News Nation Logo
Banner

साइबर अपराधियों ने क्लोन चेक से किया फर्जीवाड़ा, उड़ाए सरकार के लाखों रुपये

इस मामले में रामगढ बीडीओ एनी रिंकू कुजूर ने बताई क्लोन चेक के जरिये 78,7000 लाख रुपये की निकासी की गई है, मेरा चेक मेरे पास है,यह बात बैंक मैनेजर से जानकारी हुई इस मामले में रामगढ थाने में एफआईआर दर्ज करवा दी गई है.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 06 Feb 2021, 06:56:24 PM
cyber crime

साइबर क्राइम (Photo Credit: सांकेतिक चित्र फाइल)

highlights

  • झारखंड में साइबर अपराधियों ने उड़ाए लाखों रुपये
  • झारखंड में लगातार बढ़ता जा रहा अपराध
  • कुछ दिन पहले ब्रीफकेस में मिली थी महिला की लाश 

रांची:

झारखंड के रामगढ जिले के रामगढ बीडीओ के क्लोन चेक के जरिये साइबर अपराधियो ने 78,7000 लाख सरकारी रुपए उड़ाए. इन साइबर अपराधियों ने अलग-अलग राज्यों से इस वारदात को अंजाम दिया. 3 क्लोन चेक के जरिए बैंको से रुपयों की  निकासी की गई, चौथा चेक से भी रुपये निकासी की थी तैयारी. इन अपराधियो ने चौथा चेक वेस्ट बंगाल में डाला था ,लेकिन बैंक मैनेजर ने वेरीफाइड करने के लिये बीडीओ से जानकारी ली तो बीडीओ ने अपने चेक नहीं होने की जानकारी दी तब जाकर मामला का पता चला.

इस मामले में रामगढ बीडीओ एनी रिंकू कुजूर ने बताई क्लोन चेक के जरिये 78,7000 लाख रुपये की निकासी की गई है, मेरा चेक मेरे पास है,यह बात बैंक मैनेजर से जानकारी हुई इस मामले में रामगढ थाने में एफआईआर दर्ज करवा दी गई है. रामगढ़ बीडीओ की सरकारी खाता रामगढ़ मे बैंक ऑफ बड़ौदा मे है, साइबर अपराधियों ने बड़ौदा बैंक के क्लोन चेक के जरिए ही इस तरह की बैंक फ्रॉड किया है.

रामगढ़ के एसडीपीओ अनुज उरांव ने बताया कि हम लोग सभी एंगल से जांच कर रहे हैं टेक्निकल टीम का भी सहारा लिया जा रहा है ,निश्चित तौर पर हम लोग कांड का उद्घाटन करेंगे. ज्ञात हो कि तीन जनवरी का रामगढ़ थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है जिसमें सरकारी खाता से 78 लाख सात हजार की निकासी कर ली गई है लगभग तीन अलग-अलग चेकों के माध्यम से एजेंसियों के द्वारा यह किया गया है प्रखंड विकास पदाधिकारी का कहना है कि फर्जी निकासी की गयी हैं.

आपको बता दें कि झारखंड में क्राइम की घटनाएं कम होने का नाम नहीं ले रही हैं अभी हाल में ही झारखंड के रामगढ़ जिले के पतरातू थाना क्षेत्र अंतर्गत पतरातू डैम में मंगलवार की सुबह एक युवती का हाथ-पैर बंधा शव मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई थी. इस महिला ने जींस और जैकेट पहनी करीब 30 वर्षीय युवती के कपड़े भी अस्त-व्यस्त हालत में मिले. पुलिस के अनुसार, प्रथम दृष्टया युवती के साथ दुष्कर्म करने के बाद हत्या कर पैर-हाथ बांधकर डैम में फेंक देने की आशंका जताई जा रही है. वही आशंका यह भी व्यक्त की जा रही है कि शव को कहीं से लाकर यहां फेंका गया था.

पुलिस झाड़ी में मिले बैग को थाने ले गई है. घटनास्थल से मिले बैग में से प्लास्टिक की रस्सी, बेल्ट, खाने का सामान ,पानी की बोतल आदि बरामद किया गया है. पुलिस  शव को कब्जे में कर जांच-पड़ताल कर रही है. पतरातू डैम में हाथ-पैर बंधा युवती का शव मिलने के बाद हजारीबाग रेंज के डीआईजी अमोल वेणुकान्त होमकर, रामगढ़ एसपी प्रभात कुमार पतरातू पहुंच कर स्वयं मामले की जांच में जुट गए. डीआईजी अमोल वेणुकान्त होमकर खुद इस मामले की जांच कर रहे हैं. उन्होंने एसआईटी का किया गठन किया है.

First Published : 06 Feb 2021, 06:55:42 PM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.