News Nation Logo
29 अक्टूबर से पीएम मोदी का इटली दौरा जेल में डालने वाला आज जेल में जाने से डरने लगा: नवाब मलिक जो फर्जीवाड़ा किया गया है, वो खुल खुलकर सामने आने लगा है: नवाब मलिक पंजाब में AAP की सरकार बनी, तो प्रदेश में किसी किसान को नहीं करने देंगे खुदकुशी: अरविंद केजरीवाल शाहरुख खान की 'मन्नत' पूरी, आर्यन को बेल; अब मन्नत में मनेगी दीपावली आर्यन खान समेत तीनों आरोपियों के विदेश जाने पर रोक भारत हमेशा से एक शांतिप्रिय देश रहा है और आज भी है: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह हमारा देश किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए तैयार है: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह किसी भी विवाद को अपनी तरफ़ से शुरू करना हमारे मूल्यों के ख़िलाफ़ है: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों को वैक्सीन की 108 करोड़ डोज़ उपलब्ध कराई गईं: स्वास्थ्य मंत्रालय कर्नाटकः कोडागू जिले के जवाहर नवोदय विद्यालय में 32 बच्चे कोरोना पॉजिटिव महाराष्ट्र के गृहमंत्री दिलीप वासले हुए कोरोना पॉजिटिव कोरोना अपडेटः पिछले 24 घंटे में देश में 16,156 केस आए, 733 मरीजों की मौत हुई जम्मू-कश्मीरः डोडा में खाई में गिरी मिनी बस, 8 लोगों की मौत आर्य़न खान ड्रग्स केस में गवाह किरण गोसावी पुणे से गिरफ्तार पेट्रोल और डीजल के दामों में 35 पैसे की बढ़ोतरी कैप्टन अमरिंदर सिंह आज फिर मुलाकात करेंगे गृह मंत्री अमित शाह से क्रूज ड्रग्स मामले में आर्यन खान की जमानत पर आज फिर दोपहर में सुनवाई पीएम नरेंद्र मोदी आज आसियान-भारत शिखर वार्ता को करेंगे संबोधित दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पंजाब के दो दिवसीय दौरे पर आज जाएंगे

CWC की बैठक के बीच गहलोत पहुंच रहे दिल्ली, दिवाली तक फेरबदल संभव

16 अक्टूबर को कांग्रेस की कार्यसमिति (CWC) की बैठक प्रस्तावित है और सूबे के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) भी पहुंच रहे हैं.

Written By : मनोज शर्मा | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 14 Oct 2021, 07:22:22 AM
Ashok Gehlot

राजस्थान के राजनीतिक गलियारों में हलचल तेज. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में मौजूद रहेंगे गहलोत
  • सीडब्ल्यूसी की बैठक में बतौर मुख्यमंत्री भाग लेंगे
  • मंत्रिमंडल और संगठन में फेरबदल दिवाली तक संभव

नई दिल्ली:

पंजाब (Punjab) में मची रार के बीच राजस्थान (Rajasthan) कांग्रेस में भी आंतरिक बवंडर उठने लगा है. 16 अक्टूबर को कांग्रेस की कार्यसमिति (CWC) की बैठक प्रस्तावित है और सूबे के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) भी पहुंच रहे हैं. गहलोत का दिल्ली प्रवास इस लिहाज से महत्वपूर्ण है कि वह कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्य नहीं हैं, इसके बावजूद वह दिल्ली में मुख्यमंत्री की हैसियत से मौजूद रहेंगे. कयास यह लगाया जा रहा है कि गहलोत और सीडब्ल्यूसी के सदस्यों की मौजूदगी में राजस्थान की आंतरिक रार थामने की कोशिश की जाएगी. अटकलें तो यह भी हैं कि राजस्थान में मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर भी खाका खींचा जा सकता है. 

राजनीतिक गलियारों में अटकलें तेज
जाहिर है कि राजस्थान में बदलाव की सुगबुगाहट के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के दिल्ली कार्यक्रम से ही राजनीतिक गलियारे में अटकलें तेज हो गई हैं. माना जा रहा है कि इस दिल्ली दौरे का राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार और संगठन में होने वाले फेरबदल का सीधा संबंध हैं. पंजाब कांग्रेस में रार के साथ ही राजस्थान में मंत्रिमंडल फेरबदल, राजनीतिक नियुक्तियों और संगठन विस्तार दिनों दिन घमासान में तब्दील होता जा रहा है. ऐसे में गहलोत का वरिष्ठ नेताओं और कांग्रेस की राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ ही राहुल गांधी और प्रियंका से भी इस बात की चर्चा होना निश्चित माना जा रहा है.

यह भी पढ़ेंः  आर्यन खान की बेल पर फैसला आज, जेल में कटेगी रात | Highlights

दिवाली से पहले फेरबदल संभव
दिल्ली दौरे पर अशोक गहलोत संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल, प्रभारी अजय माकन सहित कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं से मिल सकते हैं. हाल ही में चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा को गुजरात का प्रभारी बनाने और राजस्व मंत्री हरीश चौधरी को पंजाब का पर्यवेक्षक बनाने के बाद यह चर्चा जोरों पर है कि अब दोनों मंत्रियों को हटाया जा सकता है. इसके अलावा संगठन में चार कार्यकारी अध्यक्ष बनाए जाने से भी कुछ और मंत्रियों को भी हटाए जाने की चर्चा है. कांग्रेस की भितरखाने की मानें तो मंत्रिमंडल में फेरबदल, राजनीतिक नियुक्तियां और संगठन में बड़े बदलाव दीपावली से पहले ही किए जा सकते हैं. 

यह भी पढ़ेंः लखीमपुर हिंसा में खुलासा- अंकित नेपाल भाग गया था, आशीष फॉर्च्यूनर में नहीं था

पायलट गुट लगातार उठा रहे बदलाव की मांग
पूर्व उपमुख्यमंत्री और गहलोत के खिलाफ मोर्चा खोलने वाला सचिन पायलट गुट लंबे समय से मंत्रिमंडल में फेरबदल की मांग कर रहा है. बसपा से कांग्रेस में आने वाले विधायकों के अलावा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत गुट के दूसरे विधायक भी मंत्रिमंडल विस्तार, राजनीतिक नियुक्तियां करने की मांग उठाते रहते हैं. राजस्थान प्रभारी अजय माकन कई बार डेडलाइन दे चुके, लेकिन अब तक न मंत्रिमंडल फेरबदल हुआ और न ही राजनीतिक नियुक्तियों और संगठन विस्तार पर काम आगे बढ़ा. ऐसे में अशोक गहलोत के दिल्ली कार्यक्रम ने राजनीतिक हलकों में हलचल बढ़ा दी है.

First Published : 14 Oct 2021, 07:20:46 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.