News Nation Logo
Banner

दिल्ली में कड़ाके की ठंड के साथ छाया घना कोहरा, जानिए उत्तर भारत के मौसम का हाल

मौसम विभाग ने बताया कि आज पंजाब और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में अलग-अलग हिस्सों में बहुत घने कोहरे की स्थिति देखी गई है, जबकि दिल्ली और पूर्वी उत्तर प्रदेश में अलग-अलग इलाकों में घने कोहरे की स्थिति है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 24 Dec 2020, 07:57:55 AM
Dense fog

दिल्ली में ठंड के साथ छाया घना कोहरा, जानिए उत्तर भारत के मौसम का हाल (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली:

उत्तर भारत के अधिकतर हिस्सों में कड़ाके की ठंड के साथ घना कोहरा भी छाया है. आसमान में छाए बादलों की वजह से ठंड और बढ़ गई है. पिछले कुछ दिनों से चल रही सर्द हवाओं की रफ्तार कम होने पर कोहरे की चादर दिखाई देने लगी है. उत्तर भारत में कहीं मध्यम तो कहीं घनी कोहरा नजर आ रहा है. मौसम विभाग ने बताया कि आज पंजाब और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में अलग-अलग हिस्सों में बहुत घने कोहरे की स्थिति देखी गई है, जबकि दिल्ली और पूर्वी उत्तर प्रदेश में अलग-अलग इलाकों में घने कोहरे की स्थिति है.

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री मोदी आज बंगाल के विश्व भारती विश्वविद्यालय के शताब्दी समारोह में होंगे शामिल 

दिल्ली का मौसम

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के अलग अलग हिस्सों में आज मध्यम से घना कोहरा छाया है. दिल्ली में अगले दो दिनों तक शीतलहर चलने का भी पूर्वानुमान है. तापमान के शुक्रवार को तीन डिग्री सेल्सियस पर पहुंचने का भी अनुमान है. इस दौरान मध्यम से घना कोहरा छाने की संभावना है. अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली जैसे छोटे इलाकों में अगर एक दिन भी तापमान तय मानदंडों के अनुसार रहता है तो शीतलहर की घोषणा की जा सकती है.

दिल्ली में बिगड़ रही वायु गुणवत्ता

दिल्ली में बढ़ती ठंड और कोहरे के साथ वायु गुणवत्ता खराब हो रही है. दिल्ली एनसीआर में आज प्रदूषण का स्तर काफी खतरनाक स्थिति में पहुंच चुका है. आज सुबह दिल्ली के कई इलाकों में वायु गुणवत्ता सूचकांक 450 से ज्यादा आंका गया है. अनुमान लगाया जा रहा है कि आज एयर क्वालिटी इंडेक्स 600 के पार जा सकता है. मौसम विज्ञान विभाग के अधिकारियों की मानें तो 26 दिसम्बर तक इसमें कोई बड़ा सुधार होने की संभावना नहीं है.

कश्मीर का मौसम

कश्मीर के अधिकतर क्षेत्रों में न्यूनतम पारे में गिरावट दर्ज की गई है. समूची घाटी में मौसम शुष्क और सर्द रहा. रात का पारा शून्य से कई डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया है. मौसम विभाग ने 25 दिसंबर तक सर्द और शुष्क मौसम का अनुमान जताया है. जम्मू कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में न्यूनतम तापमान शून्य से पांच डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया.

यह भी पढ़ें: Farmers Protest Live : आज सड़क पर उतरेंगे राहुल गांधी, राष्ट्रपति भवन तक मार्च करेगी कांग्रेस

हिमाचल  प्रदेश का हाल

हिमाचल प्रदेश के आदिवासी जिले लाहौल-स्पीति के प्रशासनिक केंद्र केलांग प्रदेश में सबसे सर्द इलाका रहा जहां न्यूनतम तापमान शून्य से 7.7 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. किन्नौर जिले के कल्पा में न्यूनतम तापमान शून्य से 0.6 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. प्रदेश की राजधानी में न्यूनतम तापमान छह डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया.

हरियाणा के मौसम का हाल

हरियाणा में ठंड का प्रकोप जारी है. बुधवार को हिसार में तापमान 2.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. अंबाला में न्यूनतम तापमान 3.9 डिग्री सेल्सियस, करनाल में 3.4 डिग्री सेल्सियस, नारनौल में 3.2 डिग्री सेल्सियस, रोहतक में 4.6 डिग्री सेल्सियस, भिवानी में 5.5 डिग्री सेल्सियस और सिरसा में 5.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। चंडीगढ़ में न्यूनतम तापमान 5.7 डिग्री सेल्सियस रहा.

पंजाब का मौसम

इसके अलावा पंजाब में भी ठंड सितम ढा रही है. तापमान में गिरावट के साथ आसमान में कोहरा छाया है. बुधवार को पंजाब के आदमपुर में न्यूनतम तापमान 2.5 डिग्री सेल्सियस और लुधियाना में 2.8 डिग्री सेल्सियस रहा. इसके साथ ही अमृतसर में न्यूनतम तापमान 3.4 डिग्री सेल्सियस, पटियाला में 4.6 डिग्री सेल्सियस, फरीदकोट में 4.1 डिग्री सेल्सियस, हलवारा में 4.3 डिग्री सेल्सियस और बठिंडा में 5.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

यह भी पढ़ें: नए कोरोना वायरस से दहशत, कर्नाटक में 2 जनवरी तक नाइट कर्फ्यू लागू

उत्तर प्रदेश का हाल

उत्तर प्रदेश में घना कोहरा छाया रहने के साथ ही कड़ाके की ठंड पड़ रही है. कोहरे बढ़ना से विजिबिलिटी कम हुई है. कहीं मध्यम तो कहीं घना कोहरा छाया हुआ है. प्रदेश के कुछ इलाकों में बादल भी छाए हैं, जिससे ठंड बढ़ गई है. हालांकि दोपहर के समय हल्की धूप निकलने से लोगों को ठंड से राहत मिल रही है. लेकिन आने वाले दिनों में ठंडी हवाएं चलने का पूर्वानुमान है.

मौसम विभाग के मुताबिक, पश्चिमी विक्षोभ के हिमालय के ऊंचाई वाले इलाकों को प्रभावित करने के कारण सोमवार और मंगलवार को न्यूनतम तापमान मामूली बढ़ोतरी दर्ज की गई थी, लेकिन इसके लौटते ही तापमान में फिर गिरावट दर्ज की जा रही है. पश्चिमी विक्षोभ से जम्मू-कश्मीर, लद्दाख और हिमाचल प्रदेश के ऊंचाई वाले इलाकों में हल्के से मध्यम स्तर की बर्फबारी हुई थी. वहीं एक और पश्चिमी विक्षोभ 26 दिसंबर से हिमालय के ऊंचाई वाले इलाकों को प्रभावित कर सकता है. जिससे बाद फिर से बर्फबारी देखने को मिलेगी. हालांकि ठंड बढ़ने से लोगों की मुश्किलें बढ़ जाएंगी.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 24 Dec 2020, 07:57:32 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो