News Nation Logo

कोरोना के बाद भोजन संबंधी विकारों की सुनामी! कम खाने से ज्यादा बीमार पड़ रहे बच्चे-बुजुर्ग

इंग्लैंड (England) में एनोरेक्सिया और बुलीमिया (भोजन संबंधी विकार) का अनुभव करने वाले लोगों की संख्या दिनों दिन बढ़ रही हैं. इस संबंध में मनोचिकित्सकों की ओर से चेतावनी दी गई है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 13 Feb 2021, 01:14:10 PM
Food disorders

प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • कोरोना के बाद भोजन संबंधी विकारों की सुनामी!
  • कम खाने से ज्यादा बीमार पड़ रहे बच्चे-बुजुर्ग
  • मनोचिकित्सकों की ओर से दी गई चेतावनी

नई दिल्ली:

इंग्लैंड (England) में एनोरेक्सिया और बुलीमिया (भोजन संबंधी विकार) का अनुभव करने वाले लोगों की संख्या दिनों दिन बढ़ रही हैं. इस संबंध में मनोचिकित्सकों की ओर से चेतावनी दी गई है. मनोचिकित्सकों (Psychiatrists) ने चेताया है कि कोरोना वायरस (Corona Virus) के बाद इंग्लैंड में भोजन संबंधी विकारों की सुनामी आएगी. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, रॉयल कॉलेज ऑफ साइकियाटिस्ट्स में ईटिंग डिसऑर्डर फैकल्टी की अध्यक्ष डॉ. एग्नेस एयटन कहती हैं कि भोजन संबंधी विकारों (Food disorders) की समस्याओं का सामना करने वाले लोगों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है.

यह भी पढ़ें : दुनियाभर में कोरोना मामलों की संख्या 10.8 करोड़ के पार : जॉन्स हॉपकिन्स 

लोगों के अंदर एनोरेक्सिया जैसे लक्षण लॉकडाउन में अलगाव की वजह से पनपे हैं. एयटन का यह भी कहना है कि आने वाले दिनों इस बीमारी से ग्रसित मरीजों की संख्या में तेजी से बढ़ेगी. उन्होंने कहा कि हाल ही में करीब 20 फीसदी लोग इस बीमारी की चपेट में आ गए हैं. इन मरीजों को ऑक्सफोर्ड में भर्ती कराया गया था.

यह भी पढ़ें : पूरी दुनिया को अपनी चपेट में लेगा कोरोना वायरस का ब्रिटेन वेरिएंट: वैज्ञानिक 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, ऑक्सफोर्ड की ओर से गुरुवार को अलग से इस संबंध में डाटा जारी किया गया है. इस डाटा के अनुसार, युवा और बच्चों के अंदर भोजन संबंधी विकार लगातार पनप रहे हैं. स्थिति यह हो गई है कि अब इलाज के लिए इन मरीजों को इंतजार करना पड़ रहा है. इस बीमारी से ग्रसित मरीजों की भीड़ अस्पतालों में बढ़ रही है. पिछले साल की तुलना में अभी इंतजार करने वाले मरीजों की संख्या में 428 फीसदी का इजाफा हुआ है. बताया जा रहा है कि 2019 से तत्काल उपचार की प्रतीक्षा कर रहे बच्चों और युवाओं की संख्या में एक साल बाद इसी महीने की तुलना में चार गुना वृद्धि दर्ज की गई है.

और भी पढ़ें- 

वैक्सीन डिप्‍लोमेसी के साथ सहयोगी देशों का दिल जीतने में लगा भारत

कोरोना वायरस के बाद फैली यह रहस्यमयी बीमारी, मौत से पहले होती है खून की उल्टियां

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 13 Feb 2021, 01:14:10 PM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.