News Nation Logo
Banner

कोरोना जंग में 'टेस्टिंग', 'ट्रैकिंग' और 'ट्रीटमेंट' मूल मंत्र : अश्विनी चौबे

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने भागलपुर में सोमवार को कहा कि हाल के दिनों में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ी है, जो चिंता का विषय है.

IANS | Updated on: 05 Apr 2021, 06:22:46 PM
Ashwini Choubey

केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • हाल के दिनों में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ी है, जो चिंता का विषय है: केंद्रीय मंत्री
  • कोरोना के विरुद्ध जंग में सिर्फ ये हैं मूल मंत्र : अश्विनी चौबे
  • लापरवाही के कारण कोरोना के मामले बढ़े हैं

भागलपुर:

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने भागलपुर में सोमवार को कहा कि हाल के दिनों में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ी है, जो चिंता का विषय है. उन्होंने कहा कि केंद्र ने राज्यों को टेस्टिंग, ट्रैकिंग एवं ट्रीटमेंट पर अधिक जोर देने को कहा है. मंत्री ने कहा कि कोरोना के विरुद्ध जंग में यह एक मूल मंत्र हैं, जिसका पालन सख्ती से करने के लिए राज्य सरकारों को निर्देशित किया गया है. केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री चौबे ने भागलपुर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि लापरवाही के कारण कोरोना के मामले बढ़े हैं. उन्होंने भागलपुर में कोरोना की मौजूदा स्थिति एवं टीकाकरण की भी विभागीय अधिकारियों के साथ समीक्षा की. केंद्रीय मंत्री ने किसी भी सूरत में ढिलाई नहीं बरतने की नसीहत दी.

यह भी पढ़ेंःवैक्सीनेशन पर दिल्ली सरकार का बड़ा फैसला, अब 24 घंटे लगातार लगेगी वैक्सीन

उन्होंने अधिकारियों से कोरोना को लेकर लोगों को जागरूक करने के निर्देश देते हुए कहा कि इसके अलावा सख्ती भी बरतना जरूरी है. चौबे ने मेडिकल कॉलेज में बन रहे सुपर स्पेशलिटी ब्लॉक के कार्य प्रगति की भी समीक्षा की. उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि अगस्त में हर हाल में ओपीडी की व्यवस्था यहां शुरू हो जानी चाहिए. उन्होंने मई में ही न्यूरोलॉजी की ओपीडी शुरू करने के भी निर्देश दिए.

भाजपा नेता यहां पार्टी के कार्यकर्ताओं से भी मुलाकात की और उनका हालचाल जाना. भागलपुर दौरे के दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री चौबे अपने पैतृक गांव दरियापुर डीह पहुंचे, जहां वो अष्टयाम कीर्तन कार्यक्रम में सम्मिलित हुए तथा सभी के बेहतर स्वास्थ्य, सुख, शांति एवं समृद्धि की कामना की.

यह भी पढ़ेंःचुनाव प्रचार छोड़ दिल्ली रवाना हुए जेपी नड्डा, निर्धारित कार्यक्रम रद्द

कोरोना वायरस से रक्षा और गुमशुदा बच्चों को ट्रैक करेगा स्कूल बैग

कोरोना का कहर एक बार फिर से लोगों पर बरसने लगा है. इसके बढ़ते प्रसार के कारण स्कूल-कॉलेज बंद होने लगे हैं. इन्हीं सबको देखते हुए प्रधानमंत्री मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के 11 वीं में पढ़ने वाले छात्र पुष्कर सिंह ने एक ऐसा बैग बनाया है. जो कि ना सिर्फ बच्चों को संक्रमण के कहर से बचाएगा. बल्कि बच्चों के खो जाने पर इसके माध्यम से उसके परिवार और पुलिस की मदद करने में सहायक होगा.

वाराणसी के आर्यन इंटरनेशनल स्कूल में पढ़ने वाले पुष्कर ने बताया कि, "कोरोना के बढ़ रहे केसों को देखते हुए मैंने एक एंटी कोरोना स्मार्ट बैग का इजाद किया है. यह स्कूल बैग सोशल डिस्टेंसिंग फॉलो कराने के साथ ही बच्चों के गुम हो जाने पर भी काम करेगा. यह स्कूल बैग वायरस से बचाव में 2 गज की दूरी बनाने में स्कूल कैंपस और आस-पास के इलाकों को अलर्ट करेगा."

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 05 Apr 2021, 06:19:46 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो