News Nation Logo
उत्तराखंड : बारिश के दौरान चारधाम यात्रा बड़ी चुनौती बनी, संवेदनशील क्षेत्रों में SDRF तैनात आंधी-बारिश को लेकर मौसम विभाग ने दिल्ली-NCR के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया राजस्थान : 11 जिलों में आज आंधी-बारिश का ऑरेंज अलर्ट, ओला गिरने की भी आशंका बिहार : पूर्णिया में त्रिपुरा से जम्मू जा रहा पाइप लदा ट्रक पलटने से 8 मजदूरों की मौत, 8 घायल पर्यटन बढ़ाने के लिए यूपी सरकार की नई पहल, आगरा मथुरा के बीच हेली टैक्सी सेवा जल्द महाराष्ट्र के पंढरपुर-मोहोल रोड पर भीषण सड़क हादसा, 6 लोगों की मौत- 3 की हालत गंभीर बारिश के कारण रोकी गई केदारनाथ धाम की यात्रा, जिला प्रशासन के सख्त निर्देश आंधी-बारिश के कारण दिल्ली एयरपोर्ट से 19 फ्लाइट्स डाइवर्ट
Banner

वैक्सीनेशन के शुरू होते ही कांग्रेस ने उठाए सवाल, मनीष तिवारी बोले- सरकार के मंत्रियों ने क्यों नहीं लगवाया टीका

भारत में कोरोना वायरस से निपटने के लिए आज से वैक्सीनेशन महाभियान का शुभारंभ हो गया है. मगर वैक्सीनेशन अभियान के शुरू होते ही इस पर सवाल भी उठने शुरू हो गए हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 16 Jan 2021, 02:46:50 PM
Congress MP Manish Tewari

मनीष तिवारी (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली:  

भारत में कोरोना वायरस से निपटने के लिए आज से वैक्सीनेशन महाभियान का शुभारंभ हो गया है. मगर वैक्सीनेशन अभियान के शुरू होते ही इस पर सवाल भी उठने शुरू हो गए हैं. कांग्रेस ने कोरोना वैक्सीनेशन पर सवाल खड़े किए हैं. कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने सवाल उठाए हैं कि यदि वैक्सीन इतना सुरक्षित और विश्वसनीय है तो सरकार के मंत्रियों ने टीका क्यों नहीं लगवाया, जैसा कि विदेशों में सबसे पहले राष्ट्र प्रमुखों ने कोरोना का टीका लगवाया.

यह भी पढ़ें: Corona Vaccination LIVE: सीरम इंस्टीट्यूट के CEO अदार पूनावाला को लगाई गई कोविशील्ड कोरोना वैक्सीन 

कांग्रेस के सांसद मनीष तिवारी ने कोरोना वैक्सीन के इस्तेमाल की मंजूरी की प्रकिया पर सवाल खड़े करते हुए कहा, 'कई वरिष्ठ डॉक्टर्स ने सरकार के साथ COVAXIN की प्रभावकारिता और सुरक्षा के संबंध में यह कहते हुए सवाल उठाया है कि लोग यह नहीं चुन पाएंगे कि वे किस वैक्सीन को लेना चाहते हैं. यह सूचित सहमति के पूरे सिद्धांत के खिलाफ जाता है.'

यह भी पढ़ें: Corona Vaccination: मोदी सरकार पर अखिलेश यादव ने फिर उठाए सवाल 

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, 'कोवैक्सीन की अलग ही कहानी है. इसे उचित प्रक्रिया के बिना अनुमति दी गई.' कांग्रेस नेता ने कहा, 'यदि वैक्सीन इतनी सुरक्षित, विश्वसनीय और वैक्सीन की प्रभावकारिता प्रश्न से परे है तो फिर यह कैसे हो सकता है कि दुनिया भर के अन्य देशों में तरह यहां सरकार का एक भी मंत्री खुद टीकाकरण कराने के लिए आगे नहीं आता है.'

यह भी पढ़ें: वैक्सीनेशन अभियान: खुशी के मौके पर भावुक हुए प्रधानमंत्री मोदी, अपने भाषण में कहीं ये बड़ी बातें 

वहीं मनीष तिवारी ने दावा किया कि टीकों के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी देने के लिए कोई नीतिगत ढांचा नहीं है. उन्होंने ट्वीट किया, 'टीकाकरण आरंभ हो गया है और यह अजीबो-गरीब है कि भारत के पास आपात उपयोग को अधिकृत करने का कोई नीतिगत ढांचा नहीं है. फिर भी दो टीकों के आपात स्थिति में नियंत्रित उपयोग की अनुमति दी गई.'

First Published : 16 Jan 2021, 02:41:16 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.