News Nation Logo
Banner

जम्मू पुलिस ने अखनूर सेक्टर में बरामद किए पाकिस्तान से भेजे हथियार

पाकिस्तान से लगती अंतरराष्ट्रीय सीमा के अखनूर सेक्टर में पाक रेंजरों ने ड्रोन से हथियार भेजे. अंतर राष्ट्रीय सीमा पर तैनात जम्मू-कश्मीर पुलिस के जवानों ने ड्रोन की गतिविधि को देखा और इलाके में तलाशी अभियान चलाया.

By : Shailendra Kumar | Updated on: 23 Sep 2020, 09:45:30 AM
AK 47

एके 47 (Photo Credit: फोटो)

जम्मू कश्मीर:

जम्मू के अखनूर में एक बार फिर पाकिस्तान की बड़ी ड्रोन वाली साजिश नाकाम हो गयी है. जम्मू पुलिस और सेना ने मिलकर ड्रोन के जरिये भेजी जा रही दो कन्साइनमेंट को एक जॉइंट आपरेशन में बरामद किया है. पुलिस के मुताबिक कल शाम खुफिया सूत्रों से मिली जानकारी के बाद पुलिस और सेना दोनों ने मिलकर बॉर्डर के अलग-अलग हिस्सों में तलाशी अभियान चलाया. इसी दौरान अखनूर के पास एक इलाके से सुरक्षाबलों को ड्रोन की आवाज़ सुनाई दी, जैसे ही पुलिस ने पूरे इलाके को खंगाला तो ड्रोन द्वारा भेजे गए दो कन्साइनमेंट पुलिस के हाथ लग गए. जिसमे से पुलिस को दो एके 47 राइफल, 3 मैग्ज़ीन और एक पिस्टल बरबाद हुई.

यह भी पढ़ें : बॉलीवुड पायल घोष की सोसाइटी को BMC ने कंटेनमेंट जोन घोषित किया

वहीं, सबसे बड़ी बात ये रही कि पुलिस को पहली बार ड्रोन के जरिये भेजे गए हथियारों के सबूत हासिल हुए और ये भी पता चल गया कि ये हथियार पाकिस्तान के आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद द्वारा भेजे गए है. पुलिस द्वारा पकड़े गए दोनों कन्साइनमेंट के नीचे ड्रोन के साथ कन्साइनमेंट को लगाने के छोटी छोटी लकड़ियों से rectangle शेप का बॉक्स बनाया गया था, जिसके साथ एक प्लास्टिक का न टूटने वाला धागा लगा था. हथियारों के कन्साइनमेंट को फ़ोम और टेप से बन्द कर भेज गया था. जिस जगह ये कन्साइनमेंट उतारा गया वो पाकिस्तान से सट्टा बॉर्डर उससे 13 किलोमीटर दूर है. ऐसे में अब पुलिस और दूसरी एजेंसिया ये पता लगाने में लगी है कि पाकिस्तान में बैठे आतंकी किस तरह के ड्रोन्स का इस्तेमाल कर रहे है.

यह भी पढ़ें : पायल घोष की सोसाइटी को BMC ने किया कंटेनमेंट जोन घोषित

यह भी पढ़ें : बॉलीवुड ड्रग मामले की जांच के लिए दीपिका पादुकोण को NCB भेजेगी समन

बहरहाल, पिछले एक हफ्ते में पुलिस को राजौरी ,पूंछ और जम्मू से एक दर्जन के आस पास ड्रोन द्वारा भेजे गए हथियारों को पकड़ने में कामयाब मिली है. पुलिस ये मान के चल रही है कि घाटी में बैठे आतंकी हथियारों की कमी से जूझ रहे है और यही कारण है कि पाकिस्तान में बैठे आतंकी संगठन उन्हें हर कीमत पर हथियार पहुंचने की कोशिश कर रहे है जिसमे वो लगातार नाकाम हो रहे है.

First Published : 22 Sep 2020, 02:12:36 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो