News Nation Logo
Banner

नक्सलियों से लोहा लेगी सीआरपीएफ की पहली महिला कोबरा टीम

जंगल में नक्सलियों से मोर्चा लेते समय घिर जाने के बाद खुद को बचाने के गुर भी उन्हें सिखाए जाएंगे. अधिकारी ने बताया कि सफलतापूर्वक प्रशिक्षण पूरा कर लेने के बाद इन महिला कमांडो को पुरुष कमांडो के साथ नक्सल प्रभावित इलाकों में तैनात किया जाएगा.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 06 Feb 2021, 07:27:27 PM
female cobra team

महिला कोबरा ब्रिगेड (Photo Credit: आईएएनएस)

highlights

  • नक्सलियों के इलाकों में लोहा लेगी महिला कोबरा ब्रिगेड
  • महिलाओं की पहली कोबरा टीम, नक्सलियो से लेगी लोहा
  • 2008-2009 में किया गया था कोबरा का गठन

नई दिल्ली:

केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने नक्सलियों से लोहा लेने के लिए अपनी प्रतिष्ठित कोबरा यूनिट (Cobra Unit) में शामिल करने को महिला कमांडो (Female Commondo) की पहली बैच का चयन किया है. सीआरपीएफ (CRPF) की सभी छह महिला बटालियनों से कुल 34 महिला कमांडो का चयन किया गया है. प्रतिष्ठित कोबरा (कमांडो बटालियन्स फॉर रिसॉल्यूट एक्शन) यूनिट में शामिल किए जाने से पूर्व इन्हें तीन महीने तक सख्त प्रशिक्षण दिया जाएगा. सीआरपीएफ के एक अधिकारी ने बताया कि तीन महीने के प्रशिक्षण के दौरान उन्हें आधुनिक हथियार (Updated Weapons) चलाना सिखाया जाएगा.

यह भी पढ़ेंः सिंघू और गाजीपुर सहित इन जगहों पर रात 12 बजे तक बंद रहेगी इंटरनेट सेवा

इसके अलावा शारीरिक क्षमताओं में वृद्धि करने के साथ-साथ प्लानिंग, फिल्ड क्राफ्ट व विस्फोटकों के इस्तेमाल का भी प्रशिक्षण दिया जाएगा. जंगल में नक्सलियों से मोर्चा लेते समय घिर जाने के बाद खुद को बचाने के गुर भी उन्हें सिखाए जाएंगे. अधिकारी ने बताया कि सफलतापूर्वक प्रशिक्षण पूरा कर लेने के बाद इन महिला कमांडो को पुरुष कमांडो के साथ नक्सल प्रभावित इलाकों में तैनात किया जाएगा.

यह भी पढ़ेंः साइबर अपराधियों ने क्लोन चेक से किया फर्जीवाड़ा, उड़ाए सरकार के लाखों रुपये

गौरतलब है कि गृह मंत्रालय ने नक्सलियों से मुकाबला करने के उद्देश्य से गुरिल्ला और जंगल में लड़ाई करने जैसी कार्रवाई को अंजाम देने के लिए कोबरा की 10 बटालियन गठित करने की मंजूरी दी थी. कोबरा के दो बटालियनों का गठन 2008-2009 में किया गया था. साल 2009-10 में बटालियन की संख्या बढ़ाकर चार कर दी गई.

यह भी पढ़ेंः जेपी नड्डा का ममता पर हमला, कहा- 'जयश्रीराम' सुनकर क्यों भड़क जाती हैं

इसके बाद 2010-2011 में चार और बटालियन का गठन किया गया. फिलहाल सीआरपीएफ के पास 246 बटालियन हैं. इनमें 208 एग्जिक्यूटिव, छह महिला, 15 आरएएफ, 10 कोबरा, पांच सिग्नल, एक स्पेशल ड्यूटी ग्रुप और एक पार्लियामेंट ड्यूटी ग्रुप शामिल हैं. सीआरपीएफ के डीआईजी एम. दिनाकरन ने आईएएनएस को बताया कि जिन 34 महिला कमांडो का चयन किया गया है, उन्होंने स्वेच्छा से कोबरा यूनिट में शामिल होने के लिए अपने नाम सुझाए थे. इनके अलावा 200 और महिला कमांडो ने भी सीआरपीएफ की इस प्रतिष्ठित यूनिट में शामिल होने के लिए अपने नाम दिए हैं.

First Published : 06 Feb 2021, 07:25:20 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

LiveScore Live Scores & Results

वीडियो

×