News Nation Logo
Banner

देश में बच्चों को कब से लगेगी कोरोना वैक्सीन? AIIMS डॉयरेक्टर डॉ. गुलेरिया का जवाब

डॉ. गुलेरिया (AIIMS Director Dr. Randeep Guleria) ने कहा कि भारत बायोटेक और दूसरी कंपनियां वैक्सीन के तेजी के साथ परीक्षण कर रही हैं. 

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 23 Jun 2021, 10:27:33 PM
AIIMS Director Dr. Randeep Guleria

AIIMS Director Dr. Randeep Guleria (Photo Credit: ANI)

highlights

  • कोरोना संक्रमण ( Corona) की दूसरी लहर देश में भारी तबाही मचा चुकी है
  • बच्चों के लिए फाईजर वैक्सीन को FDA का अप्रूवल मिल चुका:  डॉ. गुलेरिया 
  • भारत में पिछले 24 घंटों में कोविड के 50,848 नए मामले दर्ज किए गए हैं

नई दिल्ली:

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर (second wave of coronavirus) देश में भारी तबाही मचा चुकी है. हालांकि संक्रमण की रफ्तार थमने से देश ने राहत की सांस जरूर ली है, लेकिन अभी तीसरी लहर का खतरा लगातार बना हुआ है. यही वजह है कि केंद्र व राज्य सरकारें कोरोना की तीसरी लहर को रोकने के प्रयासों में जी जान से जुटी हैं. इस बीच दिल्ली एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ( AIIMS Director Dr. Randeep Guleria) ने बच्चों के वैक्सीनेशन को लेकर बड़ा बयान दिया है. डॉ. गुलेरिया (Dr. Randeep Guleria) का कहना है कि बच्चों के लिए फाईजर वैक्सीन को एफडीए का अप्रूवल मिल चुका है. इसके साथ ही इस वैक्सीन को भारत में आने की अनुमति में भी मिल गई है. डॉ. गुलेरिया ने कहा कि भारत बायोटेक और दूसरी कंपनियां वैक्सीन के तेजी के साथ परीक्षण कर रही हैं. 

यह भी पढ़ें: महाराष्ट्र: मुंबई मंत्रालय को बम से उड़ाने की धमकी देने के आरोप में एक गिरफ्तार

सबसे पहले बुजुर्गों को वैक्सीन लगानी चाहिए

एक्स के डायरेक्टर ने कहा कि पूरी संभावना जताई जा रही है कि परीक्षण जल्द ही पूरा हो जाएगा. उन्होंने कहा कि हमारे पास सितंबर तक डेटा उपलब्ध होगा. इसके साथ ही यह भी उम्मीद जताई जा रही है कि उस समय तक वैक्सीन को मंजूरी भी मिल जाएगी. उन्होंने कहा कि सितंबर-अक्टूबर आते-आते हमारे पास बच्चों को लगाने वाले टीके उपलब्ध होंगे. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि बच्चों में कोरोना की बीमारी काफी हल्की है, इसलिए हमें सबसे पहले बुजुर्गों को वैक्सीन लगानी चाहिए, क्योंकि वो पहले से ही किसी न किसी बीमारी से ग्रसित होते हैं. उन्होंने कहा कि तीसरी लहर हम पर निर्भर है. अगर हम इससे बचना चाहते हैं तो हमें 2-3 चीजें करने की जरूरत है. एक है आक्रामक रूप से कोरोना गाइडलाइन का पालन करें. दूसरा, हमारे पास बहुत अच्छी निगरानी होनी चाहिए और तीसरा टीकाकरण के लिए आक्रामक रूप से आगे बढ़ना चाहिए.

यह भी पढ़ें: अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के भाई इकबाल कासकर को NCB ने किया गिरफ्तार

भारत में पिछले 24 घंटों में कोविड के 50,848 नए मामले दर्ज किए

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा बुधवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, भारत में पिछले 24 घंटों में कोविड के 50,848 नए मामले दर्ज किए गए हैं, जिससे देश में कुल कोरोना मामलों की संख्या तीन करोड़ को पार कर गई है. वहीं अब देश में इस महामारी से मरने वालों की संख्या में कमी आ रही है. बीते 24 घंटे में कोरोना से 1358 लोगों की मौत हो गई. देश में कोविड-19 मामलों की कुल संख्या अब 3,00,28,709 हो गई है. भारत अमेरिका के बाद कोविड के तीन करोड़ से अधिक मामले दर्ज करने वाला दूसरा देश बन गया है. भारत में पिछले 50 दिनों में एक करोड़ से ज्यादा मामले सामने आए. देश में 3 मई को 2 करोड़ से ज्यादा लोग इस महामारी से संक्रमित हो चुके थे.

First Published : 23 Jun 2021, 10:01:57 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.