News Nation Logo

द्रौपदी मुर्मू शपथ ग्रहण समारोह में पहन सकती हैं संथाली साड़ी, भाभी ला रहीं साथ

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 24 Jul 2022, 04:08:19 PM
Santali Saree

भाभी अपने साथ ला रही हैं संथाली साड़ी और परंपरागत मिठाई. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • द्रौपदी मुर्मू की बेटी और दामाद पहले ही पहुंच चुके हैं दिल्ली
  • भाभी सुकरी अपने पति तारिणीसेन टुडू ला रही संथाली साड़ी
  • शपथ के बाद राष्ट्रपति द्रौपडी मुर्मू को दी जाएगी तोपों की सलामी

नई दिल्ली:  

भारत के राष्ट्रपति (President) यानी सर्वोच्च संवैधानिक पद पर बतौर पहली महिला आदिवासी महिला द्रौपदी मुर्मू (Draupadi Murmu) 25 जुलाई को शपथ लेंगी. समारोह सोमवार सुबह 10 बजे संसद के केंद्रीय कक्ष में होगा. द्रौपदी मुर्मू को चीफ जस्टिस एनवी रमणा (NV Ramana) पद की शपथ दिलाएंगे. अनुमान जताया जा रहा है कि इस अवसर पर वह पारंपरिक संथाली (Santali) साड़ी में नजर आ सकती हैं, जो उनकी भाभी सुकरी टुडू लेकर आ रही हैं. इस ऐतिहासिक क्षण का हिस्सा लेने के लिए द्रौपदी मुर्मू की बेटी, दामाद पहले ही दिल्ली पहुंच गए हैं. सूत्रों के मुताबिक द्रौपदी मुर्मू के शपथ ग्रहण समारोह में उनके सिर्फ चार रिश्तेदार ही भाग लेंगे. संवैधानिक पद की शपथ के बाद द्रौपदी मुर्मू को 21 तोपों को सलामी दी जाएगी. इसके बाद बतौर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू का पहला संबोधन होगा.

ऐसी होती है संथाली साड़ी
इस ऐतिहासक अवसर के लिए द्रौपदी मूर्मू की भाभी सुकरी टुडू अपने पति तारिणीसेन टुडू संथाल समुदाय की महिलाओं द्वारा पहनी जाने वाली पारंपरिक साड़ी लेकर दिल्ली आ रही हैं. इस संदर्भ में सुकरी ने कहा, 'मैं दीदी के लिए पारंपरिक संथाली साड़ी ला रही हूं और उम्मीद करती हूं कि वह शपथ ग्रहण समारोह के दौरान इसे पहनेंगी. मुझे अभी पता नहीं है कि वह असल में इस अवसर पर क्या पहनेंगी. राष्ट्रपति भवन नए राष्ट्रपति की पोशाक का फैसला लेगा.' गौरतलब है कि संथाली महिलाएं इन साड़ियों को खास मौकें पर पहनती हैं, जिनके एक छोर पर धारियों का काम होता है. इसके साथ ही संथाली साड़ियों में लम्बाकार में एक समान धारियां होती हैं और दोनों छोरों पर एक जैसी डिजाइन होती है. द्रौपदी मुर्मू की बहन सुकरी अपने पति तथा परिवार के साथ मयूरभंज जिले में रायरंगपुर के समीप उपरबेड़ा गांव में रहती हैं. वह अपने साथ मुर्मू के लिए पारंपरिक मिठाई अरिसा पिठा भी ला रही हैं. 

यह भी पढ़ेंः  द्रौपदी मुर्मू कल ही नहीं, राष्ट्रपति कार्यकाल के आखिरी दिन भी रचेंगी इतिहास

बेटी और दामाद पहले ही दिल्ली पहुंचे
हालांकि उनसे पहले मुर्मू की बेटी एवं बैंक अधिकारी इतिश्री तथा उनके पति गणेश हेम्बराम नई दिल्ली पहुंच गए हैं. उन्हें निर्वाचित राष्ट्रपति के साथ राष्ट्रपति भवन में ठहराया गया है. निर्वाचित राष्ट्रपति के परिवार के केवल चार सदस्य, भाई, भाभी, बेटी और दामाद ही शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे. शपथ ग्रहण को यादगार बनाने के लिए 15वीं राष्ट्रपति के शपथ ग्रहण समारोह में 'आदिवासी' संस्कृति और परंपरा की झलक देखने को मिल सकती है.'  गौरतलब है कि ओडिशा के मुख्यमंत्री और बीजू जनता दल के अध्यक्ष नवीन पटनायक भी चार दिवसीय दौरे पर दिल्ली में होंगे. वह भी द्रौपदी मुर्मू के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे.

यह भी पढ़ेंः  चीन ने लांच किया वेंतियान, जो है 'स्वर्ग का महल' तियांगोंग का दूसरा हिस्सा

शपथ ग्रहण के बाद 21 तोपों की सलामी
गृह मंत्रालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार शपथ ग्रहण के बाद राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को 21 तोपों की सलामी दी जाएगी. शपथ ग्रहण समारोह सोमवार सुबह करीब सवा 10 बजे संसद के केंद्रीय कक्ष में होगा. द्रौपदी मुर्मू को चीफ जस्टिस एनवी रमणा उन्हें राष्ट्रपति पद की शपथ दिलाएंगे. सलामी के बाद राष्ट्रपति का संबोधन होगा. समारोह से पहले, निवर्तमान राष्ट्रपति और निर्वाचित राष्ट्रपति संसद पहुंचेंगे. उपराष्ट्रपति एवं राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, मंत्रिपरिषद के सदस्य, राज्यपाल, मुख्यमंत्री, राजनयिक मिशनों के प्रमुख, संसद सदस्य और सरकार के प्रमुख असैन्य एवं सैन्य अधिकारी समारोह में शामिल होंगे.

First Published : 24 Jul 2022, 04:06:28 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.