News Nation Logo
Banner

महाराष्ट्र के बाद इस राज्य में तेजी से बढ़ रहे कोरोना केस, 5 प्रदेशों ने सरकार की बढ़ाई टेंशन

मंत्रालय ने कहा कि कोराना वायरस संक्रमण की कड़ी तोड़ने और इसके प्रसार पर रोक लगाने के लिए उचित व्यवहार अपनाए जाने की जरूरत है. केवल दो राज्यों महाराष्ट्र और केरल में कोविड-19 के 75.87 प्रतिशत उपचाराधीन मामले हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 20 Feb 2021, 05:10:20 PM
Corona Virus

कोरोना न्यूज (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • 24 घंटों में 18 राज्यों में एक भी मौत नहीं.
  • 13 फरवरी के बाद से मध्य प्रदेश में भी संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी हुई है.
  • पिछले 24 घंटे में राज्य से 297 नए मामले आए.

नई दिल्ली :

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि केरल, महाराष्ट्र, पंजाब, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश में कोविड-19 के नए मामलों में बढ़ोतरी हुई है. मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि पिछले सात दिनों में छत्तीसगढ़ में वायरस संक्रमण के रोजाना के मामलों में वृद्धि हुई है. पिछले 24 घंटे में राज्य से 259 नए मामले आए हैं. केरल में रोजाना संक्रमण के मामलों में वृद्धि होती जा रही है और पिछले एक सप्ताह में महाराष्ट्र में भी तेज बढ़ोतरी हुई है. इससे शनिवार को देश में संक्रमण के नए मामलों में इजाफा हुआ है. मंत्रालय ने एक बयान में कहा, पिछले 24 घंटे में महाराष्ट्र में कोविड-19 के 6,112 नए मामले आए. महाराष्ट्र की तरह पंजाब में भी रोजाना के मामले बढ़ रहे हैं जहां पिछले 24 घंटे में 383 नए मामले आए.

यह भी पढ़ें : नीति आयोग की बैठक में बोले केजरीवाल, देश को मैन्युफैक्चरिंग पर युद्ध स्तर पर काम करने की जरूरत

मंत्रालय ने कहा कि 13 फरवरी के बाद से मध्य प्रदेश में भी संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी हुई है. पिछले 24 घंटे में राज्य से 297 नए मामले आए. मंत्रालय ने कहा कि कोराना वायरस संक्रमण की कड़ी तोड़ने और इसके प्रसार पर रोक लगाने के लिए उचित व्यवहार अपनाए जाने की जरूरत है. केवल दो राज्यों महाराष्ट्र और केरल में कोविड-19 के 75.87 प्रतिशत उपचाराधीन मामले हैं. मंत्रालय ने कहा कि पिछले 24 घंटे में 18 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश में संक्रमण से किसी की मौत नहीं हुई. इनमें तेलंगाना, हरियाणा, जम्मू कश्मीर, झारखंड, हिमाचल प्रदेश, त्रिपुरा, असम, चंडीगढ़, लक्षद्वीप, मणिपुर, मेघालय, लद्दाख, मिजोरम, सिक्किम, नगालैंड, अरुणाचल प्रदेश, अंडमान निकोबार द्वीपसमूह, दादरा और नगर हवेली तथा दमन और दीव हैं.

यह भी पढ़ें : Toolkit Case: दिशा रवि ने कोर्ट से कहा- मेरा कसूर ये है कि मैंने ग्रेटा से बात की

मंत्रालय ने कहा कि सुबह आठ बजे तक की रिपोर्ट के अनुसार, 2,22,313 सत्र में कोविड-19 के 1,07,15,204 टीके दिए गए. इनमें 63,28,479 स्वास्थ्यकर्मियों को पहली खुराक दी गयी जबकि 8,47,161 स्वास्थ्यकर्मियों को दूसरी खुराक दी गयी. इसके अलावा 35,39,564 अग्रिम मोर्चे के कर्मी भी हैं, जिन्हें पहली खुराक दी गयी. पहली खुराक दिए जाने के 28 दिन होने पर 13 फरवरी से कोविड-19 टीकाकरण के तहत दूसरी खुराक देने की शुरुआत की गयी. अग्रिम मोर्चे के कर्मियों के लिए दो फरवरी से टीकाकरण शुरू हुआ. मंत्रालय ने कहा कि नौ राज्यों में पांच लाख से ज्यादा खुराकें दी गयीं. इनमें उत्तरप्रदेश (11,52,042), महाराष्ट्र (8,60,386), गुजरात (8,56,657), राजस्थान (7,99,719), पश्चिम बंगाल (6,50,976), कर्नाटक (6,29,420), मध्य प्रदेश (6,26,391), बिहार (5,50,433) और ओडिशा (5,01,713) शामिल हैं.

कर्नाटक सरकार ने पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र में COVID-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए एक पत्र जारी किया है. जिसमें कहा गया है कि जो उड़ानों / बसों / ट्रेनों / व्यक्तिगत परिवहन द्वारा आने वालों की को क्वारांटीन होना अनिवार्य होगा.

First Published : 20 Feb 2021, 04:55:30 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.