आज बॉम्बे हाईकोर्ट में सुनवाई होगी. दरअसल कोर्ट के आदेश से पहले ही कंगना के ऑफिस को बीएमसी ने तोड़ था.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 24 Sep 2020, 08:32:24 AM
kangana ranaut

कंगना रनौत (Photo Credit: फाइल फोटो)

मुंबई:

मुंबई में बीएमसी (BMC) द्वारा बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (kangana ranaut) का ऑफिस तोड़ने के मामले में आज बॉम्बे हाईकोर्ट में सुनवाई होगी. दरअसल कोर्ट के आदेश से पहले ही कंगना के ऑफिस को बीएमसी ने तोड़ था. सबसे अहम बात यह है कि कंगना के मुंबई पहुंचने से पहले ही बीएमसी ने बुलडोजर चलाने की कार्रवाई कर दी थी. कंगना रनौत के ऑफिस पर बीएमसी की कार्रवाई पर 22 सितंबर को हुई सुनवाई में बॉम्बे हाई कोर्ट ने तोड़फोड़ का आदेश देने वाले बीएमसी अधिकारी और शिवसेना (Shivsena) नेता संजय राउत (Sanjay Raut) को इस केस में बतौर पार्टी शामिल होने का आदेश दिया. कंगना रनौत ने इस केस में अपनी याचिका में संजय राउत और बीएमसी वार्ड ऑफिसर को प्रतिवादी बनाने की मांग की थी. कंगना ने अपनी याचिका में संशोधन करके बीएमसी से 2 करोड़ रुपये के मुआवजे की मांग की है.

यह भी पढ़ेंः मोदी आज फिट इंडिया डायलॉग में फिटनेस के जुनूनी लोगों से करेंगे बात

अभिनेत्री कंगना रनौत ने बॉम्बे हाईकोर्ट में बीएमसी के हलफनामे पर अपना जवाब दाखिल कर दिया है. जवाब में कंगना की ओर से कहा गया है कि उनके दफ्तर पर की गई बीएमसी की कार्रवाई पक्षपातपूर्ण थी. उन्होंने इस बात से भी इनकार किया है कि जब कार्रवाई हुई, उस दौरान उनके दफ्तर में कोई निर्माण कार्य चल रहा था. कोर्ट में दाखिल जवाब में कहा गया कि बीएमसी की कार्रवाई किस तरह से पक्षपातपूर्ण है, ये इसी से पता चलता है कि कंगना के ऑफिस के बगल में ही बने मनीष मल्होत्रा के ऑफिस में अवैध निर्माण की बात कहते हुए उनको अपना जवाब देने के लिए 7 दिन का वक्त दिया गया, जबकि कंगना के दफ्तर को 24 घंटे बाद ही गिरा दिया गया.

यह भी पढ़ेंः गुजरात के सूरत में ONGC प्लांट में लगी भयंकर आग, फायर ब्रिगेड मौके पर

आपको बता दें कि बीएमसी ने नौ सितंबर को अवैध निर्माण का हवाला देते हुए कंगना रनौत के दफ्तर के कुछ हिस्सा को तोड़ दिया था, जिसके बाद से कंगना और महाराष्ट्र सरकार आमने सामने हैं. कंगना ट्विटर के ज़रिए महाराष्ट्र सरकार पर हमलावर है, जबकि सरकार का कहना है कि दफ्तर पर हुई कार्रवाई से उसका लेना देना नहीं है. बता दें कि कंगना ने बीएमसी पर गैर कानूनी ढंग से तोड़फोड़ का आरोप लगाते हुए बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दर्ज करवाई थी. कंगना 9 सितंबर को मुंबई वापस लौटीं थी. वहीं, BMC ने उनके दफ्तर में तोड़फोड़ की थी. ऐसे में कंगना रनौत ने अपनी नाराजगी जताते हुए वीडियो शेयर किया था.

यह भी पढ़ेंः BRO के बनाए 43 पुलों को आज देश को समर्पित करेंगे राजनाथ सिंह

गौरतलब है कि कंगना रनौत ने ट्वीट में एक वीडियो जारी कर कहा था कि उद्धव ठाकरे तू क्या समझता है कि तुमने फिल्म माफिया के साथ मिलकर मेरा घर तोड़कर बहुत अच्छा काम किया है. आज मेरा घर टूटा है कल तेरा घमंड टूटेगा. ये वक्त का पहिया है याद रखना. हमेशा एक जैसा नहीं रहता है.

First Published : 24 Sep 2020, 08:32:24 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो