News Nation Logo
Banner

देश फिर लॉकडाउन की ओर, कोरोना से इन राज्यों में स्थिति गंभीर, यहां लग चुके हैं कर्फ्यू

देश एक बार फिर लॉकडाउन की ओर बढ़ रहा है. कई राज्यों ने हालात को देखते हुए पाबंदियों को सख्त कर दिया है और कई जगह कर्फ्यू भी लगाने का फैसला किया गया है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 22 Nov 2020, 11:03:21 AM
curfew

देश फिर लॉकडाउन की ओर, कोरोना से इन राज्यों में स्थिति गंभीर (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

भारत में कोरोना वायरस का प्रकोप लगातार फैल रहा है. राजधानी दिल्ली समेत देश के कई हिस्सों में कोविड-19 संक्रमण एक बार फिर रफ्तार पकड़ने लगा है. बीते कुछ दिनों से कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है. इसको लेकर हर कोई चिंतित है. सरकार की ओर से इस महामारी को रोकने के लिए तमाम प्रयास किए जा रहे हैं, मगर फिर से स्थिति गंभीर होती जा रही है. ऐसे में देश एक बार फिर लॉकडाउन की ओर बढ़ रहा है. कई राज्यों ने हालात को देखते हुए पाबंदियों को सख्त कर दिया है और कई जगह कर्फ्यू भी लगाने का फैसला किया गया है.

यह भी पढ़ें: Corona Epidemic : स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सतेंद्र जैन का दावा- दिल्‍ली में कोरोना पॉजीटिविटी रेट नीचे आया

राजस्थान सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण के मरीजों की बढ़ती संख्या के बीच संक्रमण से सबसे अधिक प्रभावित आठ जिला मुख्यालयों में रात्रिकालीन कर्फ्यू लगाने का फैसला किया है। इसके साथ ही सार्वजनिक स्थलों पर मास्क नहीं पहनने पर जुर्माना बढ़ाकर 500 रुपये कर दिया गया है. वहीं राजधानी जयपुर में धारा 144 लगाई गयी है. संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित आठ जिला मुख्यालयों (जयपुर, जोधपुर, कोटा, बीकानेर, उदयपुर, अजमेर, अलवर व भीलवाड़ा) के नगरीय क्षेत्र में बाजार, रेस्टोरेंट, शॉपिंग मॉल व अन्य वाणिज्यिक संस्थान शाम सात बजे तक ही खुले रहेंगे. इन आठ जिला मुख्यालयों के नगरीय क्षेत्र में रात आठ बजे से सुबह छह बजे तक रात्रिकालीन कर्फ्यू रहेगा. 

जबकि मध्य प्रदेश के पांच जिलों में कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर रात्रि का कर्फ्यू लागू करने का सरकार ने फैसला लिया है. यह रात्रिकालीन कर्फ्यू शनिवार की रात से लागू हो गया है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि राज्य के पांच जिलों भोपाल, इंदौर, विदिशा, रतलाम और ग्वालियर में शनिवार को रात 10 बजे से सुबह छह बजे तक रात्रिकालीन कर्फ्यू लगेगा. रात के समय कर्फ्यू लागू होने के बावजूद भारवाहक वाहनों की आवाजाही पर कोई असर नहीं पड़ेगा. साथ ही औद्योगिक इकाईयों में काम करने वाले कर्मचारी निर्बाध रुप से आ जा सकेंगे.

यह भी पढ़ें: कोरोना मरीज में लक्षण दिखने के शुरुआती दिनों में संक्रमण के प्रसार का खतरा ज्यादा

इसके अलावा गुजरात सरकार ने कोरोनावायरस की स्थिति के मद्देनजर अहमदाबाद में 60 घंटे के लिए कर्फ्यू लगाया है. अहमदाबाद शहर में कर्फ्यू शुक्रवार रात 9 बजे (20 नवंबर) से शुरू हो चुका है और सोमवार (23 नवंबर) को सुबह छह बजे समाप्त होगा. हालांकि आने वाले दिनों में ये कर्फ्यू राज्य के अन्य प्रमुख शहरों में भी लगाए जाने की संभावना है. कोरोनावायरस के मामले अन्य प्रमुख शहरों में भी काफी बढ़े हैं, जिनमें गांधीनगर, सूरत, वडोदरा, राजकोट, महेसाणा और दूसरे शहर शामिल हैं.

