News Nation Logo
Banner

LoC से लगे माछिल इलाके में सेना ने आतंकियों की सफाई का अभियान शुरू किया

पवार ने आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में रविवार को शहीद हुए कॉन्स्टेबल सुधीर की पार्थिव देह को श्रद्धांजलि देने के लिए बीएसएफ के हम्मा मुख्यालय में आयोजित समारोह के बाद पत्रकारों को यह जानकारी दी.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 09 Nov 2020, 05:03:30 PM
indian army jawan

भारतीय सेना का आतंकी सफाए का अभियान जारी (Photo Credit: आईएएनएस)

नई दिल्ली:

नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर माछिल इलाके में आतंकवादियों के सफाए के लिए चलाया जा रहा ऑपरेशन अभी भी जारी है. इसमें 3 सैनिक और बीएसएफ का 1 जवान शहीद हो चुका है. साथ ही 3 आतंकवादी मारे जा चुके हैं. सोमवार को सीमा सुरक्षा बल के अतिरिक्त महानिदेशक (एडीजी) सुरिंदर पवार ने कहा कि माछिल इलाके के समतल न होने के कारण यहां आतंकवादियों की मौजूदगी ज्यादा थी. उनके सफाए के लिए ऑपरेशन जारी है.

पवार ने आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में रविवार को शहीद हुए कॉन्स्टेबल सुधीर की पार्थिव देह को श्रद्धांजलि देने के लिए बीएसएफ के हम्मा मुख्यालय में आयोजित समारोह के बाद पत्रकारों को यह जानकारी दी. पवार ने कहा कि कैप्टन आशुतोष कुमार और सेना के दो जवान भी रविवार को शहीद हुए.

यह भी पढ़ें-Jammu-Kashmir: पाकिस्तान ने एक बार फिर की नापाक हरकत, पुंछ जिले में किया सीज फायर का उल्लंघन

एलओसी पर घुसपैठ की घटनाओं को लेकर उन्होंने कहा, पिछले साल एलओसी पार करके इस तरफ आए 135 से 140 आतंकवादियों की तुलना में इस साल केवल 25 से 30 आतंकवादी ही आ पाए हैं. हमारी घुसपैठ के खिलाफ ग्रिड बहुत मजबूत है. रविवार को की गई घुसपैठ एक बड़ी कोशिश थी जिसे सतर्क सैनिकों ने नाकाम कर दिया था.

यह भी पढ़ें-भारतीय सेना ने फिर तबाह किए लश्कर और जैश के आतंकी कैंप, नौशेरा में पाकिस्तान ने किया सीज फायर उल्लंघन

भविष्य में होने वाली घुसपैठ को लेकर अधिकारी ने कहा कि पाकिस्तान क्षेत्र में नियंत्रण रेखा के पार विभिन्न लॉन्च पैड पर 250 से 300 आतंकवादी मौजूद हैं, जो सर्दियों में बर्फ से पहले भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ करने की कोशिश कर सकते हैं.

First Published : 09 Nov 2020, 05:02:50 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.