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में भी नियमों को सख्त किया गया है. नए नियमों के तहत अब कोरोना के मानदंडों और सामाजिक दूरी के नियम तोड़ने पर 2000 हजार रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा. इसके साथ ही मास्क न पहनने और सार्वजनिक स्थानों पर पान, गुटखा आदि खाने पर भी 2000 रुपये जुर्माना देना होगा. कोरोनावायरस संक्रमण से बचाव के लिए बाजारों और सार्वजनिक स्थानों पर सतर्कता बढ़ाते हुए दिल्ली पुलिस ने शनिवार को मास्क नहीं पहनने पर 1,306 लोगों पर जुर्माना ठोंका. इसके साथ ही अभी तक राष्ट्रीय राजधानी में मास्क नहीं पहनने वाले कुल 5,01,328 लोगों पर जुर्माना लगाया जा चुका है.

यह भी पढ़ें: भारतीय-अमेरिकी डॉक्टर ने कोविड-19 की संभावित इलाज की पहचान की 

देश में आज भी 45 हजार से ज्यादा कोरोना वायरस के मरीज मिले हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, पिछले 24 घंटे में देश में कोविड-19 के 45,209 नए मामले सामने आए, कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 90,95,806 हुई. वहीं 501 और लोगों की मौत के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 1,33,227 हुई. भारत में कोविड-19 के 4,40,962 मरीजों का इलाज चल रहा है जबकि इस बीमारी से अब तक 85,21,617 लोग उबर चुके हैं.

कोरोनावायरस को लेकर दिल्ली समेत देश के पांच राज्यों में स्थिति बेहद गंभीर है. शनिवार को दिल्ली में करीब 6000 नए के सामने आए. दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के अनुसार दिल्ली में शनिवार को 5,879 नए कोविड​​-19 मामले मिले, जबकि 111 मौतें दर्ज़ की गईं. इसी के साथ दिल्ली में कुल मामले 5,23,117 हो गए हैं और मौतों का आंकड़ा 8,270 पहुंच गया है. जबकि महाराष्ट्र में शनिवार को 5,760 नए कोरोना मरीज पाए गए और 62 मौतें दर्ज़ की गई. राज्य में कुल मामलों की संख्या 17,74,455 है. राज्य में 79,873 सक्रिय मामले हैं और 16,47,004 मरीज अब तक ठीक हो चुके हैं. मरने वालों की संख्या 46,573 है.

यह भी पढ़ें: अब आयुर्वेद के डॉक्टर भी कर सकेंगे जनरल सर्जरी, केंद्र ने दी हरी झंडी

वहीं केरल में 5772 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए और 25 मौतें दर्ज़ की गई हैं. सक्रिय मामलों की संख्या 66,856 है. अब तक 4,88,437 मरीज रिकवर हो चुके हैं. केरल में मरने वालों का आंकड़ा 2022 है. उत्तर प्रदेश में भी स्थिति बिगड़ती जा रही है. पिछले 24 घंटों में कोविड 19 के 2326 नए मामले सामने आए. इसी के साथ कुल मामले 5 लाख 22 हजार से अधिक हो गए हैं. जबकि अब तक करीब साढ़े 7 हजार मौतें हो गई हैं. सक्रिय मामलों की कुल संख्या 23,471 है. अब तक 4,93,228 लोग पूरी तरह ठीक हो चुके हैं. प्रदेश में रिकवरी का प्रतिशत बढ़कर 94.09 है.

राजस्थान में कोरोना वायरस संक्रमण से शनिवार को 16 और लोगों की मौत हो गई, जिससे राज्य में संक्रमण से मरने वालों की कुल संख्या बढ़कर 2,146 तक पहुंच गई. इसके अलावा संक्रमण के 3,007 नये मामले सामने आने के बाद राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या 2,40,676 हो गई. अधिकारियों ने बताया कि शनिवार शाम छह बजे तक बीते 24 घंटों में राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण से 16 और लोगों की मौत हो गई, जिससे मरने वालों की संख्या अब बढ़कर 2,146 हो गयी.

First Published : 22 Nov 2020, 11:03:21 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो